• Hindi News
  • Business
  • The Best Performance Of The Indian Stock Market In The Month Of May, Gave A Return Of 6%, BSE NSE Share, BSE NSE Performer

दुनिया में सबसे ज्यादा रिटर्न:मई महीने में भारतीय शेयर बाजार का सबसे बेहतर प्रदर्शन, 6% का रिटर्न दिया

मुंबई5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • निफ्टी 3 मई को 14,634 पर बंद हुआ था। 31 मई को यह 15,606 पर बंद हुआ था
  • बाजार के बारे में अनुमान है कि दिसंबर तक सेंसेक्स 61 हजार को पार कर सकता है

भारतीय शेयर बाजार ने मई महीने में दुनिया के प्रमुख बाजारों की तुलना में सबसे बेहतर प्रदर्शन किया है। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज यानी निफ्टी ने इस दौरान 6% का रिटर्न निवेशकों को दिया है। निफ्टी 3 मई को 14,634 पर बंद हुआ था। 31 मई को यह 15,606 पर बंद हुआ था।

लगातार उतार-चढ़ाव बना हुआ है

भारतीय शेयर बाजार में मई महीने में लगातार उतार-चढ़ाव बना हुआ है। निफ्टी ने सोमवार को 15,606 के आंकड़े को छुआ जो अब तक का उसका सर्वोच्च स्तर है। हालांकि यह बंद होते समय 15,582 के लेवल पर बंद हुआ था। इसी के साथ भारतीय बाजार का पूरा मार्केट कैप भी 223 लाख करोड़ रुपए के करीब पहुंच गया है। बाजार ने तब अच्छा प्रदर्शन किया है जब विदेशी निवेशक लगातार पैसे निकाल रहे हैं।

FII निकाल रहे हैं पैसे

आंकड़े बताते हैं कि अप्रैल महीने में विदेशी निवेशकों (FII) ने भारतीय इक्विटी बाजार से 9,659 करोड़ रुपए निकाले थे जबकि मई से उन्होंने 2,954 करोड़ रुपए निकाले हैं। डेट बाजार से इन्होंने 17,322 करोड़ रुपए निकाले हैं। पूरे कैलेंडर यानी जनवरी से अब तक की बात करें तो इन्होंने इक्विटी में 43,129 करोड़ रुपए का निवेश किया है।

रुझान के विपरीत बाजार की रफ्तार

ऐसा रुझान है कि FII अगर बाजार से पैसे निकालते हैं तो बाजार खराब प्रदर्शन करता है, पर अप्रैल और मई में बाजार ने बेहतर प्रदर्शन किया है। विश्लेषकों के मुताबिक, निफ्टी इस हफ्ते में 15,800 तक जा सकता है। जबकि BSE सेंसेक्स 52 हजार को पार कर गया है। सेंसेक्स ने 16 फरवरी को 52,104 का आंकड़ा पार किया था और सोमवार को इसने 52 हजार को पार किया।

GDP के आंकड़ों में गिरावट

सोमवार को सकल घरेलू उत्पादन यानी GDP के आंकड़े आए थे। पूरे साल में इसमें 7% से ज्यादा की गिरावट रही। हालांकि जनवरी से मार्च के दौरान इसमें 1.6% की बढ़ रही। दुनिया के प्रमुख बाजारों में ब्राजील के बाजार ने मई महीने में 5.82% का रिटर्न दिया जबकि चीन के बाजार ने 4.89% का रिटर्न दिया। फ्रांस के बाजार ने 3.29, जर्मनी के बाजार ने 2.22, अमेरिका के बाजार ने 1.93, कोरिया के बाजार ने 1.78 और हांगकांग के बाजार ने 1.49% का रिटर्न दिया। दक्षिण अफ्रीका के बाजार ने भी 1% से ज्यादा का रिटर्न दिया है।

भारतीय बाजार के बारे में अनुमान है कि दिसंबर तक सेंसेक्स 61 हजार को पार कर सकता है। ऐसी स्थिति में निफ्टी 19 हजार के करीब हो सकता है। साथ ही मार्केट कैप भी 230 लाख करोड़ रुपए को छू सकता है।