• Hindi News
  • Business
  • Whether To Invest Money In LIC IPO Or Not And Will Everyone Be Allotted Shares | Know The Answer To Every Question Related To LIC IPO

LIC IPO में निवेश:पैसे लगाएं या नहीं और क्या सभी को शेयर अलॉट होंगे? जानिए LIC IPO से जुड़े हर सवाल का जवाब

2 महीने पहलेलेखक: देवेंद्र अडलक

लाइफ इंश्योरेंस कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (LIC) का भारत का सबसे बड़ा इनिशियल पब्लिक ऑफर (IPO) बुधवार को सब्सक्रिप्शन के लिए खुलने वाला है। कंपनी इसके जरिए 3.5% हिस्सेदारी बेचकर करीब 21,000 करोड़ रुपए जुटाना चाहती है।

ये IPO 9 मई तक खुला रहेगा और प्राइस बैंड 902-949 रुपए प्रति शेयर तय किया गया है। IPO में पॉलिसीधारकों को 60 रुपए और रिटेल निवेशकों को 45 रुपए प्रति शेयर की छूट मिलेगी। न्यूनतम बोली 1 लॉट (15 शेयर) और उसके बाद 15 शेयरों के मल्टीपल में है।

ऐसे में यहां हम इस IPO से जुड़े तमाम सवालों के जवाब दे रहे हैं। सबसे बड़ा सवाल की इस IPO में पैसे लगाए या नहीं? मिनिमम और मैक्सिमम कितना पैसा लगा सकते हैं? डिस्काउंट कब मिलेगा, IPO अप्लाई करते समय या बाद में?

डिस्काउंट के लिए पॉलिसी कितनी पुरानी होनी चाहिए? किस प्राइस पर IPO अप्लाई करना चाहिए? क्या IPO भरने वाले सभी लोगों को शेयर मिलेंगे? IPO के लिए अप्लाई कैसे करना है? तो चलिए एक-एक कर इन सवालों को लेते हैं और जानते हैं इनके जवाब...

किस भाव पर पैसा लगाए और डिस्काउंट?
LIC के IPO का प्राइस बैंड 902-949 रुपए का है। ऐसे में निवेशकों को हायर बैंड 949 रुपए पर पैसे लगाना चाहिए। निवेशकों को कट ऑफ प्राइस सिलेक्ट करना चाहिए। इससे शेयर अलॉटमेंट की संभावनाएं बढ़ जाएंगी। IPO की सबसे खास बात ये है कि आपको डिस्काउंट IPO अप्लाई करते समय ही मिल जाएगा।

रिटेल निवेशकों के लिए LIC ने 45 रुपए का डिस्काउंट रखा है। अगर आप अपर बैंड पर शेयर के एक लॉट के अप्लाई करते हैं तो फिर 949 रुपए प्रति शेयर की जगह आपको 904 रुपए प्रति शेयर के हिसाब से पेमेंट करना होगा। यानी एक लॉट के लिए आपको 14,235 की जगह केवल 13,560 रुपए देने होंगे।

अगर आपके पास LIC की पॉलिसी है तो आपको 60 रुपए का डिस्काउंट मिलेगा। आप पॉलिसी होल्डर कोटे से अपर बैंड पर शेयर के एक लॉट के अप्लाई करते हैं तो आपको 889 रुपए प्रति शेयर के हिसाब से पेमेंट करना होगा। यानी एक लॉट के लिए आपको 14,235 की जगह 13,335 रुपए देने होंगे।

मिनिमम और मैक्सिमम कितना पैसा लगा सकते हैं?
रिटेल निवेशक मिनिमम एक लॉट यानी 15 शेयरों के लिए अप्लाई कर सकते हैं। इस हिसाब से रिटेल निवेशकों को 45 रुपए के डिस्काउंट के बाद मिनिमम 13,560 रुपए लगाने होंगे। मैक्सिमम लिमिट 14 लॉट है, यानी 210 शेयर। निवेशक मैक्सिमम 1,89,840 रुपए लगा सकते हैं। इसी तरह पॉलिसी होल्डर्स 60 रुपए के डिस्काउंट के बाद मिनिमम 13,335 रुपए और मैक्सिमम 1,86,690 का निवेश कर सकते हैं। हालांकि, पॉलिसी होल्डर्स और एम्प्लॉई के पास एक एडिशनल बेनिफिट भी है।

पेटीएम मनी के CEO वरुण श्रीधर ने कहा, पॉलिसी होल्डर्स दो अलग-अलग कैटेगरी के तहत IPO के लिए आवेदन कर सकते हैं। रिटेल कैटेगरी और पॉलिसी होल्डर कैटेगरी। यानी वो दोनों कैटेगरी में 14-14 लॉट के लिए अप्लाई कर सकते हैं। दिलचस्प बात यह है कि यदि कोई व्यक्ति पॉलिसी होल्डर होने के साथ LIC का कर्मचारी है, तो वो एम्प्लॉई कैटेगरी के तहत और 14 लॉट के लिए अप्लाई कर सकते हैं। यानी एम्प्लॉई कुल 42 लॉट के लिए बिड लगा सकते हैं। एम्पलॉई कैटेगरी में भी प्रति शेयर 45 रुपए की छूट मिल रही है।

पॉलिसी कितनी पुरानी होनी चाहिए?
DRHP और इश्यू खुलने के दिन निवेशकों के पास वैलिड पॉलिसी होनी चाहिए। LIC ने DRHP 13 फरवरी को फाइल किया था और इश्यू 4 मई को खुलेगा। यानी पॉलिसी 13 फरवरी से पहले की होनी चाहिए और 4 मई को ये बंद नहीं होनी चाहिए। दूसरी शर्त ये है कि 28 फरवरी तक आपका पैन पॉलिसी से लिंक होना चाहिए। अगर आप इन शर्तों को पूरा करते हैं तभी आपको पॉलिसी होल्डर कोटे में डिस्काउंट मिलेगा। अगर पॉलिसी माइनर के नाम पर है तो माइनर के नाम पर ही डीमैट अकाउंट भी होना चाहिए।

क्या सभी डिस्काउंट एक साथ मिल सकते हैं?
अगर आप रिटेल इन्वेस्टर का 45 रुपए का डिस्काउंट और पॉलिसी होल्डर का 60 रुपए का डिस्काउंट एक साथ लेना चाहते हैं तो ये संभव नहीं है। आपको डिस्काउंट केवल एक ही कोटे में मिलेगा। या तो आप रिटेल इन्वेस्टर का 45 रुपए का डिस्काउंट ले सकते हैं या फिर पॉलिसी होल्डर का 60 रुपए का डिस्काउंट।

क्या सभी को शेयर मिलेंगे और अप्लाई कैसे करें?
LIC का इश्यू साइज 21 हजार करोड़ रुपए का है। ये भारत का अब तक का सबसे बड़ा IPO है। इसलिए IPO के लिए अप्लाई करने वाले ज्यादातर लोगों को शेयर मिलने की संभावना काफी ज्यादा है। यानी आप कह सकते हैं कि IPO भरने वाले सभी लोगों को शेयर मिलेंगे। वहीं अप्लाई करने की बात करें तो आपके पास डीमैट अकाउंट होना चाहिए। LIC IPO एप्लिकेशन ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों माध्यम से कर सकते हैं। हालांकि पैसा ऑनलाइन ही देना होगा।

LIC के IPO में पैसे लगाए या नहीं?
ज्यादातर मार्केट एनालिस्ट इसमें पैसा लगाने की सलाह दे रहे हैं। IPO में शॉर्ट टर्म और लॉन्ग टर्म दोनों में पैसा बन सकता है। हालांकि, एनालिस्ट इसमें लॉन्ग टर्म तक बने रहने की सलाह दे रहे हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि इंश्योरेंस कंपनियों का बिजनेस मॉडल लॉन्ग टर्म का होता है। अगर आप पॉलिसी धारक कोटे में अप्लाई करते हैं और आपको पहले ही 60 रुपए का डिस्काउंट मिल जाएगा और अगर शेयर 949 रुपए पर भी लिस्ट होता है तब भी आपको प्रति शेयर 60 रुपए का फायदा मिलेगा।

वहीं निगेटिव की बात करें तो LIC के लिए चिंता का विषय उसका मार्केट शेयर कम होना है। पिछले 8 सालों में LIC का मार्केट शेयर 8-10% गिरा है। इससे रेवेन्यू पर असर पड़ सकता है। भारत में इंश्योरेंस इंडस्ट्री 17% के रेट से ग्रोथ कर रही है, जबकि LIC की ग्रोथ 7% के रेट से है। यानी LIC इंडस्ट्री की ग्रोथ से करीब 10% पीछे है। LIC का एक्सपेक्टेड फ्यूचर प्रॉफिट 10% का है, जबकि प्राइवेट कंपनीज का एक्सपेक्टेड प्रॉफिट 20% का है।

LIC IPO में एंकर इन्वेस्टर्स का रिस्पॉन्स कैसा रहा?
एंकर इन्वेस्टर्स के लिए IPO 2 मई यानी कल खुला था। पहले ही दिन ये फुली सब्सक्राइब हो गया। एंकर इन्वेस्टर्स के हिस्से के तहत 5,92,96,853 शेयरों को ₹949 प्रति शेयर पर सब्सक्राइब किया गया है। ग्रे मार्केट में भी IPO को अच्छा रिस्पॉन्स है। ग्रे मार्केट में LIC का प्रीमियम 85 रुपए है।