• Hindi News
  • Career
  • Click Here For ISC Semester 2 Exam Date Changed, Revised Time Table And Latest Updates

CISCE ISC Exam 2022:आईएससी सेमेस्टर-2 एग्जाम डेट में हुआ बदलाव, संशोधित टाइम टेबल और लेटेस्ट अपडेट के लिए यहां क्लिक करें

9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

काउंसिल फॉर द इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन (CISCE) ने एक ऑफिशियल नोटिफिकेशन जारी कर आईएससी सेमेस्टर-2 परीक्षाओं के कार्यक्रम में बदलाव की जानकारी दी है। सीआईएससीई ने बताया है कि आईएससी (ISC) बोर्ड यानी कक्षा 12वीं की दूसरे सेमेस्टर की परीक्षाएं अब 26 अप्रैल, 2022 से शुरू होंगी और 13 जून, 2022 तक चलेंगी। जेईई मेन परीक्षा की तारीखों में टकराव के कारण सीआईएससीई ने आईएससी बोर्ड के परीक्षा कार्यक्रम में संशोधन किया है।

पहले 25 अप्रैल से छह जून तक होनी थी परीक्षा

इससे पहले तीन मार्च, 2022 को जारी परीक्षा कार्यक्रम नोटिफिकेशन के अनुसार, आईसीएसई बोर्ड यानी 10वीं की परीक्षा के साथ ही आईएससी यानी 12वीं की परीक्षाएं भी 25 अप्रैल से शुरू होनी थी। हालांकि पूर्व निर्धारित टाइम-टेबल के अनुसार, 12वीं की परीक्षाएं छह जून, 2022 को खत्म होनी थी। अब संशोधित ऑफिशियल नोटिफिकेशन में कहा गया है कि आईएससी यानी 12वीं बोर्ड की परीक्षाएं 26 अप्रैल से शुरू होंगी और 13 जून, 2022 को खत्म होंगी। परीक्षा का पूरा शेड्यूल सीआईएससीई की वेबसाइट cisce.org पर जारी कर दिया गया है।

आईएससी 12वीं बोर्ड का संशोधित टाइम-टेबल

इन 5 स्टेप्स में डाउनलोड करें संशोधित टाइम टेबल

  • काउंसिल फॉर द इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन की ऑफिशियल वेबसाइट cisce.org पर क्लिक करें।
  • होम पेज पर दिखाई दे रहे नोटिस बोर्ड सेक्शन पर क्लिक करें।
  • यहां ISC Semester-II Examination 2022 REVISED Timetables के लिंक पर क्लिक करें।
  • एक पीडीइएफ फाइल खुलेगी। इसमें आईएससी सेमेस्टर-2 का परीक्षा कार्यक्रम उपलब्ध होगा।
  • छात्र और शिक्षक इस पीडीएफ फाइल को डाउनलोड कर लें।
  • छात्र जरूरत के आधार पर इसका प्रिंट आउट भी ले सकते हैं।

परीक्षाओं के लिए डेढ़ घंटे का समय निर्धारित

सीआईएससीई की ओर से आईएससी सेमेस्टर-2 परीक्षाओं के लिए डेढ़ घंटे का समय निर्धारित किया गया है। छात्रों को इसी समय-सीमा में अपना पेपर पूरा करना होगा। परीक्षा में केवल 50 फीसदी सिलेबस से ही सवाल पूछे जाएंगे। स्कूलों के बंद होने के कारण सिलेबस में 25 से 30 फीसदी की कटौती भी की गई है।