कसेर महिलाएं सीख रहीं वाशिंग पाउडर बनाना

Bhaskar News Network

Jan 14, 2019, 03:00 AM IST

Anchalik News - नवापारा राजिम| कहते हैं कि सीखने की कोई उम्र नहीं होती। सालभर पूर्व पुराने कसेर मोहल्ले के सामुदायिक भवन में कौशल...

Nayapara Rajim News - chhattisgarh news how to make warming powder
नवापारा राजिम| कहते हैं कि सीखने की कोई उम्र नहीं होती। सालभर पूर्व पुराने कसेर मोहल्ले के सामुदायिक भवन में कौशल विकास का प्रशिक्षण देने आई टीम ने समाज की महिलाओं को घरेलू इस्तेमाल की कुछ चीजें बनाने की तकनीक इस तरह सिखाई कि आज वह कुछ परिवारों की साइड इनकम का जरिया बन गया तो कुछ इससे प्रशिक्षित हो अन्य महिलाओं को भी इसमें पारंगत कर रही हैं।

मुन्नी कंसारी की प्रेरणा से पार्वती कंसारी एवं द्रौपदी कंसारी तो घरों में कपड़ा धोने वाला वाशिंग पाउडर बनाने की कला में ऐसा कौशल हासिल कर ली कि अब वे स्वनिर्मित वाशिंग पाउडर ‘कशिश’ के नाम से ब्रांडिंग और मार्केटिंग कर रही हैं। उत्पादन लागत 30 रुपए प्रतिकिलो निकालने के बाद इनका प्रोडक्ट प्रतिकिलो 5 से 8 रुपए की बचत दे रहा है। जबकि मार्केट के ब्राडेंड वाशिंग पाउडर 45 से 52 रुपए प्रतिकिलो उपलब्ध है। इतने मूल्य में कशिश पाउडर डेढ़ किलो मिल रहा है।

इनकी इस उपलब्धि से प्रभावित हो समाज की अनेक महिलाएं इनके पास कथित वाशिंग पाउडर बनाने की विधि सीखने पहली बार रविवार को पहुंची। मुन्नी कंसारी के निर्देशन में पार्वती एवं द्रौपदी ने समाज की अनेक महिलाओं को पहले निर्माण में लगने वाले कच्चे माल से अवगत करा इनके सही मात्रा में मिश्रण और उसमें निश्चित एसिड की मात्रा से आधा किलो कपड़ा धोने के सोडे से एक किलो पाउडर बनाना सिखाया।

माया सारस, पदमा कंसारी, बिलासनी कंसारी, पूर्णिमा, गीता, लीला, सपना, सहित अनेक महिलाएं और बालिकाएं सीखने पहुंची। सभी ने इसे बहुत ही किफायती और स्वनिर्मित होने के कारण स्वावलंबी बनने की दिशा में ठोस कदम बताया।

नवापारा राजिम. पाउडर बनाने की विधि बताती पार्वती, द्रौपदी कंसारी।

X
Nayapara Rajim News - chhattisgarh news how to make warming powder
COMMENT