• Hindi News
  • Business
  • Stock Market Record High; Shareholder Invest Rs 5,988 Crore In Equity Funds In June Month

शेयर बाजार की बढ़त का असर:इक्विटी म्यूचुअल फंड में निवेशकों ने जून में लगाया 5,988 करोड़, मई की तुलना में आधा निवेश रहा

मुंबई3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • मई में कुल 10 हजार 82 करोड़ रुपए का निवेश इक्विटी फंड में किया गया था
  • हाइब्रिड कैटेगरी में केवल 301 करोड़ रुपए की निकासी की गई है

शेयर बाजार की ऊंचाई का असर अब इक्विटी म्यूचुअल फंड्स पर दिखने लगा है। जून महीने में निवेशकों ने इक्विटी फंड में 5,988 करोड़ रुपए लगाए हैं। मई महीने की तुलना में यह आधा है। मई में कुल 10 हजार 82 करोड़ रुपए का निवेश किया गया था। जून महीने में डेट में 3,466 करोड़ रुपए का निवेश किया है।

इक्विटी म्यूचुअल फंड का पैसा शेयर बाजार में लगता है

दरअसल इक्विटी म्यूचुअल फंड में जो पैसा आता है वह शेयर बाजार में लगता है। इस समय शेयर बाजार अपनी ऐतिहासिक ऊंचाई पर है। इसलिए निवेशकों ने फायदा कमाने के लिए पैसा निकाल लिया है। डेट का मतलब कि आपके पैसे को एफडी, कॉर्पोरेट के पेपर्स, सरकार के बांड आदि में निवेश किया जाता है। यहां पर फिक्स ब्याज मिलता है।

एंफी ने जारी किया आंकड़ा

एसोसिएशन ऑफ म्यूचुअल फंड्स इन इंडिया (एंफी) ने गुरुवार को आंकड़ा जारी किया। इसके मुताबिक, मासिक आधार पर इक्विटी फंड में 50% की गिरावट आई है। दूसरी ओर डेट फंड में निवेशक पैसा लगा रहे हैं। इक्विटी में स्माल कैप में पिछले कुछ महीनों में जबरदस्त तेजी देखी गई है। स्माल कैप में 705 करोड़ रुपए जून में निवेश किया गया है। मई में 1,080 करोड़ रुपए निकाले गए थे।

मल्टीकैप फंड में 660 करोड़ आया

आंकड़े बताते हैं कि मल्टीकैप फंड में जून महीने में 660 करोड़ रुपए आया जबकि इसी दौरान 450 करोड़ रुपए निकाल भी लिए गए। मतलब 209 करोड़ रुपए का शुद्ध निवेश हुआ। लार्ज कैप में 3,795 करोड़ रुपए का निवेश हुआ, पर 3,247 करोड़ रुपए निकाल लिए गए। यानी 547 करोड़ का निवेश हुआ। लार्ज और मिड कैप फंड में 800 करोड़ रुपए शुद्ध रूप से आया तो मिड कैप फंड में 1,729 करोड़ रुपए आया।

वैल्यू फंड से 114 करोड़ रुपए की निकासी

वैल्यू फंड से 114 करोड़ रुपए की निकासी हुई तो फोकस्ड फंड में 569 करोड़ रुपए आए। सेक्टरल फंड में 1207 करोड़ रुपए आया है। इक्विटी सेविंग लिंक्ड स्कीम (ईएलएसएस) से 791 करोड़ रुपए निकाले गए हैं। फ्लैक्सी कैप फंड में 1,087 करोड़ रुपए आया है। म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री में जून में कुल 15,320 करोड़ रुपए का निवेश किया गया है। जबकि मई में 38 हजार 602 करोड़ रुपए का निवेश किया गया था।

लो ड्यूरेशन में 6,273 करोड़ आया

डेट फंड में लो ड्यूरेशन में 6,273 करोड़ रुपए आया है। फ्लोटर फंड में 6,318 करोड़ रुपए का निवेश आया है। ओवरनाइट फंड में 4,460 करोड़ रुपए का निवेश हुआ तो लिक्विड फंड में 2,078 करोड़ रुपए आए हैं। बैंकिंग एंड पीएसयू फंड में 1,357 करोड़ रुपए का निवेश हुआ है। हालांकि मनी मार्केट फंड से 13,987 करोड़ रुपए निकाले गए हैं। अल्ट्रा शार्ट ड्यूरेशन से 2,439 करोड़ रुपए निकाले गए हैं। शार्ट ड्यूरेशन फंड से 1,056 करोड़ रुपए और गिल्ट फंड से 538 करोड़ रुपए निकाले गए हैं।

कंजर्वेटिव हाइब्रिड में 634 करोड़ आया

हाइब्रिड कैटेगरी की बात करें तो कंजर्वेटिव हाइब्रिड में 634 करोड़ रुपए आए हैं जबकि डायनॉमिक असेट अलोकेशन में 2,056 करोड़ रुपए आया है। आर्बिट्रेज फंड मे सबसे ज्यादा 9,059 करोड़ रुपए का निवेश हुआ है। इसमें केवल बैलेंस्ड हाइब्रिड से 301 करोड़ रुपए की निकासी की गई है।