• Hindi News
  • Chhatisgarh
  • Ambikapur
  • टेबलेट संचालन के संबंध मेंे आयोजित हुई कार्यशाला
--Advertisement--

टेबलेट संचालन के संबंध मेंे आयोजित हुई कार्यशाला

Ambikapur News - अंबिकापुर| स्कूलों को डिजिटल करने के लिए शालाकोष योजना के तहत गुरुवार को जिला ग्रंथालय में टेबलेट संचालन से...

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 02:00 AM IST
टेबलेट संचालन के संबंध मेंे आयोजित हुई कार्यशाला
अंबिकापुर| स्कूलों को डिजिटल करने के लिए शालाकोष योजना के तहत गुरुवार को जिला ग्रंथालय में टेबलेट संचालन से संबंधित प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें स्कूलों सहित शिक्षकों एवं विद्यार्थियों की जानकारी टेबलेट में अपलोड करने के बारे में राज्य स्तरीय अधिकारियों द्वारा बताया गया।

शालाकोष योजना से राज्य स्तर से लेकर स्कूल स्तर पर सभी कार्य पेपरलेस हो जाएंगे। इसमें शिक्षकों की उपस्थिति बायोमेट्रिक के माध्यम से होगी तथा अवकाश या अन्य से संबंधित आवेदन भी आनलाइन के माध्यम से दिए जाएंगे। इसी तरह विद्यार्थियों की उपस्थिति भी टेबलेट के माध्यम से की जाएगी साथ ही मध्यान्ह भोजन एवं स्कूल की सभी जानकारी आनलाइन दर्ज एवं सुधारी जा सकेगी। प्रशिक्षण कार्यशाला में स्कूलों को टेबलेट वितरण करते हुए प्रधानपाठकों एवं शिक्षकों की बायोमेट्रिक जानकारी अपलोड करते हुए संचालन संबंधी जानकारी दी गई। जिला मिशन समन्वयक केसी गुप्ता के निर्देशन में टेबलेट वितरण एवं प्रशिक्षण कार्य संपादित हुआ। कार्यशाला में राज्य परियोजना कार्यालय से आरके तिवारी सहायक संचालक, निलेश सोनी प्रोजेक्ट मैनेजर चिप्स, कबीर वर्मा टेक्निकल सहायक एवं आशीष दुबे सहायक संचालक, संजय सिंह एपीसी, सौरभ सिंह प्रोग्रामर, अरविन्द गुप्ता उपस्थित थे।

लाेगों की उम्मीदों पर फिर पानी फिरा

नगर निगम के सभापति शफी अहमद ने कहा है कि भाजपा सरकार का यह आखिरी बजट था और लोगों में काफी उम्मीदें थी। जिस तरह से नोटबंदी और जीएसटी को लागू किया गया उससे लोगों को लगने लगा था कि सारा कालाधन सरकार के पास आ चुका है और 15 लाख भी हर खाते में आएंगे। उम्मीद थी कि सरकार घोषणा करेगी लेकिन लोगों को फिर धोखा दिया गया। उज्जवला योजना से लेकर बीमा तक विभिन्न प्रावधान किए हैं लेकिन इसके लिए जितने रकम की आवश्यकता है वह कहां से आएगा।

वोल्टेज हाई होने से कई घरों के बिजली उपकरण खराब हो गए

भास्कर संवाददाता|बिश्रामपुर

सड़क चौड़ीकरण के किए जा रहे विद्युत पोल शिफ्टिंग कार्य में बरती जा रही लापरवाही से आमजनों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। बुधवार की रात अचानक वोल्टेज हाई होने से कई घरों के विद्युत उपकरण खराब हो गए।

जानकारी के अनुसार नगर के मुख्य मार्केट में इन दिनों सड़क चौड़ीकरण सह नाली निर्माण कार्य किया जा रहा है। इसी तारतम्य में सड़क किनारे विद्युत पोलों के शिफ्टिंग का कार्य विभाग द्वारा कराया जा रहा है। लोेगों का कहना है कि पोल शिफ्टिंग व केबल लगाने के बाद से यहां आए दिन अव्यवस्था देखने को मिल रही है। बताया जा रहा है कि बुधवार की रात मार्केट के एक ओर शिफ्ट किए गए विद्युत पोलों के केबल में तकनीकी कारणों से अचानक वोल्टेज काफी बढ़ गया। इससे कई घरों के बल्ब, पंखा व अन्य विद्युत उपकरण खराब हो गए। लोगों का कहना है कि यह कोई पहली घटना नहीं है। विद्युत पोल शिफ्टिंग व लाइन विस्तार कार्य शुरु हुए करीब एक माह बीत गए हैं।

इस संबंध में कनिष्ट यंत्री राजेश जायसवाल ने बताया कि विद्युत पोल शिफ्टिंग व लाइन विस्तार कार्य नियमानुसार ही कराया जा रहा है। बुधवार की रात अंबेडकर चौक के पास अज्ञात वाहन की टक्कर से विद्युत पोल व लाइन में फाल्ट होने से हाई वोल्टेज की स्थिति निर्मित हो गया था।

X
टेबलेट संचालन के संबंध मेंे आयोजित हुई कार्यशाला
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..