• Hindi News
  • Business
  • WEF Annual Meeting To Be Held Next Year In 'Switzerland Of Asia' Singapore

कोविड-19 की करामात:‘एशिया के स्विट्जरलैंड’ सिंगापुर में अगले साल होगी WEF की एनुअल मीटिंग

ज्यूरिख-सिंगापुरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • WEF की एनुअल मीटिंग स्विट्जरलैंड से बाहर दूसरी बार और एशिया में पहली बार होने जा रही है
  • स्पेशल एनुअल मीटिंग-2021 सिंगापुर में 13 से 16 मई तक होगी, 2022 वाली मीटिंग डावोस में होगी

वर्ल्ड इकनॉमिक फोरम WEF की तरफ से आयोजित दुनिया भर के पॉलिटिकल और बिजनेस लीडर्स की एनुअल मीटिंग अगले साल स्विट्जरलैंड के ज्यूरिख नहीं, सिंगापुर में होगी। WEF के आयोजकों का कहना है कि कोविड-19 की दिक्कतों के चलते फोरम की एनुअल मीटिंग को यूरोप में सुरक्षित तरीके से कराना मुश्किल होगा। 1971 से आमतौर पर हर साल जनवरी में हो रही WEF की एनुअल मीटिंग दूसरी बार स्विट्जरलैंड से बाहर होने जा रही है और एशिया में इसका आयोजन पहली बार हो रहा है।

अक्तूबर में मीटिंग बुर्गनस्टॉक शिफ्ट करने का फैसला हुआ था

बैठक के आयोजकों ने बयान जारी कर कहा है, "वर्ल्ड इकनॉमिक फोरम की स्पेशल एनुअल मीटिंग 2021 सिंगापुर में 13 से 16 मई तक होगी और 2022 वाली मीटिंग फिर से स्विट्जरलैंड के डावोस में होगी।" आयोजकों ने अक्तूबर में तय किया था कि WEF की एनुअल मीटिंग को सेंट्रल स्विट्जरलैंड के बुर्गनस्टॉक में शिफ्ट किया जाएगा क्योंकि डावोस के अल्पाइन रिजॉर्ट में लोगों का आना मुश्किल होगा।

कोविड-19 के चलते मीटिंग लुसर्न बुर्गनस्टॉक में कराना मुश्किल

WEF के प्रेसिडेंट बर्ग ब्रेंद ने कहा है कि कोविड-19 के चलते स्वास्थ्य और सुरक्षा से जुड़ी चिंताओं की वजह से फोरम की मीटिंग को पूर्वनिर्धारित योजना के मुताबिक लुसर्न बुर्गनस्टॉक में कराना असंभव हो गया है। जहां तक सिंगापुर की बात है तो यह कोविड-19 से निपटने में कामयाब रहा है, इसलिए काफी सोच-विचार के बाद फैसला किया गया है कि यह मीटिंग के लिए सबसे अच्छी जगह है।"

लीडर्स एनुअल मीटिंग में खुद आकर शिरकत कर सकेंगे

सिंगापुर में कराने को लेकर आयोजकों का कहना है कि इससे दुनिया भर के लीडर्स एनुअल मीटिंग में खुद आकर शिरकत कर सकेंगे। आयोजकों ने WEF की इस एनुअल मीटिंग को कोविड-19 के असर से दुनियाभर की आजादी के मौके पर होने वाला पहला ग्लोबल लीडरशिप इवेंट बताया है। दिलचस्प बात यह है कि इस साउथ ईस्ट एशियन फाइनेंशियल सेंटर को एशिया का स्विट्जरलैंड कहा जाता है।

मीटिंग से पहले और समय-समय पर एंटीजेन टेस्टिंग की जाएगी

सिंगापुर का कहना है कि वह मीटिंग को ध्यान में रखते हुए कोरोना वायरस से बचाव के लिए खास उपाय करेगा। बाहर से आने वालों का मौके पर टेस्ट किया जाएगा, मीटिंग से पहले और समय-समय पर एंटीजेन टेस्टिंग की जाएगी। मीटिंग में शामिल होने वालों की कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग भी होगी।

इवेंट में भागीदारी बढ़ाने के लिए स्पेशल वर्चुअल कंपोनेंट भी होगा

सिंगापुर के ट्रेड मिनिस्टर चैन चुन सिंग ने बयान जारी कर कहा, "कोरोना वायरस से फैली महामारी का प्रकोप बने रहने के बावजूद हम इस बाबत पूरी तरह आश्वस्त हैं कि सिंगापुर सहयोग के जरिए और वचनबद्धता के साथ सकारात्मक बदलाव लाने के WEF के मिशन के समर्थन में जन स्वास्थ्य और सुरक्षा की बेहतर स्थिति बनाए रखेगा।" उन्होंने यह भी कहा कि कोविड-19 के चलते लोगों के आने-जाने में होने वाली दिक्कतों को देखते हुए WEF के इवेंट में भागीदारी बढ़ाने के लिए उसमें एक स्पेशल वर्चुअल कंपोनेंट भी डाला जाएगा।

कोविड-19 से निपटने की कवायद की दुनियाभर में सराहना हुई

ग्लोबल ट्रैवल ट्रांजिट हब सिंगापुर ने इस साल अधिकांश समय अपनी सीमाएं बंद रखी हैं। कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग और करेंटीन के सख्त नियम लागू करने की कवायद के लिए इसकी अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सराहना हुई है।

खबरें और भी हैं...