• Hindi News
  • Business
  • Tata Group BigBasket Deal Latest Today Update; Here's All You Need To Know

अंबानी और अमेजन को मिलेगी टक्कर:बिग बास्केट में टाटा ग्रुप खरीद सकता है 20 पर्सेंट हिस्सेदारी, साथ ही बोर्ड में दो सीट भी ले सकता है, रिटेल डिलिवरी में होगी पहुंच

मुंबईएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
कोरोना की वजह से ई-ग्रोसरी के कारोबार में इस साल के जनवरी की तुलना में जून में 1.7 गुना की तेजी आई है। टाटा ग्रुप के बिग बास्केट में हिस्सेदारी खरीदने से कई कंपनियों को टक्कर मिलेगी - Dainik Bhaskar
कोरोना की वजह से ई-ग्रोसरी के कारोबार में इस साल के जनवरी की तुलना में जून में 1.7 गुना की तेजी आई है। टाटा ग्रुप के बिग बास्केट में हिस्सेदारी खरीदने से कई कंपनियों को टक्कर मिलेगी
  • बिग बास्केट में टाटा ग्रुप की डील इस महीने के अंत तक पूरी हो सकती है
  • 152 साल पुराना टाटा ग्रुप वालमार्ट के साथ भी कुछ समय से बात कर रहा है

बिग बास्केट में टाटा ग्रुप 20 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीद सकता है। इसके साथ ही वह बिग बास्केट के बोर्ड में दो सीट ले सकता है। ऑन लाइन ग्रोसरी यूनिकॉर्न बिग बास्केट में यह डील इस महीने के अंत तक पूरी होने की उम्मीद है। अगर यह डील हो जाती है तो जियो मार्ट और अमेजन को टक्कर मिलेगी। सूत्रों के मुताबिक कॉफी से कार बनाने वाला टाटा ग्रुप बिग बास्केट के साथ बात कर रहा है।

बिग बास्केट मूलरूप से चीन के अलीबाबा ग्रुप द्वारा सपोर्टेड है। कोविड-19 में इसने ग्राहकों के साथ अच्छी खासी डील की है। रोजाना की जरूरत की सामानों की डिलिवरी ग्राहकों को की है।

कई और निवेशकों से बिग बास्केट की हो रही थी बात

ऑन लाइन ग्रोसरी रिटेलर बिग बास्केट इससे पहले सिंगापुर सरकार के टीमसेक, अमेरिका की जनरेशन पार्टनर्स, फिडेलिटी और अन्य के साथ बात-चीत कर रही थी। कंपनी 35 से 40 करोड़ डॉलर की रकम जुटाना चाहती है। इससे इसकी वैल्यूएशन 33 पर्सेंट बढ़कर 2 अरब डॉलर (15 हजार करोड़ रुपए) हो सकती है।

डिजिटल डिलिवरी में मचेगा कंपटीशन

यह डील अगर हो जाती है तो इससे सीधे-सीधे मुकेश अंबानी और अमेजन को टक्कर मिलेगी। क्योंकि यह दोनों कंपनियां डिजिटल डिलिवरी करती हैँ। इसके बाद टाटा ग्रुप भी इसी कारोबार में आ जाएगा। इससे पहले अगस्त में मुकेश अंबानी की रिलायंस रिटेल ने किशोर बियानी की रिटेल कंपनी और होलसेल बिजनेस फ्यूचर ग्रुप को खरीदा था। इसका ब्रांड और सप्लाई चेन जियो मार्ट को सपोर्ट करेगा। इससे जियो मार्ट की पहुंच 420 शहरों तक हो जाएगी और 1,800 स्टोर्स हो जाएंगे।

रिलायंस रिटेल देश के 2 लाख करोड़ रुपए के रिटेल कारोबार में एक मजबूत कंपनी के रूप में उभरी है।

रिलायंस रिटेल में इस समय आ रहे हैं निवेशक

जियो की तरह ही रिलायंस रिटेल में भी इस समय वैश्विक स्तर के निवेशक निवेश कर रहे हैं। अब तक 37 हजार करोड़ से ज्यादा का निवेश आ चुका है। टाटा ग्रुप भी ऑन लाइन मौजूदगी पर काम कर रहा है। 152 साल पुराना टाटा ग्रुप वालमार्ट के साथ भी बात कर रहा है। यह 25 अरब डॉलर वालमार्ट में निवेश करने की योजना बना रहा है। इसक लिए यह सुपर ऐप में हिस्सेदारी लेगा जो वालमार्ट का ऑन लाइन प्लेटफॉर्म है।

यह प्लेटफॉर्म फैशन, लाइफ स्टाइल और इलेक्ट्रॉनिक्स, फूड एवं ग्रोसरी, बीमा और वित्तीय सेवाओं में शामिल है। कोरोना की वजह से ई-ग्रोसरी के कारोबार में इस साल के जनवरी की तुलना में जून में 1.7 गुना की तेजी आई है।