पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Business
  • Stock Market BSE NSE Nifty Today: Market Capitalization Of Listed Companies Reduce By 4.38 Lakh Crore In Two Days

मार्केट कैप 4.38 लाख करोड़ घटा:सेंसेक्स 52 हजार के करीब पहुंचा, दो दिनों में 1,097 अंकों की गिरावट, गिरावट वाले शेयरों में करें खरीदारी

मुंबई2 महीने पहलेलेखक: अजीत सिंह
  • कॉपी लिंक
  • कल बाजार बकरीद के अवसर पर बंद रहेगा, इसलिए अब गुरुवार को ट्रिगर दिखेगा
  • ब्रोकरेज हाउसों ने SBI, HDFC और ICICI बैंक के शेयरों में दांव लगाने की सलाह दी है

भारतीय शेयर बाजार पर ग्लोबल शेयर बाजारों की बिकवाली हावी हो गई है। हफ्ते के पहले दो दिनों में जमकर गिरावट दिखी है। इन दो दिनों में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) के अंकों में 1,097 की गिरावट आई है। जबकि इसी दौरान लिस्टेड कंपनियों का मार्केट कैप 4.39 लाख करोड़ रुपए घट गया है। कल बाजार बकरीद के अवसर पर बंद रहेगा। इसलिए अगला ट्रिगर गुरुवार को दिखेगा।

सोमवार को 586 अंकों की गिरावट

सोमवार को सेंसेक्स में 586 अंकों की गिरावट आई थी जबकि मंगलवार को भी इसमें 530 से ज्यादा अंकों की गिरावट आई है। शुक्रवार को सेंसेक्स 53,140 के लेवल पर बंद हुआ था जो मंगलवार को 52,040 के लेवल पर पहुंच गया है। यही हाल नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (निफ्टी) का भी है। इसमें भी दो दिनों में 300 से ज्यादा अंकों की गिरावट आई है। शुक्रवार को यह 15,923 पर बंद हुआ था जो मंगलवार को 15,590 पर आ गया है। सोमवार को पिछले तीन महीनों की सबसे बड़ी गिरावट बाजार में रही है।

मार्केट कैप 230 लाख करोड़ रुपए हुआ

शुक्रवार को BSE का कुल मार्केट कैप 234.38 लाख करोड़ रुपए था, जो मंगलवार को 230 लाख करोड़ रुपए पर आ गया है। बाजार की गिरावट में फाइनेंशियल और बैंकिंग शेयरों का भारी योगदान है। यहां तक कि अच्छे रिजल्ट के बाद भी HDFC बैंक का शेयर दो दिनों में 5% से ज्यादा टूटा है। ICICI बैंक, कोटक महिंद्रा, SBI, इंडसइंड बैंक, कैनरा बैंक और सेंट्रल बैंक जैसे शेयर जमकर टूटे हैं। इनमें 5% तक की गिरावट दो दिनों में आई है।

बाजार की गिरावट का कारण

बाजार की गिरावट का प्रमुख कारण ग्लोबल बाजारों में बिकवाली है। बैंकों के अलावा, मेटल, टेलीकॉम, रियल्टी और पावर सेक्टर ने बाजारों पर दबाव बनाया है। डेल्टा के नए वेरिएंट ने विदेशी बाजारों पर दबाव बनाया है। मेटल शेयरों में सेल में 4.47, जिंदल स्टील 3%, टाटा स्टील और JSW स्टील में 2-2% की गिरावट आई है।

इन शेयरों में करें खरीदारी

आईसीआईसीआई डायरेक्ट ने चीनी शेयरों को खरीदने की सलाह दी है। इन शेयरों में अगले 1 साल में 50% तक का फायदा मिलने की उम्मीद है। इन शेयरों में बलरामपुर, धामपुर, द्वारिकेश, अवध शुगर जैसे शेयरों को शामिल किया गया है। ढेर सारे ब्रोकरेज हाउसों ने SBI, HDFC और ICICI बैंक के शेयरों में दांव लगाने की सलाह दी है। हालांकि कुछ विश्लेषकों ने जिन शेयरों में फायदा हुआ है, उसमें मुनाफा वसूली करने की सलाह दी है। वैसे विश्लेषकों का मानना है कि बाजार लंबे समय में अच्छा प्रदर्शन करेगा, पर फिलहाल अस्थाई तौर पर इसमें उतार-चढ़ाव बने रह सकते हैं।

पहली लहर के बाद बाजार में रही तेजी

कोरोना की पहली लहर में बाजारों में जमकर गिरावट दिखी थी और बीएसई का सेंसेक्स 26 हजार के नीचे चला गया था। हालांकि उसके बाद सुधारों के तमाम कदम और राहत की वजह से बाजार ने दोगुना बढ़त हासिल की। यह 53 हजार के अपने ऐतिहासिक लेवल को भी छू गया। पर इसमें बीच-बीच में भारी उतार-चढ़ाव भी आते रहे हैं।