• Hindi News
  • Career
  • MCC Releases Counseling Schedule For NEET, First Round Will Start From October 27, First Allotment List Will Be Released On November 05

NEET 2020:MCC ने जारी किया NEET के लिए काउंसलिंग शेड्यूल, 27 अक्टूबर से शुरू होगा पहला राउंड, 05 नवंबर को जारी होगी पहली अलॉटमेंट लिस्ट

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

मेडिकल काउंसलिंग कमेटी (MCC) ने नेशनल एलिजिबिलिटी-कम-एंट्रेंस टेस्ट (NEET) के लिए काउंसलिंग का शेड्यूल जारी कर दिया है। 15 प्रतिशत अखिल भारतीय कोटा (AIQ) में एडमिशन देने का पूरा प्रोग्राम ऑफिशियल वेबसाइट mcc.nic.in पर जारी कर दिया गया है। जारी शेड्यूल के मुताबिक काउंसलिंग के पहले राउंड के लिए रजिस्ट्रेशन 27 अक्टूबर, 2020 से शुरू होगा। इसके लिए आखिरी तारीख 02 नवंबर, 2020 शाम 5 बजे तक तय की गई है।

27 अक्टूबर, 2020 से शुरू काउंसलिंग

पहले राउंड में च्वाइस फिलिंग 28 अक्टूबर से 2 नवंबर तक होगी और सीटों का आवंटन 3 एवं 4 नवंबर को होगा। वहीं, पहली सीट अलॉटमेंट लिस्ट 05 नवंबर, 2020 को जारी की जाएगी। इसके बाद भी अगर सीटें खाली रह जाती हैं तो दूसरी काउंसलिंग 18 नवंबर से 22 नवंबर के बीच आयोजित होगी और सीट अलॉटमेंट का रिजल्ट 23 नवंबर तक जारी होगा।

काउंसलिंग प्रोसेस और रजिस्ट्रेशन फीस

ऑल इंडिया कोटा (AIQ) की सीटों के लिए शार्ट-लिस्ट हुए कैंडिडेट्स को MCC की ऑफिशियल वेबसाइट पर पहले रजिस्ट्रेशन करना होगा। रजिस्ट्रेशन के दौरान ही ऑनलाइन एप्लीकेशन फीस का भी भुगतान करना होगा। पिछले साल जनरल कैंडिडेट्स के लिए AIQ और केंद्रीय विश्वविद्यालयों की सीटों के लिए रजिस्ट्रेशन फीस 1000 रुपये रखा गया था, जबकि एससी, एसटी, ओबीसी और पीडब्ल्यूडी के लिए 500 रुपये रजिस्ट्रेशन फीस थी। वहीं, डीम्ड विश्वविद्यालयों की सीटों के लिए रजिस्ट्रेशन फीस 5000 रुपये निर्धारित थी। NEET 2020 काउंसलिंग रजिस्ट्रेशन फीस के लिए कैंडिडेट्स को MCC द्वारा जारी की जाने वाले शेड्यूल का इंतजार करना होगा।

13 सितंबर को हुई थी परीक्षा

MCC 15 प्रतिशत अखिल भारतीय कोटा के तहत सीटों पर एडमिशन के लिए ऑनलाइन काउंसलिंग आयोजित करेगी। इसमें AFMC, ESI, दिल्ली यूनिवर्सिटी (DU), BHU और AMU और डीम्ड यूनिवर्सिटी सहित केंद्रीय संस्थानों में सीटें होंगी। देशभर में NEET का आयोजन 13 सितंबर को पेन पेपर मोड में किया गया था। इस परीक्षा के लिए कुल 15.97 लाख कैंडिडेट्स ने रजिस्ट्रेशन करवाया था, जिनमें से 85 फीसदी से 90 फीसदी स्टूडेेट्स परीक्षा में शामिल हुए थे।