• Hindi News
  • Business
  • Vodafone Idea Financial Crisis; Vodafone Idea Paid License Fee In First Quarter

टेलीकॉम इंडस्ट्री की हालत तंग:वोडाफोन आइडिया ने पहली तिमाही में लाइसेंस फीस का पेमेंट किया, 30 जून तक कंपनी पर 1.91 लाख करोड़ का कर्ज

मुंबई4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

भारी आर्थिक संकट से जूझ रही टेलीकॉम कंपनी वोडाफोन-आइडिया लिमिटेड (VIL) ने 2021-22 की पहली तिमाही के लिए लाइसेंस फीस का पेमेंट कर दिया है। कंपनी ने गुरुवार को इसकी जानकारी दी। पहले खबर आ रही थी कि VIL ने जून तिमाही के लिए 150 करोड़ रुपए कम लाइसेंस फीस भरी थी। फिलहाल कंपनी ने इससे ज्यादा कुछ नहीं बताया।

कंपनी पर लगभग 2 लाख करोड़ रुपए का कर्ज
एक्सचेंज को दी जानकारी के मुताबिक 30 जून को समाप्त तिमाही तक कंपनी पर कुल 1,91,590 करोड़ रुपए का कर्ज रहा। इसमें स्पेक्ट्रम पेमेंट की देनदारी 1,06,010 करोड़ रुपए और AGR देनदारी 62,180 करोड़ रुपए शामिल है।

पहली तिमाही में VIL को 7,319 करोड़ रुपए का घाटा
अप्रैल-जून 2021 के दौरान कंपनी को 7,319 करोड़ रुपए का घाटा हुआ, जोकि सालभर पहले समान तिमाही में 25,460 करोड़ रुपए था। प्रति ग्राहक कमाई भी 107 रुपए से घटकर 104 रुपए हो गई है। नतीजतन, पहली तिमाही में कंपनी की आय 9,152 करोड़ रुपए रही। सालभर पहले जून तिमाही में कंपनी की आय 10,659 करोड़ रुपए थी।

आदित्य बिड़ला ग्रुप के चेयरमैन और वोडाफोन आइडिया के पूर्व चेयरमैन कुमार मंगलम बिड़ला ने सरकार से टेलीकॉम कंपनी को सपोर्ट करने की मांग की थी। उन्होंने 7 जून को इसी विषय पर कैबिनेट सचिव राजीव गाबा को पत्र लिखा था। इसमें वे वोडाफोन आइडिया में अपनी हिस्सेदारी सरकार या किसी ऐसी इकाई को सौंपने की पेशकश की थी, जो कंपनी का संचालन चालू रख सकने की क्षमता रखता हो।

AGR देनदारी पर फिर SC पहुंचा VIL
पिछले हफ्ते ही वोडाफोन आइडिया ने सुप्रीम कोर्ट में एडजस्टेड ग्रॉस रेवेन्यू, यानी AGR पर रिव्यू पटीशन डाली है। इसमें कंपनी ने AGR कैल्कुलेशन में गलतियां होने की बात कही है। हालांकि, अपेक्स कोर्ट ने इसी तरह की एक याचिका पहले ही खारिज कर दी थी। टेलीकॉम कंपनी की मौजूदा हालात देख उसके 27.3 करोड़ सब्सक्राइबर्स समेत कर्मचारी और उससे जुड़े लोग चिंता में हैं।