अब गोठान निर्माण मजदूरों सेे, जेसीबी चलाने वालों पर कार्रवाई नहीं की गई

Anchalik News - ग्राम पंचायत पुरगांव में गोठान निर्माण कार्य नियम विरुद्ध करने से 4 माह तक बंद कर दिया गया था, जिसे फिर से शुरू किया...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 06:35 AM IST
Bilaigarh News - chhattisgarh news now from gothan construction workers jcb operators have not been prosecuted
ग्राम पंचायत पुरगांव में गोठान निर्माण कार्य नियम विरुद्ध करने से 4 माह तक बंद कर दिया गया था, जिसे फिर से शुरू किया गया है। दरअसल 4 माह पहले शुरू हुआ काम जेसीबी से किया जा रहा था जबकि सारा काम मजदूरों से कराने के सरकार के निर्देश हैं। हालांकि फिर से शुरू करने पर मजदूरों को काम पर लगाया गया है पर पुराने काम की जांच अब तक नहीं हुई है और न ही किसी पर कार्रवाई की गई है। सीईओ का कहना है कि जेसीबी से हुए काम की जांच पर कार्रवाई कलेक्टर को करना है, मुझे तो योजना को समय पर पूरा करने काम करने कहा गया है, जो मैं कर रहा हूं।

पुरगांव में छत्तीसगढ़ सरकार की महती योजना नरवा गरवा घुरवा बारी एला बचाना है संगवारी के तहत गोठान निर्माण कार्य की प्रशासकीय स्वीकृति मिली थी। इसकी कार्य एजेंसी ग्राम पंचायत पुरगांव थी, जिसने राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार योजना के हितग्राही मूलक कार्यों को नियमों को दरकिनार कर गुपचुप तरीके से जेसीबी से कराया था। इस आशय का समाचार अखबार में प्रकाशित होते ही बिलाईगढ़ जनपद प्रशासन में हड़कंप मच गया और जिम्मेदार अधिकारी कार्रवाई से बचने के लिए पल्ला झाड़ने लगे। 4 माह पूर्व तक कार्यक्रम अधिकारी रश्मि वर्मा ने कहा था कि एडीएम कार्यालय में कार्रवाई के लिए भेजा गया है और जब तक वहां से आदेश नहीं मिलेगा कार्य चालू नहीं होगा लेकिन आज काम चालू होने पर एसडीएम बिलाईगढ़ केएल शोरी ने अनभिज्ञता जाहिर कर कहा कि मुझे नहीं पता काम कैसे चालू हुआ, पूछकर बताता हूं। जनपद पंचायत सभापति छत्रसाल साहू, ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष एसके देवांगन एवं उनके साथियों ने हितग्राही मूलक कार्य को जेसीबी से कराने पर कड़ा एतराज जताया है तथा संबंधित एजेंसी के खिलाफ कार्रवाई की मांग प्रशासन से की है।

पुरगांव में दोबारा मजदूरों से गोठान निर्माण कराया जा रहा है।

कार्य एजेंसी जिम्मेदार है: सीईओ

मनरेगा कार्यक्रम अधिकारी रश्मि वर्मा ने इस संबंध में कोई भी बात करने से स्पष्ट इंकार कर कहा कि सीईओ से बात कर लो, वही बताएंगे। मुख्य कार्यपालन अधिकारी , जनपद पंचायत, बिलाईगढ़ संदीप ठाकुर ने कहा कि मनरेगा कार्य में जेसीबी के उपयोग के लिए जिम्मेदार कार्य एजेंसी है। इस संबंध में तत्कालीन सीईओ पैकरा द्वारा जिला पंचायत में जांच प्रतिवेदन भेजा जा चुका है कार्रवाई लंबित है। सरकार की यह महती योजना को पूरा करवाना है इसलिए आगे का कार्य उसी जगह पर कराया जा रहा है। जिम्मेदार कार्य एजेंसी है, जिला पंचायत एवं कलेक्टर को निर्णय लेना है कि क्या कार्रवाई की जाए।

जेसीबी से काम कराया तो होगी जेल: जयवर्धन

इस संबंध में मनरेगा के कार्यक्रम अधिकारी रश्मि वर्मा ने कहा था कि यदि जेसीबी से कार्य किया गया है तो कार्य रुकवा देंगे, उसके बाद नियमतः कार्रवाई की जाएगी। इसी तारतम्य में जिला पंचायत सीईओ एस जयवर्धन ने बिलाईगढ़ दौरे पर स्पष्ट रूप से बैठक में चेताया था कि मनरेगा का कोई भी कार्य जेसीबी से नहीं करना है। यदि ऐसा करते पाया गया तो जेल भी जाना पड़ सकता है।

X
Bilaigarh News - chhattisgarh news now from gothan construction workers jcb operators have not been prosecuted
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना