• Hindi News
  • Business
  • Title; Stock Market; Market Capitalization Of Listed Companies Expected To Be Rs 260 Lakh Crore

मार्केट कैप 260 लाख करोड़ होने की उम्मीद:नई कंपनियां मार्केट कैप में 22 लाख करोड़ रुपए जोड़ सकती हैं, LIC जोड़ेगी 10 लाख करोड़

मुंबई2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • जोमैटो ने मार्केट कैप में 1 लाख करोड़ रुपए जोड़ा है
  • इस साल कुल 38 कंपनियों ने इश्यू लाया है

अगले 12-18 महीनों में शेयर बाजार में लिस्ट होने वाली नई कंपनियां 22 लाख करोड़ रुपए मार्केट कैप में जोड़ सकती हैं। इसमें से अकेले LIC 10 लाख करोड़ रुपए जोड़ सकती है। इससे BSE में लिस्टेड कुल कंपनियों का मार्केट कैप 260 लाख करोड़ रुपए हो सकता है।

BSE में लिस्टेड कंपनियों का मार्केट कैप 240.86 लाख करोड़

अभी BSE में लिस्टेड कंपनियों का मार्केट कैप 240.86 लाख करोड़ रुपए है। क्रेडिट सुइस के एक अनुमान के मुताबिक, आने वाले 12 से 18 महीनों में जो कंपनियां IPO लेकर आएंगी, उनका मार्केट कैप 12 लाख करोड़ रुपए के करीब हो सकता है। अगर अगले साल मार्च तक भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) का IPO आने की उम्मीद है। LIC मार्केट कैप में 10 लाख करोड़ रुपए के करीब जोड़ सकती है।

भारतीय IPO का बाजार काफी मजबूत है

इस समय भारतीय IPO का बाजार काफी मजबूत है। हाल में जो नई कंपनियां लिस्ट हुई हैं, उन्होंने 3.60 लाख करोड़ रुपए मार्केट कैप में जोड़ा है। इसमें जोमैटो का मार्केट कैप 1 लाख करोड़ रुपए रहा है। क्रेडिट सुइस का कहना है कि IPO के अलावा दूसरे रास्तों से पैसे जुटाने की गति अभी भी धीमी है। रिटेल और म्यूचुअल फंड में तेजी से पैसा आ रहा है।

फाइनेंशियल सेगमेंट के ज्यादा इश्यू आएंगे

स्विस ब्रोकरेज फर्म ने कहा है कि आने वाले IPO ज्यादातर खपत और फाइनेंशियल सेगमेंट के हो सकते हैं। इस साल में अब तक IPO से 72,755 करोड़ रुपए की रकम जुटाई गई है। कैलेंडर साल के लिहाज से सबसे ज्यादा पैसा जुटाने के मामले में यह दूसरा बेहतरीन साल रहा है। अभी भी इस साल में 4 महीने बाकी हैं। जबकि इसी दौरान 89 हजार करोड़ रुपए के IPO के लिए सेबी के पास DRHP फाइल किया गया है। ये IPO मार्केट कैप में 3.71 लाख करोड़ रुपए जोड़ सकते हैं।

प्राइवेट इक्विटी फंड ने भी जुटाया पैसा

ब्रोकरेज हाउस क्रेडिट सुइस ने कहा है कि प्राइवेट इक्विटी फंड के जरिए इस साल की पहली छमाही में 18.6 अरब डॉलर की रकम जुटाई गई थी भारतीय रिजर्व बैंक ने कहा है कि 2021 भारत का IPO का साल हो सकता है। खासकर नई उम्र की कंपनियां और फाइनेंशियल एवं पेमेंट कंपनियों को अच्छी सफलता मिल रही है।

इस साल कुल 38 इश्यू आए हैं

इस साल कुल 38 IPO आए हैं। इसमें से 34 की लिस्टिंग हो चुकी है। 4 की लिस्टिंग बाकी है। इसमें ज्यादा रिटर्न देने वाले में बार्बीक्यू नेशन का शेयर इश्यू प्राइस से 126% ऊपर कारोबार कर रहा है। पिछले साल हैप्पिएस्ट माइंड का IPO आया था। यह 7.48 गुना का रिटर्न निवेशकों को दिया है। जोमैटो का IPO हाल में आया था। इसका शेयर 80% ऊपर कारोबार कर रहा है।