ग्रुप हाउसिंग सोसायटीज के तहत फ्लैट बनाने वाले एक एकड़ में 40 से ज्यादा नहीं बना सकेंगे फ्लैट्स

News News - भास्कर न्यूज | कपूरथला/चंडीगढ़ पंजाब में इम्प्लाइज को-ऑपरेटिव ग्रुप हाउसिंग सोसायटीज के तहत फ्लैट बनाने वाले एक...

Bhaskar News Network

Sep 11, 2019, 07:25 AM IST
Chandigarh News - those who build flats under group housing societies will not be able to build more than 40 flats in one acre
भास्कर न्यूज | कपूरथला/चंडीगढ़

पंजाब में इम्प्लाइज को-ऑपरेटिव ग्रुप हाउसिंग सोसायटीज के तहत फ्लैट बनाने वाले एक एकड़ में 40 फ्लैट्स से ज्यादा नहीं बना सकेंगे। इसके अलावा पूडा व विशेष अथॉरिटी के रिहायशी प्लाटों में सरकारी मुलाजिमों के लिए 3 प्रतिशत आरक्षण दिया जाएगा। यह दो अहम फैसले सुल्तानपुर लोधी में कैबिनेट की मीटिंग में लिए गए हैं। मीटिंग में हाउस अलॉटमेंट संबंधी यह फैसला लिया गया है। विभिन्न विकास अथॉरिटियों द्वारा इम्प्लाइज को-ऑपरेटिव ग्रुप हाउसिंग सोसायटीज (ईसीजीएचएस) को अलॉट किए फ्लैटों पर प्रति एकड़ संख्या वाली शर्त पर रोक लगाने का यह फैसला सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह द्वारा 20 फरवरी, 2018 को विधानसभा में अपने भाषण के दौरान किया था। मंत्रिमंडल ने पूडा और अन्य विशेष अथॉरिटियों के अधिकार क्षेत्र की जमीनों /स्थानों की अलॉटमेंट के लिए आरक्षण नीति को मंजूरी दी है। पंजाब में अदालतों द्वारा न्याय देने में तेजी लाने के मकसद से मंत्रिमंडल ने राज्य की अधीनस्थ अदालतों में कोर्ट मैनेजर ग्रेड -2 के 24 पदों की सृजना करने की मंजूरी दे दी।

विशेष अथॉरिटी के रिहायशी प्लाॅटों में सरकारी मुलाजिमों के लिए मिलेगा 3 फीसदी आरक्षण

पहली बार सुल्तानपुर लोधी में कैबिनेट की मीटिंग, कई फैसलों पर मुहर

विशेष अथॉरिटीज के अधिकार क्षेत्र की जमीनों की अलॉटमेंट के लिए आरक्षण नीति को मंजूरी

मंत्रिमंडल की बैठक की अध्यक्षता करते मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह।

पंजाब सरकार के इन कर्मचारियों को मिलेगा लाभ

पॉलिसी के तहत आरक्षण के लिए पंजाब सरकार और इसके बोर्डों व निगमों के कर्मचारी, पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट के कर्मचारी, पंजाब सरकार के सहकारिता विभाग के अधीन काम करती बड़ी संस्थाओं- मार्कफैड, मिल्कफैड, पंजाब राज्य को-ऑपरेटिव बैंक, हाउस फैड के अधिकारी /कर्मचारी और पंजाब सरकार द्वारा सहायता प्राप्त यूनिवर्सिटियों के कर्मचारी पात्र होंगे। इस स्कीम के अधीन अप्लाई करने के लिए उम्मीदवार ने कम-से-कम 5 साल की रेगुलर सर्विस की होनी चाहिए।

