Job Alert / बेहतर करियर के लिए कारगर साबित हो रहें हैं वोकेशनल कोर्स

Dainik Bhaskar

May 30, 2019, 10:51 AM IST
Vocational courses are proving to be effective for a better career

रोजगार के अवसरों में बढ़ते कंपटीशन के चलते डिग्री होने के बावजूद भी युवा परेशान रहते हैं। इस बढ़ती समस्या की वजह युवाओं में स्किल्स की कमी का होना है। हालांकि बीते कुछ सालों में शिक्षा के क्षेत्र में विस्तार हुआ है, जिससे कई प्रकार की नौकरियों के अवसर भी बढ़े हैं। लेकिन युवाओं में स्किल्स की कमी होने के कारण वे नौकरी के बेहतर अवसरों से वंचित हैं।

इन्हीं सब परेशानियों को देखते हुए भारत में स्किल इंडिया जैसे अभियान भी चलाये गए हैं जहां युवाओं को विभिन्न फील्ड्स में ट्रेनिंग दी जाती है ताकि उन्हें बेरोजगारी से जूझना न पड़े। ऐसे में भारत के कई राज्यों में स्कूली शिक्षा के दौरान ही छात्रों को वोकेशनल यानि स्किल कोर्स के बारे में बताया और समझाया भी जाता है।


क्या है वोकेशनल या स्किल कोर्स

वोकेशनल कोर्स में विद्यार्थियों को किसी खास फील्ड में ट्रेन किया जाता है और उसके नए ट्रेंड्स के बारे में बताया जाता है, ताकि विद्यार्थी को उस फील्ड की पूरी समझ और विस्तृत प्रशिक्षण भी मिल सके । इस तरह के कोर्स करने से न केवल नौकरी मिलने में आसानी होती है बल्कि युवाओं में आत्मविश्वास भी बढ़ता है।


पहले समय में भी वोकेशनल शिक्षा के कई उदाहरण मिल जाते हैं, जैसे जमींदार , साहूकार, चित्रकार आदि जो अपनी आने वाली पीढ़ियों को खुद ही व्यवसाय में प्रशिक्षित करते थे ताकि उनकी काम करने की कला और तकनीक सही ढंग से विकसित हो सके।

वोकेशनल या स्किल कोर्स करने के फायदे:

  • वोकेशनल एजुकेशन न केवल रोजगार के अधिक अवसर देती है, बल्कि युवाओं को रोजगार के लिए सक्षम भी बनाती है।
  • वोकेशनल एजुकेशन छात्रों को अपनी ड्रीम जॉब पाने का मौका देती है।
  • अपनी स्किल्स के जरिये, फ्रीलांसिंग के अवसरों के भी कई विकल्प मिल जाते हैं।
  • कोर्स करने के दौरान ही कमाने का मौका मिलता है।
  • वोकेशनल कोर्स विषय के ज्ञान के साथ-साथ विद्यार्थी में क्रिएटिविटी को भी बढ़ाता हैं।
  • खुद का व्यवसाय शुरू करने के रास्ते खुलते हैं।

कहाँ से करें वोकेशनल या स्किल कोर्स

भारत में कई ऐसे कॉलेज और यूनिवर्सिटी हैं जो छात्रों को विभिन्न वोकेशनल कोर्स ऑफर करते हैं । बेहद कम समय में प्रसिद्धी हासिल करने वाली भारतीय स्किल डेवलपमेंट यूनिवर्सिटी वोकेशनल कोर्स के लिए एक बेहतर विकल्प के रूप में उभर कर सामने आयी है। ये भारत में एकमात्र ऐसी यूनिवर्सिटी है ,जो केवल वोकेशनल कोर्स ही ऑफर करती है। यहाँ छात्रों को विभिन्न प्रकार के वोकेशनल कोर्स ऑफर किए जाते हैं, जिसमें 6 माह की इंटर्नशिप से लेकर 3 साल के डिग्री कोर्स शामिल हैं । सभी स्किल कोर्सेज़ में इंडस्ट्री एक्स्पर्ट्स के द्वारा डिज़ाइन किए गए पाठ्यक्रम शामिल होते हैं ।

जहां एक तरफ इंडस्ट्री में स्किल्ड युवाओं की कमी है वहीं इस युनिवर्सिटी में सभी कोर्सेज़ में डिप्लोमा, डिग्री, पोस्ट-ग्रेजुएट डिग्री व पीएचडी भी ऑफर की जा रही है। BSDU से प्रशिक्षित हुआ हर विद्यार्थी अपनी रुचि और कौशल के अनुरूप सही नौकरी का उम्मीदवार बनता है।जिस कारण यहाँ से प्रशिक्षित हुए सभी विद्यार्थी, नौकरी के क्षेत्र में फ्रेशर्स की तरह नहीं बल्कि प्रोफेशनल उम्मीदवार के रूप में आगे आते हैं। महिंद्रा, हुंडई, होंडा, मदर डेरी, अदित्या बिरला, अडानी, डाबर, मारुति सुज़ुकी जैसी कई नामी कंपनियों में इन प्रोफेशनल केंडिडेट्स को प्लेसमेंट का मौका भी मिलता है।

वैश्विक दृष्टिकोण से यदि देखा जाए तो विश्वभर में स्किल्ड-मैनपावर की निरंतर रूप से आवश्यकता बनी रहती है। और भारत जैसा युवा देश यदि प्रकृतिक संसाधनों के साथ-साथ अपने मानवीय संसाधनों में भी कौशल रूपी शक्ति का समावेश करता है, तो निःसंदेह भारत एक समृद्ध व विकसित राष्ट्र की ओर कदम बढ़ा सकता है। इसी को ध्यान में रखते हुए भारतीय स्किल डेवलेपमेंट यूनिवर्सिटी में कंप्यूटर, रेफ्रीजरेशन, एयर कंडीशनिंग, कन्स्ट्रकशन, मेटल कन्स्ट्रकशन, हेल्थकेयर स्किल इत्यादि जैसे रोजगारमुखी कोर्सेज़ कराए जाते हैं। साथ ही स्वयं का बिज़नेस शुरू करने के लिए आनत्र्प्रेनयोरशिप का कोर्स भी ऑफर किया जाता है।

इन कोर्सेज़ की ज़्यादा जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

आधुनिक दौर में हर जगह टेलेंटेड केंडीडेट की मांग है, इसलिए अपने स्किल्स को पहचान कर करियर में आगे बढ़ना ही समझदारी है। उज्जल भविष्य की कामना करने वाले विद्यार्थी केवल डिग्री के पीछे न भागें बल्कि अपने स्किल को निखारें ताकि नौकरी के लिए अप्लाई करते समय फ़्रेशर नहीं बल्कि ट्रेंड उम्मीदवार की तरह तैयार हों।


X
Vocational courses are proving to be effective for a better career
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना