• Hindi News
  • Business
  • The Rupee on Thursday slipped by 18 paise to 69.89 against the USD Dollar in early trade on rising demand for the Americ

शेयर बाजार / डॉलर के मुकाबले 23 पैसे कमजोर हुआ रुपया, अमेरिकन करेंसी की डिमांड बढ़ने का असर



प्रतीकात्मक फोटो प्रतीकात्मक फोटो
X
प्रतीकात्मक फोटोप्रतीकात्मक फोटो

  • फॉरेक्स मार्केट में सुबह 69.70 पैसे पर खुला रुपया, शाम को 69.94 पर बंद हुआ
  • अमेरिका-चीन के बीच चल रही ट्रेड वॉर का असर भी रुपये पर दिखा
     

Dainik Bhaskar

May 09, 2019, 09:40 PM IST

मुंबई. डॉलर के मुकाबले रुपये की कीमत के गिरने का सिलसिला गुरुवार को भी नहीं थमा। बुधवार को रुपया 23 पैसे तक लुढ़क गया। शाम को डॉलर के मुकाबले रुपया 69.94 रुपए पर बंद हुआ। गुरुवार को उम्मीद थी कि रुपया अपनी लय हासिल करने की कोशिश करेगा, लेकिन फॉरेक्स मार्केट में रुपया जब लुढ़क गया तो शेयर बाजार में मायूसी छा गई। 

 

फॉरेक्स मार्केट में रुपया 69.70 पैसे पर खुला

गुरुवार सुबह फॉरेक्स मार्केट में रुपया 69.70 पैसे पर खुला। कुछ देर बाद में रुपया 69.89 तक लुढ़क गया। शाम को 69.94 रुपए पर बंद हुआ। सूत्रों का कहना है कि घरेलू बाजार में रुपये के कमजोर होने की वजह डॉलर की मांग में बढ़ोतरी होना है। उनका कहना है कि अमेरिकन करेंसी की मांग बढ़ेगी तो भारतीय करेंसी अपने आप कमजोर हो जाएगी। 

 

चीन की चेतावनी का भी दिखा असर

अमेरिका-चीन के बीच चल रही ट्रेड वॉर का असर भी रुपये पर दिख रहा है। गुरुवार से अमेरिका और चीन के बीच वॉशिंगटन में वार्ता होनी थी, लेकिन रविवार को ट्रम्प के ट्वीट और बुधवार रात चीनी वाणिज्य मंत्रालय की तरफ से अमेरिका को जारी चेतावनी का असर बाजार पर दिख रहा है। कयास लगाए जा रहे हैं कि दोनों देशों के बीच हाल फिलहाल में समझौता होने के आसार नहीं हैं। 

 

महाशक्तियों में समझौता न होने से बाजार प्रभावित

शेयर बाजार के सूत्रों का कहना है कि अमेरिका और चीन दोनों महाशक्ति हैं। चीन विश्व की दूसरी सबसे बड़ी आर्थिक शक्ति है तो अमेरिका इस क्षेत्र का सिरमौर है। अगर दोनों के बीच कोई सहमति नहीं बनी तो वैश्विक बाजार तो प्रभावित होगा ही। यह कारण भी रुपये की कमजोरी की वजह बन रहा है।

COMMENT