पति-प|ी के नाम नहीं होना चाहिए फ्लैट

अलॉटमेंट सिर्फ उन उम्मीदवारों को की जाएगी, जिनका अपने नाम या प|ी/पति या निर्भर व्यक्ति के नाम कोई फ्लैट /प्लॉट न हो। इसके साथ ही उम्मीदवार को ऐच्छिक कोटे या किसी स्कीम के अधीन प्राथमिकता के आधार पर कोई रिहायशी प्लॉट/घर अलॉट न लिया हो। उम्मीदवार को विभाग के संबंधित डीडीओ द्वारा रेगुलर ज्वाईनिंग /सेवामुक्ती की तारीख़ संबंधी तस्दीकशुदा आवेदन जमा करवाना होगा।

सुरक्षा के लिए तैनात थे हजारों पुलिस मुलाजिम

बैठक में सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह व पूरा मंत्रिमंडल मौजूद ही था साथ में सीएम हाउस से पूरा स्टाफ, सुरक्षा के लिए 1 हजार से अधिक पुलिस मुलाजिम और गाड़ियों का काफिला देख कर सुल्तानपुर लोधी में भी चंडीगढ़ सेक्रेट्रिएट का माहौल देखने को मिला। इतिहास में पहली बार पंजाब की कैबिनेट बैठक चंडीगढ़ सेक्रेट्रिएट के बिना सुल्तानपुर लोधी के मार्केट कमेटी हाल में हुई।

हम पानी बचाने में नाकाम रहे तो मरूस्थल बन जाएगा पंजाब:सीएम

मंत्रिमंडल ने राज्य में भूजल के तेजी से गिरते जल स्तर को जाेरदार ढंग से रोकने काे जरूरी प्रशासकीय और कानूनी कदम उठाने का दृढ़ निश्चय किया। मुख्यमंत्री के नेतृत्व में मंत्रिमंडल ने अपने प्रस्ताव में सतलुज, ब्यास और रावी नदियों के किनारों को नहरों की तर्ज पर बांधने के लिए सक्रिय कदम उठाने की जरूरत पर जाेर दिया जिससे पानी के सभ्य प्रयोग को यकीनी बना कर भूजल को बचाने के अलावा इसको खराब होने से बचाया जा सके। मुख्यमंत्री ने कहा कि यदि हम अपनी जिम्मेदारी निभाने में नाकाम रह गए तो पंजाब मरूस्थल में तबदील हो जाएगा। हरेक नागरिक का फर्ज बनता है कि वह बेशकीमती प्राकृतिक संसाधनों को बचाने के लिए राज्य सरकार के य|ों में अपना सहयोग दे क्योंकि यह प्राकृतिक स्त्रोत मानवता की जीवन धारा है। राज्य के 85 प्रतिशत हिस्से के भूजल का स्तर गिर रहा है जो सालाना औसतन 50 सेंटीमीटर की दर से नीचे जाता है।

बैठक से पहले ही मंत्री सोनी की बिगड़ी सेहत

बैठक में शामिल होने कैबिनेट मंत्री ओपी सोनी भी पहुंचे हुए थे लेकिन उनकी सेहत बिगड़ गई। उनकी आंख में प्रॉब्लम थी। जिस कारण वह सीएम से छुट्टी लेकर गुरुद्वारा श्री बेर साहिब में माथा टेकने के बाद वापस चले गए। बैठक 3 घंटे तक चली।

सुपर स्पेशिलिटी अस्पताल पर सियासत : उपिंदरजीत कौर

सुल्तानपुर लोधी को पंजाब कैबिनेट में सुपर स्पेशिलिटी अस्पताल का तोहफा दिया है। यह अस्पताल पुरातन सिविल अस्पताल को अपग्रेड के तौर पर ही बनेगा। इस पर शिअद की पूर्व कैबिनेट मंत्री डा. उपिंदरजीत कौर ने कहा कि यह मांग उन्होंने कुछ महीने पहले पंजाब के सीएम व पीएम नरिंदर मोदी को पत्र लिख कर की थी। आज भी कैप्टन को सिरोपा देते समय यह मांग उठाई गई थी।

X
Chandigarh News - those who build flats under group housing societies will not be able to build more than 40 flats in one acre
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना