पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Career
  • Bhaskar Full Form Series| What Is The RT PCR Test That Is Necessary For Every Traveler Coming From UK, Read This Week's Full Form And Important Things Related To It

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

भास्कर नॉलेज:क्या है RT-PCR टेस्ट जो ब्रिटेन से आने वाले हर यात्री के लिए है जरूरी, पढ़ें इस हफ्ते के फुल फॉर्म और उससे जुड़ी जरूरी बातें

3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

दैनिक जीवन में हम कई ऐसे शब्दों से दो चार होते हैं, जिनका शाॅर्ट फाॅर्म तो हमें पता होता है पर फुल फॉर्म नहीं। इसके अलावा प्रतियोगी परीक्षाओं में भी अक्सर फुल फॉर्म के प्रश्न आते हैं। इस सीरीज में 5 ऐसे फुल फॉर्म दिए गए हैं, जो आम लोगों के साथ ही कॉम्पिटेटिव एग्जाम की तैयारी कर रहे स्टूडेंट्स के लिए भी उपयोगी हैं।

एडिशनल नॉलेज- PUBG (प्लेयर्स अननोन बैटलग्राउंड) बैन होने के 4 महीने, 24 दिन बाद देसी गेम फीयरलेस एंड यूनाइटेड गॉर्ड्स यानी FAU-G 26 जनवरी को लॉन्च हो गया। लॉन्च होने के पहले ही इस गेम के लिए 50 लाख से ज्यादा रजिस्ट्रेशन हो चुके हैं। फिलहाल ये गेम एंड्रॉयड यूजर्स के लिए ही है। कंपनी जल्द ही इसे iOS यूजर्स के लिए भी लॉन्च करेगी।

FAU-G एक एक्शन मोबाइल गेम है, जिसे बेंगलुरु की कंपनी nCore Games ने तैयार किया है। कंपनी का दावा है कि ये गेम पूरी तरह से भारतीय सेना को समर्पित है। फिलहाल इस गेम को स्टोरी मोड की तर्ज पर तैयार किया गया है। आगे इसे और अपडेट किया जाएगा। कंपनी के फाउंडर दयानिधि एमजी और COO गणेश हंडे हैं। कंपनी के एडवाइजर और इनवेस्टर विशाल गोंडल हैं। विशाल गोंडल के मुताबिक, गेम का फर्स्ट फेज गलवान घाटी पर आधारित है। आगे भी भारतीय सेना की युद्धों की पृष्ठभूमि पर इसे अपडेट किया जाएगा।

एडिशनल नॉलेज- RT-PCR एक ऐसी लैब टेक्निक है, जिसमें RNA और DNA के जरिए रिवर्स ट्रांसक्रिप्शन को जोड़ते हुए वायरस का पता लगाया जाता है। RT-PCR में इस बात की जांच की जाती है कि शरीर में वायरस मौजूद है या नहीं। इसके लिए व्यक्ति के रेस्पिरेटरी ट्रैक्ट, थ्रोट स्वैब या नाक के पीछे वाले गले के हिस्से से सैंपल लिया जाता है। इसके नतीजे 12 से 24 घंटे में आ जाते हैं।

इसका इस्तेमाल यह जानने के लिए किया जाता है कि मौजूदा सैंपल में न्यूक्लेइक एसिड की मौजूदगी है या नहीं। न्यूक्लेइक ऐसिड, चीनी, फॉस्फेट और नाइट्रोजिनस बेस की लंबी चेन का बहुरूप है। इसमें DNA (डीऑक्सीरिबोन्यूक्लेइक ऐसिड) और RNA (रिबोन्यूक्लेइक एसिड) होता है।

एडिशनल नॉलेज- FSSAI एक ऐसी एजेंसी है, जो लोगों की सेहत की सुरक्षा और उसके प्रति जागरूकता बढ़ाने के क्षेत्र में काम करती है। भारतीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के अधीन कार्य करने वाली इस एजेंसी की स्थापना 5 सितंबर, 2008 को सभी खाद्य पदार्थों की जांच के उद्देश्य से की गई। इसका मुख्यालय दिल्ली में स्थित है। वहीं, पूरे देश में इसके 8 ऑफिस हैं। यह एजेंसी खाद्य सामग्री के लिए विज्ञान पर आधारित मानक के निर्माण और खाद्य पदार्थों के इंपोर्ट, स्टोरेज, डिस्ट्रीब्यूशन, बिक्री आदि को नियंत्रित करने के साथ ही मानव उपभोग के लिए सुरक्षित और संपूर्ण आहार उपलब्ध कराती हैं।

