ऑटो सेक्टर / अपने डीजल सेगमेंट से छोटी कारों को हटाने पर विचार कर रही टाटा मोटर्स



प्रतीकात्मक फोटो प्रतीकात्मक फोटो
X
प्रतीकात्मक फोटोप्रतीकात्मक फोटो

  • कंपनी के मुताबिक- छोटी कारों के सेगमेंट में 80 फीसदी डिमांड पेट्रोल कारों की 
  • अधिकारी ने कहा- बीएस-6 नियमों के अनुसार छोटी कारों के लिए डीजल इंजन बनाना महंगा होगा

Dainik Bhaskar

May 05, 2019, 01:54 PM IST

नई दिल्ली. टाटा मोटर्स अपने डीजल सेगमेंट से छोटी कारों को हटाने पर विचार कर रही है। कंपनी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि छोटी गाड़ियों के लिए नए एमिशन नॉर्म्स बीएस-6 के हिसाब से डीजल इंजन डेवलप करना फायदेमंद नहीं होगा, क्योंकि इसमें ज्यादा खर्च आता है। उनका कहना है कि कंपनी ऐसा करती है तो इससे गाड़ियों के दाम बढ़ेंगे और उनकी डिमांड कम रहेगी। कंपनी के मुताबिक- छोटी कारों के सेगमेंट में 80 फीसदी डिमांड पेट्रोल कारों की है। 
 

डीजल कारों की बिक्री बंद करने का ऐलान कर चुकी है मारुति सुजुकी

  1. टाटा मोटर्स का यह बयान देश की सबसे बड़ी कार कंपनी मारुति सुजुकी की तरफ से अप्रैल 2020 से डीजल गाड़ियों की बिक्री बंद करने के ऐलान के बाद आया है। मारुति सुजुकी ने कहा था कि वह नए एमिशन नॉर्म्स लागू होने के बाद डीजल गाड़ियों की बिक्री बंद करेगी, क्योंकि नए मानकों के हिसाब से डीजल इंजन को अपग्रेड करने में मोटी रकम खर्च होगी। 

  2. टाटा मोटर्स के पैसेंजर व्हीकल बिजनेस यूनिट के प्रेसीडेंट मयंक पारीक ने कहा कि नए एमिशन नॉर्म्स के लागू होने से छोटी डीजल गाड़ियों के मामले में कंप्लायंस महंगा हो जाएगा। हमें ऊंची लागत का बोझ आखिरकार ग्राहकों पर डालना होगा, इसलिए स्वाभाविक रूप से डीजल गाड़ियों की सेल में गिरावट आएगी। 

  3. इंडस्ट्री के दिग्गजों का कहना है कि डीजल अब भी सस्ता है और ज्यादा माइलेज देता है, लेकिन बीएस-6 पर खरा उतरने वाली गाड़ियां बनाने में जितना खर्च आएगा, उस अनुपात में डीजल गाड़ियों से अभी मिल रहे फायदे में बढ़ोतरी नहीं होगी। हालांकि, उनका यह भी कहना है कि नए मानक लागू होने के बाद मार्केट की स्थिति क्या रहेगी, इसके बारे में अभी कुछ कहना जल्दबाजी होगी।

  4. फोर्ड का दावा- कंपनी नए मानकों के मुताबिक अपनी कारों को अपग्रेड करेगी

    उधर, फोर्ड का कहना है कि वह देश में डीजल कारों को पहले की तरह से बेचती रहेगी। कंपनी इको स्पोर्ट्स और एंडेवर जैसे मॉडल बना रही है। कंपनी का कहना है कि वह नए मानकों के हिसाब से अपनी कारों को 1 अप्रैल 2020 से पहले अपग्रेड करने को तैयार है। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना