नरवा, घुरुवा योजना की जगह चयन पर विवाद ग्रामीणों ने पंचायत पर लगाया मनमाने काम का आरोप

Ambikapur News - भास्कर संवाददाता|बिश्रामपुर ग्राम सभा में पारित प्रस्ताव को मनमाने तरीके से पंचायत प्रतिनिधियों द्वारा दर...

Bhaskar News Network

Apr 16, 2019, 07:36 AM IST
Surajpur News - chhattisgarh news narva violence over the selection of the gharuwa plan instead of villagers accused of arbitrary work on panchayat
भास्कर संवाददाता|बिश्रामपुर

ग्राम सभा में पारित प्रस्ताव को मनमाने तरीके से पंचायत प्रतिनिधियों द्वारा दर किनार कर कार्य किए जाने से शासन की महत्वाकांक्षी नरवा, घुरुवा, बाड़ी योजना पर ग्रहण लग गया है। ग्रामीणों द्वारा अब पारित प्रस्ताव के स्थल पर ही योजना का क्रियान्वयन कराए जाने की बात कही जा रही है।

विकासखंड सूरजपुर क्षेत्र अंतर्गत ग्राम पंचायत कुरुंवा में पिछले दिनों हुई ग्राम सभा में ग्रामीणों द्वारा बाजारडांड़ के पास शासन की महत्वाकांक्षी योजना के क्रियान्वयन के लिए स्थल चयनित किया गया था। ग्रामीणों का आरोप है कि पंचायत प्रतिनिधियों द्वारा योजना के क्रियान्वयन के लिए मनमाने तरीके से स्थल में बदलाव कर गांव के ही हनुमान व नर्बदेश्वर शिव मंदिर के पास स्थित यज्ञशाला में कार्य शुरू कराने पहल की गई थी। नरवा, गरवा, घुरूवा व बाड़ी योजना के लिए निर्माण कार्य शुरू कराए जाने की पहल पर ग्रामीण एकत्र होकर पंचायत प्रतिनिधियों की मनमानी का विरोध करते हुए निर्माण कार्य पर रोक लगा दी। विरोध के बाद योजना का क्रियान्वयन तो अटक गया लेकिन शासन की महत्वाकांक्षी योजना की परिकल्पना खटाई में पड़ती दिख रही है। ग्रामीणों ने बताया कि तीन साल पूर्व यहां पर यज्ञ कराया गया था और इस साल फिर यज्ञ कराए जाने की योजना है। ऐसी स्थिति में अगर यज्ञशाला के पास योजना के तहत निर्माण कार्य करा दिया गया तो प्रस्तावित यज्ञ कार्यक्रम को स्थगित करना पड़ सकता है। ग्रामीणों का कहना है कि अगर पंचायत प्रतिनिधियों द्वारा जबरन काम कराया गया तो भविष्य में आंदोलन कर विरोध दर्ज कराया जाएगा। शासन की महत्वाकांक्षी योजना का क्रियान्वयन चयनित स्थल बाजारडांड़ के पास ही कराया जाए। इस संबंध में पंचायत सचिव पप्पू मिंज ने बताया कि सभी की उपस्थिति में सर्वसम्मति से यज्ञशाला के समीप ही ग्रामीणों द्वारा योजना के क्रियान्वयन के लिए स्थल चयन कर प्रस्ताव पारित किया था। मनमाने तरीके से प्रस्ताव तैयार किए जाने का आरोप पूरी तरह बेबुनियाद व निराधार है। यज्ञ शाला की पूरी भूमि को योजना के क्रियान्वयन के लिए अधिग्रहित नहीं किया जा रहा है। आचार संहिता के बाद चयनित स्थल पर ही काम शुरू कराया जाएगा।

X
Surajpur News - chhattisgarh news narva violence over the selection of the gharuwa plan instead of villagers accused of arbitrary work on panchayat
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना