90 साल का दबदबा खत्म:जनरल मोटर्स अब नहीं रही अमेरिका की बड़ी कंपनी, टोयोटा बनी नंबर वन

मुंबई6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अमेरिका की सबसे बड़ी ऑटो कंपनी जनरल मोटर्स को नए साल में झटका लगा है। यह अब दूसरे नंबर की कंपनी हो गई है। जबकि जापानी ऑटो मेकर्स टोयोटा ने टॉप स्थान हासिल किया है।

2005 में टोयोटा चौथे नंबर पर थी

2005 तक टोयोटा अमेरिकी बाजार में चौथे नंबर पर थी। लेकिन 2021 आते-आते यह स्थिति बदल गई। अमेरिका की दिग्गज ऑटो कंपनी जनरल मोटर्स 90 सालों से यहां नंबर वन कंपनी थी। यह सबसे ज्यादा कार बेचती थी। अब जापान की कंपनी टोयोटा (Toyota) ने उससे यह ताज छीन लिया है। इसने पिछले साल अमेरिकी बाजार में 23 लाख से ज्यादा गाड़ियां बेची। जनरल मोटर्स की तुलना में यह पांच पर्सेंट यानी 114,000 ज्यादा गाड़ियां बेची।

कैमरी सबसे ज्यादा बिकने वाली कार

टोयोटा की Camry पिछले 20 साल से अमेरिका में सबसे ज्यादा बिकने वाली पैसेंजर कार बनी हुई है जबकि बेस्ट सेलिंग एसयूवी (SUV) का तमगा पिछले पांच साल से उसकी गाड़ी Rav4 के पास है। अब GM, फोर्ड और क्रिसलर की हिस्सेदारी घटकर 38% रह गई है। अगर इसमें टेस्ला (Tesla) को भी शामिल कर लिया जाए तो यह 40% पहुंचती है।

पिछले साल टोयोटा की अच्छी ग्रोथ

मंगलवार को जारी आंकड़ों के अनुसार, जापानी कार निर्माता टोयोटा ने 2021 में अमेरिका में ऑटोमोबाइल में अच्छी ग्रोथ की। सेमीकंडक्टर्स की कमी ने जनरल मोटर्स को पीछे करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। GM का साल के 2021 के दौरान महत्वपूर्ण कंप्यूटर चिप्स की कमी के कारण चौथी तिमाही में बिक्री में गिरावट आई।

टोयोटा की बढ़त 10.4%

टोयोटा अभी भी अमेरिका में वार्षिक बिक्री में 10.4% बढ़त हासिल करने में सफल रही है। टोयोटा ने दो सबसे अधिक बिकने वाली सेडान, कैमरी और कोरोला की बिक्री में मामूली बढ़त देखी है। इसकी फुल साइज की हाईलैंडर एसयूवी की 2021 में ज्यादा बिक्री हुई। GM टोयोटा की तुलना में ट्रकों पर अधिक निर्भर रहती है। इसने अपने सिल्वरैडो पिकअप ट्रकों में वार्षिक आधार पर 10.8% की गिरावट देखी है।

GM ने कम इन्वेंट्री पर अफसोस जताया है

GM ने कम इन्वेंट्री पर अफसोस जताया है। इसके अधिकारियों ने वाहनों की कीमत को और भी मजबूत बनाने की बात की है, जिसके चलते बिक्री में गिरावट के बावजूद कंपनियों को लाभ में बने रहने में सक्षम बनाया है। इनसाइट्स के एडमंड्स के सीईओ जेसिका कैल्डवेल ने सोमवार को कहा कि निस्संदेह यह टोयोटा के लिए एक बड़ी उपलब्धि है, लेकिन यह एक लंबे समय के परिवर्तन का संकेत नहीं है। GM के पास सबसे बड़ा एडवांटेज यह है कि इसके पास ग्राहकों के लिए ट्रकों और SUV में अधिक ब्रांड और वेराइटी है। इससे इसकी लोकप्रियता में हाल के वर्षों में अच्छी खासी वृद्धि हुई है।

टोयोटा ने इलेक्ट्रिक व्हीकल के डेवलपमेंट पर 3 अरब डॉलर के अमेरिकी निवेश की बात कही है। वहीं दूसरी तरफ फोर्ड ने मंगलवार को कहा कि यह अपने सबसे ज्यादा बिकने वाले F-150 पिकअप ट्रक के इलेक्ट्रिक मॉडल बनाने की क्षमता को लगभग दोगुना करेगी।

खबरें और भी हैं...