इसके मुख्य कार्यों में खाद्य व्यवसाय से जुड़े लोगों को प्रशिक्षण देना, खाद्य पदार्थों से संबंधित दिशा- निर्देश जारी करना, खाद्य पदार्थों की जांच कर उसकी गुणवत्ता को प्रमाणित करना, खाद्य सुरक्षा और खाद्य मानकों के बारे में जनता के बीच सामान्य जागरूकता को बढ़ावा देना आदि शामिल है।

एडिशनल नॉलेज- ICMR भारत की सबसे पुरानी और बड़ी मेडिकल रिसर्च बॉडीज में से एक है। यह देश की बायोमेडिकल रिसर्च के फॉर्म्‍यूलेशन, कोऑर्डिनेशन और प्रमोशन की सर्वोच्‍च संस्‍था है। इसकी स्थापना इंडियन रिसर्च फंड एसोसिएशन (IRFA) के रूप में साल 1911 में की गई। आजादी के बाद, साल 1949 में इसे बदलकर ICMR कर दिया गया। ICMR की फंडिंग भारत सरकार के स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्रालय के डिपार्टमेंट ऑफ हेल्‍थ रिसर्च के जरिए होती है। केंद्रीय स्‍वास्थ्‍य मंत्री ही इस काउंसिल के अध्‍यक्ष होते हैं।

ICMR के देशभर में 21 परमानेंट रिसर्च सेंटर हैं। यहां पर कई संक्रामक बीमारियों पर रिसर्च होती है जैसे- कोरोना वायरस, रोटा वायरस, डेंगू, इबोला, इन्‍फ्लुएंजा, जापानी इंसेफेलाइटिस, एड्स, मलेरिया, कालाजार आदि। इसके अलावा ICMR न्‍यूट्रिशन, फूड एंड ड्रग टॉक्सिकोलॉजी, ऑन्‍कोलॉजी तथा मेडिकल स्‍टैटेस्टिक्‍स पर भी काम करता है। इसके 6 रीजनल मेडिकल रिसर्च सेंटर्स स्‍थानीय स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं पर फोकस करते हैं।

एडिशनल नॉलेज- SEBI एक रेगुलेटरी बॉडी है, जो सिक्योरिटी मार्केट में शेयरों के खरीद-बिक्री को नियंत्रित करती है। इसकी स्थापना शेयर बाजार की गतिविधियों की निगरानी करने के उद्देश्य से की गई थी। इसका मुख्य उद्देश्य शेयर बाजार में निवेशकों को सुरक्षा प्रदान करना है। साथ ही यह संस्था ट्रेडर्स और इनवेस्टर्स की किसी भी प्रकार की धोखाधड़ी और स्कैम के खिलाफ मदद करती है। इसके अलावा SEBI फाइनेंशियल मार्केट में स्टॉक एक्सचेंज, म्यूचुअल फंड आदि के मामलों को भी नियंत्रित करती है।

SEBI की स्थापना 31 जनवरी, 1992 में की गई, जिसमें कुल नौ सदस्य शामिल हैं। इसमें केंद्रीय वित्त मंत्रालय से दो सदस्य, भारतीय रिजर्व बैंक से एक सदस्य और भारत सरकार द्वारा एक अध्यक्ष और पांच सदस्यों की नियुक्ति की जाती है। इन पांच सदस्यों में से तीन सदस्य फुल-टाइम मैंबर के रूप में कार्य करते हैं। यह संस्था तीन मुख्य समूहों को नियंत्रण करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है, जिसमें सिक्योरिटी, इनवेस्टर्स, और मार्केट इंटरमीडिएट शामिल हैं।

यह भी पढ़ें-

भास्कर नॉलेज:क्या है CoWIN ऐप जिसके जरिए वैक्सीनेशन के लिए होगा रजिस्ट्रेशन, पढ़ें इस हफ्ते के फुल फॉर्म और उससे जुड़ी जरूरी बातें

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- कुछ रचनात्मक तथा सामाजिक कार्यों में आपका अधिकतर समय व्यतीत होगा। मीडिया तथा संपर्क सूत्रों संबंधी गतिविधियों में अपना विशेष ध्यान केंद्रित रखें, आपको कोई महत्वपूर्ण सूचना मिल सकती हैं। अनुभव...

और पढ़ें