पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Business
  • Tech Mahindra Poste Net Profit Of 1081 Crore On YOY, Announces Dividend Of Rs 30 Per Share

टेक महिंद्रा को 1081 करोड़ रुपए का प्रॉफिट:पिछले साल के मुकाबले 34.5% बढ़ा मुनाफा, निवेशकों को 30 रुपए प्रति शेयर का डिविडेंड

नई दिल्ली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • जनवरी-मार्च 2021 में कंपनी का कुल रेवेन्यू 9,729.9 करोड़ रुपए रहा
  • एचडीएफसी लाइफ इंश्योरेंस को 319 करोड़ रुपए का नेट प्रॉफिट

महिंद्रा ग्रुप की सब्सिडियरी टेक महिंद्रा ने सोमवार को वित्त वर्ष 2020-21 की चौथी तिमाही के वित्तीय नतीजे घोषित कर दिए। कंपनी को जनवरी-मार्च 2021 तिमाही में 1081.4 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ है। एक साल पहले की समान अवधि के 803.9 करोड़ रुपए के मुकाबले मुनाफे में 34.51% का उछाल रहा है। हालांकि, तिमाही आधार पर मुनाफे में 17.4% की कमी रही है। अक्टूबर-दिसंबर 2020 तिमाही में कंपनी को 1309.8 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ था।

मार्च तिमाही में 9,729 करोड़ रुपए का रेवेन्यू मिला

स्टॉक एक्सचेंज को दी गई जानकारी के मुताबिक, मार्च 2021 तिमाही में टेक महिंद्रा का कुल रेवेन्यू 9,729.9 करोड़ रुपए रहा है। वार्षिक आधार पर रेवेन्यू में 2.5% और तिमाही आधार पर 0.85% का उछाल रहा है। एक साल पहले समान अवधि में कंपनी का रेवेन्यू 9,490.2 करोड़ रुपए रहा था। वहीं, दिसंबर 2020 तिमाही में कंपनी का रेवेन्यू 9,647.1 करोड़ रुपए रहा था। डॉलर के लिहाज से कंपनी के रेवेन्यू में वार्षिक आधार पर 2.7% और तिमाही आधार पर 1.6% की ग्रोथ रही है।

एबिट में 68.9% का उछाल

चौथी तिमाही में अर्निंग बिफोर इंटरेस्ट एंड टैक्स यानी एबिट में 68.7% का उछाल रहा है। मार्च 2021 तिमाही में कंपनी का एबिट 1603.7 करोड़ रुपए रहा है। एक साल पहले समान अवधि में कंपनी का एबिट 949.6 करोड़ रुपए था। मार्च तिमाही में एबिट मार्जिन 16.5% रहा है। जो एक साल पहले समान अवधि में 10% था।

शेयरहोल्डर्स को मिलेगा 30 रुपए प्रति शेयर का डिविडेंड

टेक महिंद्रा के बोर्ड ने शेयरहोल्डर्स को 30 रुपए प्रति शेयर का डिविडेंड देने की सिफारिश की है। इसमें 15 रुपए प्रति शेयर का स्पेशल डिविडेंड भी शामिल हैं। हालांकि, डिविडेंड को कंपनी के मेंबर्स की मंजूरी मिलनी बाकी है। इसके लिए कंपनी का एनुअल जनरल मीटिंग 11 अगस्त को होगी। तिमाही नतीजों से पहले बीएसई में कंपनी के शेयर 1.3% के उछाल के साथ 963 रुपए प्रति यूनिट पर बंद हुए हैं।

Q4 में किस इंडस्ट्री से कितना रेवेन्यू मिला

इंडस्ट्रीरेवेन्यू (%में)
कम्युनिकेशंस39.6
मैन्युफैक्चरिंग16.3
टेक्नोलॉजी, मीडिया, एंटरटेनमेंट9.3
बैंकिंग, फाइनेंशियल सर्विसेज, इंश्योरेंस16.5
रिटेल, ट्रांसपोर्ट, लॉजिस्टिक्स7.5
अन्य10.8

किस क्षेत्र से कितना रेवेन्यू मिला

क्षेत्ररेवेन्यू (%में)
अमेरिका45.5
यूरोप26.5
अन्य देश28.0

एचडीएफसी लाइफ इंश्योरेंस को 319 करोड़ रुपए का नेट प्रॉफिट

एचडीएफसी लाइफ इंश्योरेंस को चौथी तिमाही में 319.06 करोड़ रुपए का कंसोलिडेटिड नेट प्रॉफिट हुआ है। वार्षिक आधार पर प्रॉफिट में 2.3% की ग्रोथ रही है। मार्च 2021 तिमाही में कंपनी को 434.47 करोड़ रुपए का न्यू प्रीमियम कलेक्शन रहा है। एक साल पहले समान अवधि में न्यू प्रीमियम कलेक्शन 298.40 करोड़ रुपए रहा था।

9.8 लाख इंडिविजुअल पॉलिसी बेचीं

एचडीएफसी लाइफ इंश्योरेंस ने मार्च तिमाही में 9.8 लाख नई इंडिविजुअल पॉलिसी बेची हैं। वार्षिक आधार पर इसमें 10% की ग्रोथ रही है। वैल्यू ऑफ न्यू बिजनेस (NVB) 14% की ग्रोथ के साथ 2,185 करोड़ रुपए रही है। कंपनी के बोर्ड ने 2.02 रुपए प्रति शेयर के फाइनल डिविडेंड की सिफारिश की है। कोविड के लिए 165 करोड़ रुपए आरक्षित किए गए हैं। वित्त वर्ष 2021 में कंपनी ने कोविड-19 डेथ क्लेम के तौर पर 145 करोड़ रुपए का भुगतान किया है। जबकि कुल डेथ क्लेम के तौर पर 3,000 करोड़ रुपए से ज्यादा का भुगतान किया है।