पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Business
  • Tata Steel White Collar Employees To Shift From WFH Mode To Work from anywhere

वर्क फ्रॉम एनिवेयर:देश की सबसे बड़ी स्टील कंपनी के कर्मचारी अब देश-दुनिया में कहीं से भी बैठकर कर सकेंगे दफ्तर का काम

नई दिल्ली10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • देश भर में टाटा स्टील में लगभग 32,000 स्थायी और 55 हजार अस्थायी कर्मचारी काम करते हैं

देशभर में कोरोना के मामलों में वृद्धि जारी है। ऐसे में देश की सबसे बड़ी स्टील कंपनी टाटा स्टील ने अपने कर्मचारियों के लिए 'वर्क फ्रॉम एनिवेयर' (Work from anywhere) पॉलिसी लागू करने जा रही है। यानी की टाटा स्टील के कर्मचारी देश या दुनिया में कहीं से भी काम कर सकेंगे। कंपनी की यह व्यवस्था महामारी खत्म होने के बाद भी जारी रहेगी।

कंपनी की यह पॉलिसी इसी माह नवंबर से लागू हो रही है। बता दें कि देश भर में टाटा स्टील में लगभग 32,000 स्थायी और 55 हजार अस्थायी कर्मचारी काम करते हैं। इस समय दफ्तर से कुल 7,000 कर्मचारी काम कर रहे हैं।

इससे कंपनी अतिरिक्त खर्च का बचत कर सकेगी

ईटी की रिपोर्ट के मुताबिक, कंपनी शुरुआत में सिर्फ 10 फीसदी कर्मचारियों को ही रिमोट वर्क की अनुमति देगी। बाद में कंपनी अपने कर्मचारियों की संख्या बढ़ाकर 30 फीसदी तक करेगी। अन्य स्टाफ को अनलिमिटेड वर्क फ्रॉम होम (WFH) ऑप्शन मिलेगा।

हालांकि उनके लिए यह शर्त रखा जाएगा कि वे उसी शहर में रहें जहां उन्हें नौकरी मिली है। बता दें कि कंपनी की वर्क फ्रॉम एनिवेयर पॉलिसी से दफ्तर के खर्च में भारी बचत होगी।इसके अलावा कंपनी सभी कर्मचारियों को डिजिटली तौर पर सक्षम बनाने पर काम कर रही है ताकि आने वाले दिनों में वे दूर काम कर सके।

माइक्रोसाफ्ट और टीसीएस ने भी किया WFH

उधर, हाल ही में दिग्गज सॉफ्टवेयर कंपनी माइक्रोसॉफ्ट ने अपनी वर्क फ्रॉम होम पॉलिसी में विस्तार का ऐलान किया। कंपनी ने कई लोगों के लिए वर्क फ्रॉम होम को स्थायी कर दिया है। कंपनी की ओर से जारी हाइब्रिड वर्क प्लेस गाइडेंस में बताया गया है कि कर्मचारी कैसे फ्लैक्सिबल रिमोट वर्क शेड्यूल तय कर सकते हैं? साथ ही कर्मचारी देश में कहीं भी लोकेशन बदल सकते हैं। कोरोना महामारी के बीच पैदा हुई चुनौतियों से निपटने के लिए पॉलिसी में यह बदलाव किया गया है।

पूरी खबर पढ़ें...साल में आधे दिन घर से काम कर सकेंगे माइक्रोसॉफ्ट के कर्मचारी

बता दें कि हाल ही देश की सबसे बड़ी सॉफ्टवेयर सेवा प्रदाता कंपनी टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) ने 25X25 विजन को पेश किया था। इस विजन का मतलब यह है कि आने वाले वर्षों में कंपनी एक नई कार्यसंस्कृति अपनाने जा रही है। इसके तहत किसी भी समय में कंपनी के कार्यालय परिसर में सिर्फ 25 फीसदी कर्मचारी ही काम करेंगे। बाकी कर्मचारी घर से काम करेंगे। यह कार्यसंस्कृति 2025 तक लागू हो जाएगी। साथ ही कंपनी के किसी भी कर्मचारी को अपनी पूरी क्षमता से काम करने के लिए 25 फीसदी से ज्यादा वक्त कार्यालय परिसर में बिताने की जरूरत नहीं होगी।

पूरी खबर पढ़ें- टीसीएस को मिला 25X25 का विजन, सिर्फ 25 फीसदी कर्मचारी ही ऑफिस से करेंगे काम

इंफोसिस के 80 हजार कर्मचारी परमानेंट 'WFH' करेंगे

देश की दूसरी सबसे बड़ी सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) कंपनी इंफोसिस के अब 33 फीसदी कर्मचारी हमेशा के लिए घर से काम कर सकेंगे। यह कंपनी के कुल वर्कफोर्स का 33 फीसदी है। वैश्विक स्तर पर कंपनी में कुल 2 लाख 42 हजार 371 कर्मचारी काम करते हैं। इनमें से अब 80 हजार कर्मचारियों को परमानेंट घर से काम करने की छूट दे दी गई है। अभी कुछ दिन पहले ही कंपनी ने इसकी घोषणा की थी।

पूरी खबर पढ़ें- अब इंफोसिस के 80 हजार कर्मचारी परमानेंट 'वर्क फ्रॉम होम' करेंगे, कुल वर्कफोर्स का यह 33 फीसदी

WFH पर की गई ये रिसर्च रिपोर्ट भी पढ़ सकते हैं- आईटी, मीडिया और लॉजिस्टिक्स समेत अन्य सेक्टर के कर्मचारी घर से ही करना चाहते हैं काम; अब नहीं लौटना चाहते दफ्तर

सर्वे में खुलासा:अब घर से काम करने की बजाय ऑफिस जाना चाहते हैं कर्मचारी, 82% कर्मचारियों ने कहा ऑफिस को मिस कर रहे हैं

खबरें और भी हैं...