• Home
  • Chhattisgarh News
  • Bacheli News
  • काॅल सेंटर जा रही बस रोक एनएसयूआई ने किया प्रदर्शन, कहा-बिना सुरक्षा इंतजाम के चल रही थी
--Advertisement--

काॅल सेंटर जा रही बस रोक एनएसयूआई ने किया प्रदर्शन, कहा-बिना सुरक्षा इंतजाम के चल रही थी

भास्कर न्यूज | दंतेवाड़ा/किरंदुल किरंदुल से युवाओं को जावंगा काॅल सेंटर लेकर जा रही बस को किरंदुल में ही एनएसयूआई...

Danik Bhaskar | Mar 24, 2018, 03:10 AM IST
भास्कर न्यूज | दंतेवाड़ा/किरंदुल

किरंदुल से युवाओं को जावंगा काॅल सेंटर लेकर जा रही बस को किरंदुल में ही एनएसयूआई बचेली व किरंदुल के कार्यकर्ताओं ने रोक दिया और जमकर नारेबाजी की।

उनका कहना था कि ये बसें बिना सुरक्षा इंतजाम के चलती हैं। कल हादसे के समय भी बस बिना सुरक्षा इंतजाम के चल रही थी तथा स्पीड भी ज्यादा थी। करीब घंटेभर यहां एनएसयूआई ने प्रदर्शन करते हुए आरबीएमटी कंपनी की बस को इस काम से हटाने की मांग करते रहे। पुलिस के हस्तक्षेप के बाद एनएसयूआई कार्यकर्ता शांत हुए। दरअसल गुरूवार को बस से गिरकर किरंदुल निवासी युवती परमेश्वरी गंभीर रूप से घायल हो गई थी। इस बात को लेकर गुरूवार को एनएसयूआई कार्यकर्ता बिफर गए व बीपीओ काॅल सेंटर जा रही एक दूसरी बस को रोककर नारेबाजी करने लगे।

एफआईआर हुई है : एनएसयूआई के प्रदर्शन स्थल पर किरंदुल थाना प्रभारी जेपी गुप्ता पहुंचे। उन्होंने कार्यकर्ताओं को शांत कराया, उनकी मांगे सुनीं व उन्हें बताया कि मामले के संबंध में एफआईआर दर्ज कर ली गई है। मालिक से वाहन के कागजात और बस को भी जप्त कर लिया गया है। बस चालक की गिरफ्तारी भी जल्द की जाएगी।

गुरुवार को चलती बस से गिरकर घायल हो गई थी युवती

दंतेवाड़ा. बस रोककर प्रदर्शन करते एनएसयूआई कार्यकर्ताओं को शांत कराते पुलिस अफसर।

प्रशासन अपनी बस चलाए, पीड़िता का इलाज करवाए

एनएसयूआई किरंदुल ब्लाॅक अध्यक्ष मुकुल चौधरी व बचेली ब्लाॅक अध्यक्ष निसार आलम ने कहा कि बीपीओ के लिए किरंदुल-बचेली से करीब 50 की संख्या में युवा काॅल सेंटर जाते हैं। आरबीएमटी कंपनी की बस को तुरंत इस कार्य से हटाया जाना चाहिए। बस में पर्याप्त सुरक्षा के इंतजाम नहीं होने व रफ्तार ज्यादा होने के कारण यह हादसा हुआ है। प्रशासन को चाहिए कि वे अपनी खुद की बस इस काम के लिए लगाए क्योंकि ये बस बीपीओ के युवाओं के साथ मनमानी यात्रियों को भी भरकर ले जाती है और रफ्तार पर भी लगाम नहीं है। परमेश्वरी के इलाज के लिए भी पूरी मदद करने की मांग एनएसयूआई के कार्यकर्ता करते रहे।

युवती की हालत बिगड़ी, रायपुर रेफर

गुरूवार को मेकाज रेफर करने के बाद वहां भी युवती की हालत बिगड़ने पर डाॅक्टर्स ने तत्काल रायपुर के लिए रेफर कर दिया। प्रशासन ने दंतेवाड़ा में 5000 रुपए की तात्कालिक तौर पर मदद की थी लेकिन इतनी कम राशि में रायपुर में इलाज परिजनों ने असंभव बताया। जनता कांग्रेस को इस बारे में परिजनों ने जानकारी दी। जनता कांग्रेस के प्रवक्ता राहुल महाजन ने मामले के संबंध में प्रशासन को अवगत कराया। राहुल ने बताया कि प्रशासन ने परिजनों को भरोसा दिलाया है कि रायपुर में परमेश्वरी के इलाज के लिए पूरी व्यवस्था कर दी गई है। इसके बाद ही जगदलपुर से युवती को परिजन रायपुर लेकर रवाना हुए।