• Home
  • Chhattisgarh News
  • Ambikapur News
  • बेटी के घर से लौट रहे बाइक सवारों को कार ने मारी टक्कर, मां व बुआ की मौत
--Advertisement--

बेटी के घर से लौट रहे बाइक सवारों को कार ने मारी टक्कर, मां व बुआ की मौत

भास्कर संवाददाता| अंबिकापुर बनारस रोड में चठिरमा के पास बुधवार की रात सोनवाही में बेटी से मुलाकात कर घर जा रहे...

Danik Bhaskar | Mar 02, 2018, 02:00 AM IST
भास्कर संवाददाता| अंबिकापुर

बनारस रोड में चठिरमा के पास बुधवार की रात सोनवाही में बेटी से मुलाकात कर घर जा रहे बाइक सवारों को सामने से आ रहे एक तेज रफ्तार अज्ञात कार ने चपेट में ले लिया। टक्कर इतनी तेज हुई कि बाइक में बैठे तीनों सवार सड़क पर फेंका गए और मौके पर ही युवती की मां व बुआ की मौत हो गई। बाइक चला रहा भाई घायल हो गया। पुलिस ने घायल को अस्पताल में भर्ती कराया। पुलिस ने मामले में अज्ञात कार के ड्राइवर के खिलाफ अपराध दर्ज कर लिया है। बाइक सवार सोनवाही से अपने घर ग्राम सकालो जाने के लिए निकले थे।

पुलिस ने बताया कि शहर से लगे ग्राम सकालो निवासी मनिया बाई पति धनसाय के बेटी मालती की शादी ग्राम सोनवाही में हुई है। बुधवार को मनिया अपने ननद बसमेत बाई 60 वर्ष व बेटे राजेंद्र साय 20 वर्ष के साथ बाइक में ग्राम सोनवाही अपनी बेटी के यहां मेहमानी में गई थी। पूरे दिन रहने के बाद रात में साढ़े सात बजे के आस-पास तीनों बाइक से वापस घर जाने के लिए निकले। बाइक राजेंद्र चला रहा था। वे बनारस रोड में चठिरमा सरहुल मोटल के पास पहुंचे थे कि अंबिकापुर तरफ से आ रही तेज रफ्तार कार ने चपेट में ले लिया। टक्कर से तीनों फेंका गए। गंभीर चोट आने से मनिया व बसमेत की मौके पर ही मौत हो गई जबकि राजेंद्र बेहोश हो गया।

बाइक चला रहे युवक की हालत गंभीर, पुलिस कार व ड्राइवर की तलाश में जुटी

24 घंटे के दौरान सड़क हादसे में छह लोगों की गई जान

वाहनों की रफ्तार पर नियंत्रण के लिए पुलिस द्वारा पिछले कुछ दिनों से अभियान चलाकर दो पहिया व चार पहिया वाहन चालकों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है कि लेकिन अभी कुछ दिनों में हादसे भी काफी हुए हैं। चौबीस घंटे में ही शहर व इससे लगे क्षेत्रों में तीन सड़क हादसों में छह लोगों की जान चली गई। मंगलवार की रात को बकिरमा के पास ट्रैक्टर में पीछे से टकराकर दो बाइक सवार की मौत हो गई। इसी प्रकार चांची मोड़ में मंगलवार की रात ट्रक में पीछे से टकराकर बाइक सवार दो व्यवसायियों की मौत हो गई थी। तीसरा हादसा बुधवार की रात चठिरमा के पास हुआ जिसमें दो महिलाओं की जान चली गई।

पीएम के बाद पुलिस ने परिजनों को सौंपे शव

रात होने के कारण पुलिस ने दोनों महिलाओं का शव मेडिकल कालेज अस्पताल के मरच्यूरी में रखवा दिया था। सुबह परिजनों के सामने अस्पताल में ही पंचनामा कर पीएम उपरांत दोनों महिलाओं के शव उनके परिजनों को सौंप दिए। घटना से परिवार में मातम पसर गया है। घटना की खबर पर मनिया के बेटी मालती भी सुबह पहुंच गई थी। वह सदमे में थी।

हादसे के बाद ड्राइवर कार लेकर लटोरी तरफ भागा

कार अंबिकापुर तरफ से काफी तेज रफ्तार में आ रही थी। टक्कर के बाद ड्राइवर तेजी से आगे निकल गया। आस-पास के लोगों ने पीछा भी किया लेकिन ड्राइवर कार लेकर भागने में सफल रहा। अंधेरा होने से कार का नंबर भी कोई नहीं देख पाया। पुलिस ने बताया कि टक्कर से बाइक क्षतिग्रस्त हो गई। अज्ञात कार के ड्राइवर के खिलाफ धारा 304 ए के तहत अपराध दर्ज कर पुलिस ने उसकी तलाश शुरू कर दी है।

पुलिस ने घायल को अस्पताल में कराया भर्ती

घटना की सूचना पर गांधीनगर पुलिस पहुंची। तब तक आस-पास के लोग भी पहुंच गए थे। राजेंद्र की सांसें चल रही थी। वह बेहोशी की हालत में था। पुलिस ने राजेंद्र को एंबुलेंस से मेडिकल कालेज अस्पताल में भर्ती कराया। दोनों महिलाओं का शव भी अस्पताल भिजवया। पता चलने पर परिजन भी अस्पताल पहुंच गए। पुलिस ने परिजनों के सामने दोनों महिलाओं का शव मरच्यूरी में रखवा दिया।