• Hindi News
  • Career
  • Delhi University Approves UG Syllabus For 4 Years, There Will Also Be An Option To Leave The Course In The Middle

डीयू की नई पहल:दिल्‍ली यूनिवर्सिटी ने 4 वर्ष के यूजी सिलेबस को दी मंजूरी, बीच में कोर्स छोड़ने का ऑप्शन भी रहेगा

3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

दिल्ली यूनिवर्सिटी ने गुरुवार यानि 18 अगस्त को नये अंडर ग्रेजुएट करिकुलम फ्रेमवर्क (UGCF) के आधार पर चार साल के ग्रेजुएट कोर्सेस (FYUP) के पहले सेमेस्टर के सिलेबस को मंजूरी दे दी है। यूनिवर्सिटी की कार्यकारी परिषद ने इस सिलेबस को मंजूर किया है।

परिषद के एक सदस्य ने एजेंसी को बताया, '' 03 अगस्त को एकेडमिक काउंसिल की मंजूरी के बाद सिलेबस को एग्जीक्यूटिव काउंसिल में मंजूरी के लिए रखा गया था। एजेंडे में शामिल सभी कोर्सेस के FYUP कोर्सेस को कार्यकारी परिषद ने पारित कर दिया है। इस पर दो सदस्यों ने असहमति नोट भी जारी किया था। नया कोर्स शैक्षणिक वर्ष 2022-23 से लागू किया जाएगा।''

किन कोर्सेस का सिलेबस हुआ मंजूर
बिजनेस इकोनॉमिक्स में बीए (ऑनर्स), बीए (ऑनर्स) मल्टी-मीडिया और मास कम्युनिकेशन, इलेक्ट्रॉनिक साइंस में बीएससी और माइक्रोबायोलॉजी में बीएससी (ऑनर्स) कोर्स का सिलेबस मंजूर हुआ है। इसे एक स्थायी समिति ने पारित किया है। एक कोर्स कमेटी में पांच प्रोफेसर होते हैं - 2 संबंधित विभाग से और 3 कॉलेज के प्रोफेसर।

बीच में कोर्स छोड़ने का ऑप्शन
चार साल के यूजी कोर्स में हर साल कोर्स को छोड़ने का ऑप्शन होगा। पहले साल सर्टिफिकेट के साथ, दूसरे साल डिप्लोमा के साथ, तीसरे साल ऑनर्स के साथ इस यूजी कोर्स को छोड़ने का विकल्प स्टूडेंट्स को मिलेगा। चार साल पूरा करने पर उन्हें ऑनर्स विद रिसर्च मिलेगा। इसे देखते हुए डीयू के पांच साल के इंटिग्रेटेड जर्नलिज्म कोर्स को भी तीन साल में छोड़ने का ऑप्शन अब स्टूडेंट्स को मिल सकता है।