करियर / ऐसा कोर्स चुनें जो पढ़ाई के साथ आपको जॉब के लिए भी तैयार करे

स्किल की अच्छी नॉलेज पढ़ाई के तुरंत बाद नौकरी दिलाने में काफ़ी मददगार साबित होती है ।

Dainik Bhaskar

Aug 01, 2019, 05:02 PM IST
Choose a course that prepares you for the job as well.

आधुनिक दौर में करियर की किसी भी फील्ड में आगे बढ़ने के लिए व्यक्ति में अच्छी कम्यूनिकेशन स्किल्स के साथ प्रोफेशनल स्किल्स का होना भी जरूरी है। आज के आधुनिक दौर में प्रोफेशनल स्किल्स उतने ही जरूरी हैं जितनी किताबी नॉलेज। सिर्फ किताबी नॉलेज आपको नौकरी दिलाने के लिए काफी नहीं होती, अच्छी नौकरी के लिए प्रशिक्षित होना भी जरूरी होता है। युवाओं के बीच बेहतर नौकरी पाने के लिए कड़ी प्रतिस्पर्धा रहती है। इसलिए अब सरकार और शिक्षा संस्थानों द्वारा स्किल डेव्लपमेंट पर भी ज़ोर दिया जा रहा है जो स्टूडेंट्स को न केवल किताबी ज्ञान देता है बल्कि हर युवा में छुपे हुनर को पहचान कर जॉब और व्यवसाय के योग्य भी बनाता है।

अच्छा मार्गदर्शन है जरूरी :
बात जब करियर की हो तो हर माता-पिता को अपने बच्चे के उज्ज्वल भविष्य की चिंता सताने लगती है। ऐसी स्थिति में ये जरूरी है कि बच्चों को उनके करियर के लिए सही मार्गदर्शन शुरुआती समय पर ही मिल जाए, ताकि वो आगे चल कर अपने करियर के लिए सही निर्णय आसानी से ले सकें। सही मागदर्शन देनें में काफी बड़ा हाथ शिक्षा संस्थानों का भी होता है जो बच्चों को उनकी खूबियों और स्किल्स के हिसाब से प्रशिक्षित करते हैं। भारत में भारतीय स्किल डेवलपमेंट यूनिवर्सिटी (BSDU) एकमात्र ऐसी यूनिवर्सिटी है जो युवाओं को स्किल डेवलपमेंट के कोर्स की सुविधा देती है जिससे आगे चल कर युवाओं को बेरोजगारी से न जूझना पड़े।

कैसे चुनें अच्छा कॉलेज :
एक अच्छी नौकरी पाने के लिए अच्छी योग्यता और मन में काम की लगन होनी भी बहुत जरूरी है। एक सफल करियर के लिए हमेशा अच्छे इंस्टीट्यूट को चुनना चाहिए, जो जॉब प्लेसमेंट के साथ स्किल डेवलपमेंट पर भी ज़ोर दे। जयपुर की भारतीय स्किल डेवलपमेंट यूनिवर्सिटी हाल ही में ऐसी ही एक यूनिवर्सिटी के रूप में उभर कर सामने आई है जो पूर्ण रूप से स्किल कोर्स पर आधारित है। इस यूनिवर्सिटी की ख़ासियत है इसकी B.Voc डिग्री जो एक सामान्य इंजिनयरिंग डिग्री से काफी हट कर है। इसमें युवाओं को 60% स्किल और 40% सामान्य शिक्षा दी जाती है। BSDU द्वारा इस तरह के कोर्स के माध्यम से युवाओं को शुरुआत से ही जॉब के लिए तैयार किया जाता है। BSDU छात्रों को स्किल सर्टिफ़िकेट, डिप्लोमा, एडवांस डिप्लोमा, बैचलर ऑफ वोकेशन, मास्टर ऑफ वोकेशन और पीएचडी की श्रेणियों में विभिन्न कोर्स प्रदान करता है। विभिन्न प्रकार के कोर्स की मदद से युवाओं के लिए नौकरी के कई अवसर भी बढ़ जाते हैं, और स्किल की अच्छी नॉलेज के कारण स्टूडेंट पढ़ाई के तुरंत बाद नौकरी के पक्के उम्मीदवार भी बन जाते हैं। अच्छे प्रशिक्षण की सहायता से खुद का बिज़नेस खोलने में भी मदद मिलती है ।

