• Hindi News
  • Chhatisgarh
  • Ambikapur
  • Ambikapur News chhattisgarh news dust passenger and shopkeepers flying in the waiting stand running from vehicles troubled no roads no water sprinkling
विज्ञापन

प्रतीक्षा स्टैंड में वाहनों के चलने से उड़ रही धूल, यात्री व दुकानदार परेशान, न रोड बना रहे, न पानी छिड़क रहे

Dainik Bhaskar

Feb 14, 2019, 02:02 AM IST

Ambikapur News - प्रतीक्षा बस स्टैंड की सड़क टूटने के बाद बेतहाशा धूल से यात्रियों के साथ वहां के दुकानदार परेशान हैं। 14 घंटे...

Ambikapur News - chhattisgarh news dust passenger and shopkeepers flying in the waiting stand running from vehicles troubled no roads no water sprinkling
  • comment
प्रतीक्षा बस स्टैंड की सड़क टूटने के बाद बेतहाशा धूल से यात्रियों के साथ वहां के दुकानदार परेशान हैं। 14 घंटे दुकानदारों को लगातार धूल में रहना पड़ रहा है। होटलों और ठेलों में भोजन व खाद्य सामग्री तक धूल से सुरक्षित नहीं है। पांच महीने से लोग धूल से घिरे हुए हैं और कई दुकानदार सांस की बीमारी से पीड़ित हो गए हैं। हद तो ये हो गई कि पुलिसकर्मियों को माइक से एनाउंस करना पड़ राह है कि बस स्टैंड में धूल बहुत है, लोग परेशान हैं, गाड़ी धीरे चलाएं।

संभाग का यह सबसे बड़ा बस स्टैंड है और हजारों लोग यहां से रोज आना जाना करते हैं। बस स्टैंड में धूल तो उड़ ही रही है, रिंग रोड के निर्माण के लिए खुदाई से बस स्टैंड से लेकर गौरवपथ और रिंग रोड तक धूल का प्रभाव है। पूरा बस स्टैंड स्वच्छ शहर में आपका स्वागत है जैसी होर्डिंग्स से पटा हुआ है लेकिन धूल से निपटने के लिए झाड़ू तक नहीं लग रही है। गाड़ियों के गुजरने के बाद हवा में धूल का असर बना रहता है। तीन सौ से अधिक बसें अलग-अलग क्षेत्रों के लिए चलती हैं और दिन भर गाड़ियों का आना जाना लगा रहता है। सुबह आठ बजे से रात दस बजे तक यहां दुकानें खुली रहती हैं और लगातार 14 से 15 घंटे दुकानदारों को धूल में रहना पड़ रहा है। गाड़ियों के गुजरने के बाद धूल से सांस लेना मुश्किल हो जाता है।

पौने दो करोड़ का टेंडर निकालने के बाद भी निगम नहीं करा पाया सड़क निर्माण

X
Ambikapur News - chhattisgarh news dust passenger and shopkeepers flying in the waiting stand running from vehicles troubled no roads no water sprinkling
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें