पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Career
  • MP Board 10th Result 2021| If You Are Unhappy With The Result Of One Or Two Subjects, You Will Be Able To Appear In The Optional Examination, Know The Process Of Improving The Marksheet

MP बोर्ड 10वीं- 2021:एक या दो विषयों के परिणाम से है नाखुश तो भी वैकल्पिक परीक्षा में हो सकेंगे शामिल, जानें मार्कशीट में सुधार की प्रोसेस

2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल ने बुधवार, 14 जुलाई को 10वीं बोर्ड का रिजल्ट जारी कर दिया। कोरोना की वजह से रद्द हुई परीक्षा का रिजल्ट आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर घोषित किया गया है। जारी रिजल्ट के मुताबिक, एकेडमिक सेशन 2020-21 में 3,56,582यानी 39 फीसदी स्टूडेंट्स फर्स्ट डिवीजन आए हैं। वहीं, 39,76,26 यानी 43.50 फीसदी ने सेकंड और 1,59,871 (17.48%) स्टूडेंट्स ने थर्ड डिवीजन हासिल किया है।

परीक्षा में शामिल होंगे असंतुष्ट स्टूडेंट

बोर्ड की तरफ से तैयार मूल्यांकन योजना के आधार पर जारी रिजल्ट से असंतुष्ट स्टूडेंट के पास वैकल्पिक परीक्षा में शामिल होने का भी ऑप्शन है। ऐसे स्टूडेंट्स के लिए बोर्ड सितंबर में एक विशेष परीक्षा का आयोजन करने जा रहा है। परिणाम से असंतुष्ट विद्यार्थी इस परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते हैं। अगर स्टूडेंट एक या दो विषय के परिणाम से खुश नहीं है तो वह सिर्फ उन विषयों की ही परीक्षा भी दे सकता है।

मार्कशीट सुधार के लिए करें आवेदन

10वीं की मार्कशीट में किसी भी तरह की कोई गलती होने पर स्टूडेंट्स रिजल्ट जारी होने के तीन महीने बाद तक इसके लिए आवेदन कर सकता है। ध्यान दें कि यह प्रक्रिया पूरी तरह निशुल्क होती है। हालांकि, समय सीमा समाप्त होने के बाद सुधार करवाने पर स्टूडेंट को शुल्क जमा करना होगा। इसके अलावा स्टूडेंट्स को बोर्ड द्वारा सितंबर में होने वाली विशेष परीक्षा के लिए परीक्षा शुल्क जमा करना होगा।

10वीं के स्टूडेंट्स को 1 से 10 अगस्त के बीच एमपी बोर्ड की ऑफिशियल वेबसाइट के जरिए रजिस्ट्रेशन कराना होगा। विशेष परीक्षा देने वाले स्टूडेंट्स का परिणाम परीक्षा के आधार पर ही तय होगा।