• Hindi News
  • Business
  • Vodafone Idea Can Postpone Tariff Hike, Bharti Airtel Can Also Stop Its Steps

जून तक नहीं बढ़ेगा मोबाइल फोन बिल:वोडाफोन आइडिया टाल सकती है टैरिफ हाइक, भारती एयरटेल भी रोके रख सकती है अपने कदम

7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • वोडाफोन आइडिया ने पहले अपनी दरें इसी तिमाही में बढ़ाने की योजना बनाई थी
  • इस बीच मार्केट लीडर जियो ने अपने 4G फीचर फोन की यूसेज कॉस्ट 25% घटा दी

आपका मंथली मोबाइल फोन बिल जून तक नहीं बढ़ेगा, इस बात की बड़ी संभावना है। वोडाफोन आइडिया (Vi) अपना टैरिफ रेट बढ़ाने का फैसला तब तक के लिए टाल सकती है। कंपनी ने पहले अपनी दरें इसी तिमाही में बढ़ाने की योजना बनाई थी।

इस बीच मार्केट लीडर रिलायंस जियो ने अपने 4G फीचर फोन की यूसेज कॉस्ट 25% घटा दी। उसने यह कदम नए 4जी कस्टमर की संख्या में आ रही गिरावट को थामने और बाकी 30 करोड़ फीचर फोन यूजर्स को खींचने के लिए उठाया था। अब भारती एयरटेल भी टैरिफ हाइक पर अपने कदम रोक लेगी, इस बात की पूरी संभावना है।

Vi ने 25,000 करोड़ रुपए जुटाने की योजना छोड़ी
देश की तीसरी सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी वोडफोन आइडिया (Vi) 10,000 करोड़ रुपए जुटाने के बारे में सोच रही है। कंपनी के दो सूत्रों के मुताबिक यह रकम नॉन कन्वर्टिबल डिबेंचर (NCD) बेचकर जुटाई जा सकती है। कंपनी ने पहले विदेशी फंडों को हाइब्रिड सिक्योरिटी बेचकर 25,000 करोड़ रुपए जुटाने की योजना बनाई थी।

पहली तिमाही के अंत में हो सकता है टैरिफ हाइक

टेलीकॉम सेक्टर के एक सीनियर एग्जिक्यूटिव ने कहा, ‘Vi का टॉप मैनेजमेंट अब तक टैरिफ दरें बढ़ जाने की उम्मीद कर रहा था। लेकिन उसने कुछ महीने और रुकने का फैसला किया है। टैरिफ हाइक अब नए वित्त वर्ष की पहली तिमाही के अंत में हो सकता है।’

टैरिफ हाइक टलने की उम्मीद पहले से ही थी

Vi के टैरिफ हाइक टालने के कदम से बाजार को कोई हैरानी नहीं होगी। फरवरी में जियो की तरफ से 4G फीचर फोन कस्टमर्स के लिए दो सस्ते ऑफर लाए गए थे। इसको देखते हुए एनालिस्ट उम्मीद कर रहे थे कि टेलीकॉम कंपनियां टैरिफ हाइक को टाल देंगी।

टैरिफ में 25-30% बढ़ोतरी हासिल करने का मौका गया

जियो फोन के ऑफर ने दिसंबर 2019 की तरह टैरिफ में 25-30% बढ़ोतरी हासिल करने का मौका Vi के हाथ से छीन लिया। हालांकि Vi के एमडी रविंदर टक्कर ने फरवरी में एनालिस्ट कॉल में कहा था कि कंपनी सही वक्त पर टैरिफ बढ़ाएगी। उन्होंने कहा था, ‘हम किसी का इंतजार नहीं कर रहे। टैरिफ बढ़ाना बहुत जरूरी हो गया है।’

एयरटेल भी रोक सकती है टैरिफ हाइक पर अपने कदम

अगर Vi टैरिफ नहीं बढ़ाती है तो इस बात की पूरी संभावना है कि भारती एयरटेल भी टैरिफ हाइक पर अपने कदम रोक लेगी। उसने साफ कर दिया है कि टैरिफ बढ़ाने की पहल वह नहीं करेगी, लेकिन अगर किसी और ने बढ़ोतरी की तो वह भी जरूर करेगी। टेलीकॉम कंपनियों को हर सब्सक्राइबर से होने वाली औसत कमाई (ARPU) में रिकवरी की रफ्तार सुस्त हो जाएगी।

जियो का फोकस ज्यादा सब्सक्राइबर बनाने पर है

ब्रोकरेज फर्म जेफरीज के एनालिस्टों के हालिया नोट मुताबिक, जियो का फोकस ज्यादा सब्सक्राइबर बनाने पर है। उसकी यह रणनीति दूसरी कंपनियों की टैरिफ हाइक की उम्मीदों को तोड़ सकती है। एमके और HSBC के एनालिस्टों का मानना है कि जियो के ऑफर से वोडाफोन आइडिया की चुनौतियां बढ़ेंगी।

Vi के सब्सक्राइबर बेस में आ रही कमी जल्द थमने के आसार नहीं

एमके ग्लोबल के एनालिस्टों नवल सेठ और सोनाली शाह ने अपने नोट में लिखा है, ‘जियो का कदम वोडफोन आइडिया के निवेशकों के लिए इशारा है कि उसके सब्सक्राइबर बेस में आ रही कमी जल्द थमने वाली नहीं। टैरिफ हाइक की उम्मीदें भी पूरी होने की उम्मीद नहीं है।’

Vi को कैश ब्रेक ईवन लेवल पर आने के लिए 50% टैरिफ हाइक की जरूरत

जानकारों के मुताबिक सब्सक्राइबर लॉस घटाने और फंड जुटाने में लगी Vi को अब मुश्किल आएगी। दिसंबर में आई ब्रोकरेज फर्म ICICI सिक्योरिटीज की रिपोर्ट्स के मुताबिक वोडाफोन आइडिया को कैश ब्रेक ईवन लेवल पर आने के लिए 50% टैरिफ हाइक करने की जरूरत पड़ेगी।

खबरें और भी हैं...