सुकली ओडीएफ घोषित पर खुले में ही शौच जा रहे लोग / सुकली ओडीएफ घोषित पर खुले में ही शौच जा रहे लोग

Anchalik News - सेल/गिराैदपुरी| सुकली को ओडीएफ घोषित कर दिया गया है जबकि जमीनी हकीकत कुछ और बयां कर रही है। स्वच्छ भारत मिशन के तहत...

Bhaskar News Network

Dec 09, 2018, 02:25 AM IST
Dongridih News - sukali odif declares open defecation only
सेल/गिराैदपुरी| सुकली को ओडीएफ घोषित कर दिया गया है जबकि जमीनी हकीकत कुछ और बयां कर रही है। स्वच्छ भारत मिशन के तहत ओडीएफ घोषित वनांचल के ग्राम सुकली कसडोल विकासखंड अंतर्गत आता है।

यहां सरपंच ने लीपापोती कर गांव को ओडीएफ तो घोषित करवा लिया पर हकीकत में शौचालय बनने के कुछ दिन बाद ही टूट फूट गए, जिससे गांव वाले आज भी खुले मैदान में शौच करने जा रहे हैं। ग्रामीणों का आरोप है कि सरपंच ने अपने चहेते ठेकेदारों से मिलीभगत करके कमजोर शौचालय बनवाए। इसकी शिकायत ग्रामीणों ने पिछले दिनों की थी, जिस पर जनपद पंचायत सीईओ नरेंद्र पैकरा ने जांच के आदेश दिए थे। जनपद के अधिकारियों ने मौका मुआयना किया तो सारी हकीकत खुलकर सामने आ गई। इसके बाद उन्होंने पंचनामा तैयार करया। ग्राम पंचायत सुकली में शौचालय निर्माण में हुए बड़े पैमाने में भ्रष्टाचार की शिकायत के बाद जांच करने करारोपण अधिकारी प्रकाश साहू साहू, कलस्टर समन्वयक स्वच्छ भारत मिशन धनीराम साहू , तकनीकी सहायक लीना मार्कण्डेय गांव पहुंची थीं।

उन्होंने पाया कि यहां कागजों पर तो शौचालय निर्माण हो गया है पर हकीकत में ऐसा नहीं है। भोले-भाले ग्रामीणों का फायदा सरपंच शिव सिंह दीवान, सचिव रामलाल साहू ने उठाया है। हितग्राही मोहनलाल, चम्पाबाई, ताराबाई, पंचराम, बुधराम, प्रमोद, प्रकाश, कामता, दिलहरन सहित 50 लोगों ने इस आशय की शिकायत की थी। करारोपणअधिकारी प्रकाशचंद्र साहू ने कहा कि जनपद पंचायत सीईओ के पत्र के आधार पर शौचालयों की जांच डोर-टू-डोर की जा रही है। जांच पूरी होने पर प्रतिवेदन सीईओ को सौंपेंगे। आगे की कार्रवाई उनके द्वारा ही की जाएगी।

अधूरा पड़ा शौचालय।

X
Dongridih News - sukali odif declares open defecation only
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना