डीजल वैगन से चोरी के मामले में कर्मचारी संदेह के घेरे में

Anchalik News - आधी रात को डीजल वैगन से 40 जरीकेन डीजल का चोरी होना आसान नहीं है। रेलवे के सिग्नल या आपरेटिंग विभाग के कर्मचारियों...

Bhaskar News Network

Mar 16, 2019, 03:16 AM IST
Rawan News - chhattisgarh news in the case of theft of diesel wagons in the circle of suspicion
आधी रात को डीजल वैगन से 40 जरीकेन डीजल का चोरी होना आसान नहीं है। रेलवे के सिग्नल या आपरेटिंग विभाग के कर्मचारियों की मिलीभगत की संभावना भी तलाशी जा रही है। गाड़ी चलाने का काम आपरेटिंग विभाग का है। शाम से खड़ी वैगन को आधी रात को उसलापुर रेलवे स्टेशन से रायपुर के लिए क्यों रवाना किया गया? जबकि लाइन क्लियर नहीं था। ऐसे ढेर सारे सवाल हैं जो यह सोचने पर मजबूर कर रहे हैं कि डीजल की चोरी हुई या करवाई गई है।

11 मार्च की शाम 5 बजे उसलापुर स्टेशन की साइड लाइन पर तेल वैगन आकर रुकी। डीजल भरे वैगन को रायपुर तक जाना था। हेडक्वार्टर से आरपीएफ को अलर्ट जारी किया गया है कि डीजल-पेट्रोल वैगनों को सुरक्षा के साथ अपने क्षेत्र से गुजारे। ऐसा अलर्ट जारी करने की वजह इन वैगनों से चाेरी की आशंका पहले से थाी। इस घटना के एक दिन पहले रायपुर दिशा से डीजल वैगन आया जिसे उसलापुर के आरपीएफ स्टाफ ने घुटकू तक पेट्रोलिंग कर उसे अपने क्षेत्र से आगे बढ़ाया था। दूसरे दिन जब कटनी दिशा से डीजल वैगन आकर रुकी तब इसके रात 12 बजे तक रायपुर के लिए रवाना होने की सूचना आरपीएफ को मिली थी। इस सूचना के आधार पर उसलापुर आरपीएफ की पेट्रोलिंग टीम ने रात 12 बजे तक उसलापुर से अमेरी फाटक और वहां से महाराणा प्रताप चौक ओवरब्रिज के पहले तक ट्रैक के किनारे-किनारे पेट्रोलिंग की थी। ताकि काेई वैगन से तेल चाेरी न कर सके। इसके बाद टीम चली गई। जब टीम चली गई उसके बाद रात 1.15 बजे डीजल वैगन को उसलापुर रेलवे स्टेशन से रायपुर के लिए रवाना किया गया। इसकी कोई सूचना आरपीएफ को नहीं थी। उसलापुर से यह ट्रेन चलकर महज 15 मिनट में ही इंद्रपुरी मोड़ पर पहुंच गई। वहां पर सिग्नल रेड था। ट्रेन के रुकने के बाद तेल माफिया मुल्तान के बेटे बाबू उर्फ असलम ने अपने साथियों के साथ वहां पहुंचकर 40 केन डीजल चोरी कर लिया।

फरार आरोपियों की सरगर्मी से तलाश

डीजल वैगन से डीजल चोरी करने वाले 10 अन्य आरोपियों की तलाश में गुरुवार को आरपीएफ की टीम ने आरोपियों के अलग-अलग ठिकानों पर दबिश दी। अब तक इस मामले में कोई पकड़ में नहीं आया है। सभी आरोपियों के तारबाहर क्षेत्र के निवासी होने की सूचना आरपीएफ को मिली है। आरपीएफ की एक टीम ने तारबाहर क्षेत्र में भी पूछताछ की है।

फरवरी में इसी जगह से गैंग ने चोरी किया था डीजल

पकड़े गए आरोपी इति एल पीटर ने आरपीएफ को बताया कि फरवरी महीने में मुल्तान के बेटे असलम ने इंद्रपुरी इलाके से ही डीजल चोरी किया था। ट्रेन उसी जगह पर खड़ी थी। उस समय वह साथ में नहीं था, जो लोग गए थे डीजल चोरी करने की जानकारी दी थी।

कार्रवाई जारी है


X
Rawan News - chhattisgarh news in the case of theft of diesel wagons in the circle of suspicion
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना