• Hindi News
  • Career
  • IIIT Bangalore Held E Convocation For The First Ever Time, 282 Students Got Their Graduate Degrees During Online Convocation

ई- कॉन्वोकेशन:IIIT-बैंगलोर ने पहली बार आयोजित किया ऑनलाइन दीक्षांत समारोह, 282 ग्रेजुएट स्टूडेंट्स को मिली डिग्री

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी बैंगलोर (IIIT-B) ने रविवार, 5 जुलाई को पहली बार ई- कॉन्वोकेशन को आयोजन किया। कोरोनोवायरस महामारी की वजह से बने हालात को देखते हुए मौजूदा स्थिति के बीच इंस्टीट्यूट ने अपने 20 वें दीक्षांत समारोह को ऑनलाइन आयोजित किया। इस दौरान संस्थान ने 282 ग्रेजुएट स्टूडेंट्स को डिग्री प्रदान की। इसमें 7 पीएचडी डिग्री, 13 मास्टर ऑफ साइंस रिसर्च डिग्री, 159 एम.टेक डिग्री, 11 एमएससी डिग्री, 63 दोहरी डिग्री, और 29  प्रायोजित एम.टेक डिग्री दी गई।

चुनौतीपूर्ण रहा यह साल

इस ई- कॉन्वोकेशन को संबोधित करते हुए, IIIT बैंगलोर निदेशक ने कहा कि, “वार्षिक दीक्षांत समारोह ग्रेजुएट स्टूडेंट्स और इंस्टीट्यूट की फैकल्टी मेंबर्स के दिलों में एक विशेष स्थान रखता है। उन्होंने कहा कि यह साल हमारे लिए बहुत ही चुनौतीपूर्ण और विशेष रहा, क्योंकि हमें अपने पाठ्यक्रम को पूरा करने के लिए ईनोवेटिव तरीके खोजने के साथ ही अपने स्टूडेंट्स, स्टाफ और फैकल्टी की सुरक्षा सुनिश्चित करनी थी। ”

के. विनय चंद्रशेखर ने जीते तीन अवॉर्ड

इस साल इंटीग्रेटेड एम.टेक में ग्रेजुकेशन पूरा करने वाले के विनय चंद्रशेखर ने द स्टूडेंट ऑफ द ईयर, इंस्टीट्यूट गोल्ड मेडल और सीताराम जिंदल गोल्ड मेडल जैसे तीन पुरस्कार भी जीते। अब वह अमेरिका के पेंसिल्वेनिया स्टेट यूनिवर्सिटी से पीएचडी करेंगे। इसके अलावा ओइद्रिला मतिलाल, जिन्होंने यूरोपीय सम्मेलन में बेस्ट पेपर अवॉर्ड जीता; राजावेलस्मी, जिन्हें थर्ड जेनरेशन पार्टनरशिप प्रोजेक्ट (3GPP) का उपाध्यक्ष चुना गया था, और प्रज्ञान मोहपात्रा, जिन्हें 2019 की इंटेल इंडिया रिसर्च फैलोशिप प्राप्त हुई थी आदि ने भी इस साल अच्छा प्रदर्शन किया।