भारतीय स्किल डेव्लपमेंट यूनिवर्सिटी (BSDU) में क्या है अलग :

  • इंडस्ट्री और ट्रेंड के मुताबिक युवाओं को कोर्स उपलब्ध कराए जाते हैं।
  • स्विस ट्रेनर की निगरानी में ट्रेनिंग दी जाती है।
  • ट्रेनिंग के दौरान पैसे कमाने के अवसर भी मिलते हैं , ताकि युवाओं में अपने काम के प्रति प्रोत्साहन बना रहे।
  • विश्व के सर्वश्रेष्ठ ब्रांड की आधुनिक मशीनों पर प्रेक्टिस कराई जाती है।
  • बेहतर ट्रेनिंग के लिए हर स्टूडेंट को एक मशीन दी जाती है।
  • जहां भारत में स्किल्ड युवाओं की कमी है, वहीं BSDU से निकले सभी छात्र स्किल्ड होने के साथ जॉब के लिए पूरी तरह तैयार भी होते हैं।
  • हर वर्ष स्टूडेंट्स को 6 महीने कॉलेज और बाकी 6 महीने इंडस्ट्री में ट्रेनिंग दिलाई जाती है।
  • हर स्टूडेंट अपनी सुविधा के हिसाब से कोर्स को छोड़ सकता है और बाद में जॉइन भी कर सकता है।*

आजकल कई शिक्षा संस्थानों द्वारा स्किल डेवलपमेंट पर ज़ोर दिया जा रहा है जहां छात्रों को स्किल पर आधारित कोर्स कराए जाते हैं। जिसमें पढ़ाई के अलावा कौशल विकास पर अधिक ध्यान दिया जाता है ताकि आगे चल कर स्टूडेंट बेहतर प्रशिक्षण के जरिए अच्छी नौकरी के उम्मीदवार बन सकें। ऐसे में छात्रों द्वारा चुना गया कोर्स व कॉलेज बहुत महत्वपूर्ण हो जाता है इसलिए हमेशा ऐसे कॉलेज को चुनें जिनका प्लेसमेंट रिकॉर्ड अच्छा हो। ऐसे में लोगों की पहली पसंद के रूप में BSDU सामने आयी है, जो महिंद्रा, हुंडई, होंडा, मदर डेरी, अदित्या बिरला, अडानी, डाबर जैसी कई नामी कंपनियों में प्लेसमेंट दिलाते हैं। अपने सफल प्लेसमेंट रिकॉर्ड के चलते BSDU को कई नेशनल और इंटरनेशनल अवार्ड से सम्मानित किया गया है। *साथ ही BSDU एक मात्र ऐसी यूनिवर्सिटी है जहाँ स्टूडेंट्स को पूर्ण रूप से छूट दी जाती है कि वो अपनी सुविधा के अनुसार कोर्स कभी भी छोड़ सकते हैं या वापस जॉइन भी कर सकते हैं। 6 महीने का कोर्स करने पर सर्टिफिकेट, एक साल कोर्स करने पर डिप्लोमा, वहीं 2 साल तक पढ़ाई करने पर एडवांस डिप्लोमा और 3 साल का कोर्स पूरा करने पर छात्र B. Voc की डिग्री प्राप्त कर सकते हैं। BSDU मेधावी छात्रों को कई प्रकार की स्कॉलरशिप भी ऑफर करती है। इसकी अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

अगर आप भी अच्छा भविष्य चाहते हैं तो अच्छे कोर्स के साथ बेहतर कॉलेज को चुनें जो स्टूडेंट में स्किल डेवलपमेंट को निखारे और आधुनिक ट्रेंड के हिसाब से युवाओं को प्रशिक्षित कर जॉब के लिए तैयार भी करे।

X
Choose a course that prepares you for the job as well.
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना