चंडीगढ़ समाचार

--Advertisement--

बॉयज में द्रोण जीते, गर्ल्स में निमरत बनी चैंपियन

बॉयज में द्रोण जीते, गर्ल्स में निमरत बनी चैंपियन

Danik Bhaskar

Dec 01, 2017, 07:42 PM IST

चंडीगढ़। सीएलटीए-आएटा चैंपियनशिप सीरीज में द्रोण वालिया ने बॉयज अंडर-18 में खिताब हासिल किया है जबकि गर्ल्स में निमरत कौर अटवाल ने जीत कर राहत महसूस की। सीएलटीए-10 में खेले गए सीनियर बॉयज फाइनल में द्रोण ने सेकंड सीड भूपेंद्र को सीधे सेटों में हराया जबकि निमरत कौर ने राहत मंगत को फाइनल में आसानी से सीधे सेटों में हराकर बाहर किया। जूनियर बॉयज का टाइटल टॉप सीड रुषिल खोसला को मिला जबकि लड़कियों में टॉप सीड सूर्यांशी तलवार विजेता रहीं।


बॉयज अंडर-18 के फाइनल में आठवीं सीड द्रोण वालिया ने तीसरी बार उलटफेर किया। द्रोण ने फाइनल में लोकल स्टार व सेकंड सीड भूपेंद्र दहिया को 6-0, 7-6(5) से हराकर बाहर किया। द्रोण ने पहले ही सेट में अपने इरादे जाहिर कर दिए थे। उन्होंने तेज सर्व के दम पर लगातार अंक हासिल किए और भूपेंद्र को एक भी गेम जीतने का मौका नहीं दिया। पहला सेट द्रोण ने 6-0 से जीता। भूपेंद्र ने दूसरे सेट में कम बैक करने की कोशिश की। उन्होंने पहले 5-5 गेम के साथ बराबरी की और फिर स्कोर 6-6 हो गया। नतीजे के लिए टाइब्रेकर का सहारा लेना पड़ा। इसमें द्रोण ने 7-5 की जीत के साथ सेट 7-6(5) से अपने नाम किया। इससे पहले सेमीफाइनल में उन्होंने छठी सीड असव कुमार को 6-1, 6-3 से हराकर बाहर किया था।

रुषिल ने अपनी जीत रखी जारी:

बॉयज अंडर-12 में टॉप सीड रुषिल खोसला ने लगातार जीत के बाद खिताब हासिल कर लिया। उन्होंने पांचवीं सीड श्रयवीर को तीन सेट में 6-4, 3-6, 7-6(4) से हराया। पहले ही सेट में रुषिल ने आक्रामक शुरुआत की और अंक जुटाने शुरू कर दिए। उनका सामना श्रयवीर नहीं कर सके और पहला सेट 6-4 से हार गए। दूसरे सेट में श्रय ने कमबैक किया और 3-6 की जीत के साथ मैच बराबरी पर ला दिया। तीसरे सेट में दोनों खिलाड़ी बराबर रहे और एक एक गेम जीतकर आगे बढ़ते रहे। दोनों ने 6-6 गेम जीतीं। टाइब्रेकर में रुषिल ने क्लास दिखाई और 7-6(4) से सेट अपने नाम कर लिया।

निमरत ने राहत को दी शिकस्त:
गर्ल्स अंडर-18 में अनसीडेड निमरत कौर अटवाल ने खिताब जीतने में कोई गलती नहीं की। फाइनल में निमरत का मुकाबला राहत मंगत के साथ था। राहत ने सेमीफाइनल में उलटफेर किया था लेकिन यहां पर वे जीत की लय को कायम नहीं रख सकीं। पहले सेट में दोनों ने अच्छी शुरुआत जरूर की और एक एक अंक के लिए जंग होती रही। 4-4 से बराबर होने के बाद निमरत ने 6-4 से सेट अपने नाम कर लिया। इसके बाद दूसरे सेट में राहत पूरी तरह से बैकफुट पर रहीं और निमरत ने 6-1 की जीत के साथ खिताब पर कब्जा कर लिया। सेमीफाइनल में निमरत ने प्रियंका को 3-6, 6-1, 6-3 से शिकस्त दी थी।

जूनियर गर्ल्स में सूर्यांशी जीतीं:
गर्ल्स अंडर-12 सिंगल्स में टॉप सीड सूर्यांशी को खिताब मिला। फाइनल में उन्होंने जिज्ञासा नरसिंघानी को आसानी के साथ 6-1, 6-1 से हराकर बाहर कर दिया। सूर्यांशी ने पहले गेम से अटैक किया और एक गेम उन्होंने गंवाया। पहला गेम सूर्यांशी ने 6-1 से जीता जबकि दूसरे सेट में भी उन्होंने एक ही गेम गंवाया। सीधे सेटों में जीत के साथ सूर्यांशी ने खिताब जीत लिया। सेमीफाइनल में सूर्यांशी ने सानवी गर्ग को 7-5, 6-0 से हराकर बाहर किया था जबकि दूसरे सेमीफाइनल में जिज्ञासा ने जेश्ना को 6-1, 6-1 से मात दी थी।

Click to listen..