--Advertisement--

डकैत ने जिसे बेचा था सोना उसे पकड़ने टीम रवाना

अंबिकापुर| सवा साल पहले ब्रह्म रोड स्थित मणप्पुरम गोल्ड लोन कंपनी के आफिस में हुई डकैती के मामले के एक आरोपी को...

Danik Bhaskar | Apr 17, 2018, 02:10 AM IST
अंबिकापुर| सवा साल पहले ब्रह्म रोड स्थित मणप्पुरम गोल्ड लोन कंपनी के आफिस में हुई डकैती के मामले के एक आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार तो कर लिया पर लूट का सोना बरामद करने में नाकाम रही।

आरोपी ने वारदात में शामिल होने के साथ अपने हिस्से में मिले सोने को झारखंड में बेचने की बात कबूल की है। पुलिस की टीम सोने की बरामदगी सहित मामले के दूसरे आरोपियों की पतासाजी में जुटी है। पुलिस ने आरोपियों के बीच मोबाइल पर हुई बातचीत की काॅल डिटेल निकलवाकर जांच कर रही है। गौरतलब है कि पुलिस ने एक आरोपी संपूर्णानंद पांडेय उर्फ सुशील को गिरफ्तार किया है। आरोपी को बंगाल पुलिस डकैती के मामले में गिरफ्तार की थी। कोतवाली पुलिस पश्चिम बंगाल से प्रोटक्शन वारंट पर लेकर अंबिकापुर ले आई है।

ये चार आरोपी अभी भी फरार

मणप्पुरम डकैतीकांड में गिरफ्तार आरोपी संपूर्णानंद ने बताया उसके साथ सुरेश करमकार, संजय गुप्ता, भूइया, अजय चेरो भी थे। चारों झारखंड के धनबाद जिले के आस-पास के रहने वाले हैं। चारों फरार हैं। संपूर्णानंद इनमें से ही एक आरोपी को गिरोह का सरगना बता रहा है, जबकि पुलिस अभी संपूर्णानंद को ही अभी सरगना मना रही है।

बदमाशों ने दिनदहाड़े लूटा था करोड़ों का सोना

ब्रह्म रोड स्थित मणप्पुरम गोल्ड कंपनी के आफिस में 4 जनवरी 2017 को दोपहर में हथियारबंद बदमाशों ने कट्‌टे की नोंक पर डकैती की थी। डकैत आफिस में मौजूद कर्मियों व ग्राहकों को बंधक बनाकर चेस्ट से सोना लूटकर फरार हो गए थे। जाने से पहले उन्होंने सभी को कमरे में बंद कर दिया था।