--Advertisement--

जीएसटी वार्षिक रिटर्न की आखिरी तिथि 31 को बढ़ाकर 31 मार्च करने वित्त मंत्री को पत्र लिखा

Anchalik News - भास्कर न्यूज | तिल्दा-नेवरा कॉन्फेडरेशन ऑफ आल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने वित्तमंत्री से जीएसटी वार्षिक रिटर्न की...

Dainik Bhaskar

Dec 08, 2018, 03:11 AM IST
Tilda News - writing letter to the finance minister gst will increase the last date of annual return to 31 march 31
भास्कर न्यूज | तिल्दा-नेवरा

कॉन्फेडरेशन ऑफ आल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने वित्तमंत्री से जीएसटी वार्षिक रिटर्न की तारीख बढ़ाने का आग्रह किया है। कैट के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अमर पारवानी, प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष मगेलाल मालू, प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष विक्रम सिंहदेव, प्रदेश महामंत्री जितेंद्र दोषी, प्रदेश कार्यकारी महामंत्री परमानंद जैन ने बताया कि कैट ने आज केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली को एक पत्र भेजकर जीएसटी वार्षिक रिटर्न दाखिल करने की अंतिम तारीख 31 दिसंबर को बढ़ाकर 31 मार्च करने का आग्रह किया है।

कैट ने उक्त अंतिम तारीख को आगे बढ़ाने की मांग करते हुए वित्त मंत्री को सुझाव दिया है कि अविलंब वार्षिक रिटर्न का फॉर्मेट एवं उससे संबंधित प्रक्रिया को जीएसटी पोर्टल पर उपलब्ध कराया जाए। वहीं दूसरी तरफ सरकार इस बारे में एक राष्ट्रीय जानकारी अभियान चलाए, जिससे लोगों को वार्षिक रिटर्न भरने के बारे में जानकारी दी जाए। कैट ने कहा है कि इस मुद्दे पर देशभर के व्यापारी सरकार का सहयोग करने के लिए तैयार हैं। साथ रिटर्न भरने के लिए सरकार के अभियान में कंधे से कंधा मिलाकर जुटेंगे।

पोर्टल पर रिटर्न भरने का प्रारूप अथवा विकल्प नहीं आया

वित्तमंत्री को भेजे पत्र में कैट ने उनका ध्यान वर्ष 2017-18 की वार्षिक जीएसटी रिटर्न दाखिल करने की अंतिम तारीख 31 दिसंबर 2018 की तरफ दिलाते हुए कहा कि अब तक जीएसटी पोर्टल पर वार्षिक रिटर्न दाखिल करने का प्रारूप अथवा विकल्प आया ही नहीं है। इसके चलते देशभर में जीएसटी पोर्टल से पंजीकृत एक करोड़ से अधिक कारोबारियों का रिटर्न भरना मुश्किल है क्योंकि इस रिटर्न को दाखिल करते समय संबंधित वर्ष के पूर्व में भरे हुए रिटर्न को संशोधित करने का यह आखिरी विकल्प है। कैट ने यह भी कहा कि क्योंकि वैट अथवा बिक्री कर में वार्षिक रिटर्न भरने का कोई प्रावधान नहीं था। इस दृष्टि से बड़ी संख्या में देशभर में व्यापारियों को अब भी यह जानकारी नहीं है कि उन्हें वार्षिक रिटर्न भी भरना है।

जीएसटी का पहला साल, जिससे रिटर्न की प्रक्रिया से कारोबारी अनजान

कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष बीसी भरतिया एवं राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीन खंडेलवाल ने कहा कि चूंकि जीएसटी के लागू होने का 2017-18 पहला साल है। इस नाते से जीएसटी से संबंधित अनेक विषयों से देशभर में व्यापारी अनजान है। व्यापारियों को यह भी मालूम ही नहीं है कि वार्षिक रिटर्न उनके लिए क्यों महत्वपूर्ण है और यदि यह रिटर्न नहीं भरा गया तो उसके क्या परिणाम होंगे। एक तरफ इस रिटर्न द्वारा व्यापारी अपना रिटर्न संशोधित कर सकते हैं, जिससे उन्हें इनपुट क्रेडिट की हानि न हो और उनके ऊपर कर की कोई बकायादारी न आ जाए। इस दृष्टि से जीएसटी वार्षिक रिटर्न भरना प्रत्येक व्यापारी के लिए महत्वपूर्ण एवं जरूरी है।

X
Tilda News - writing letter to the finance minister gst will increase the last date of annual return to 31 march 31
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..