• Home
  • Chhattisgarh News
  • Bacheli News
  • मावलीभाठा स्कूल के पास दो हादसे, छात्रा घायल, 1 की मौत, छात्राओं ने लगाया जाम
--Advertisement--

मावलीभाठा स्कूल के पास दो हादसे, छात्रा घायल, 1 की मौत, छात्राओं ने लगाया जाम

कोड़ेनार थाना क्षेत्र के मावलीभाठा के सरकारी स्कूल की एक छात्रा गुरुवार की सुबह कार की चपेट में आकर गंभीर रूप से...

Danik Bhaskar | Feb 16, 2018, 04:10 AM IST
कोड़ेनार थाना क्षेत्र के मावलीभाठा के सरकारी स्कूल की एक छात्रा गुरुवार की सुबह कार की चपेट में आकर गंभीर रूप से घायल हो गई । घटना के बाद छात्रा को इलाज के लिए हास्पिटल भेजा गया वहीं साथी छात्राओं ने हादसों को रोकने के उपाय करने की मांग को लेकर एक घंटे तक चक्काजाम कर दिया। उधर रायकोट के निकट अचानक अनियंत्रित होकर कार के पलटने से इसमें सवार युवक की मौत हो गई।

पहली घटना सबुह 9.30 बजे

बस के पीछे से सड़क पार करने के दौरान छात्रा आई कार की चपेट में : किरंदुल निवासी दुर्गा प्रसाद अपनी पुत्री को किरंदुल से भिलाई छोड़ने जा रहे थे। इसी दौरान उनकी कार मावलीभाठा स्कूल के पास पहुंची तो एक छात्रा बस के पीछे से अचानक सड़क पार करने के लिए दौड़ पड़ी। घटना में छात्रा कार से जा टकाराई और उसका एक पैर फ्रेक्चर हो गया। थोड़ी ही देर में यहां लाेगों को मजमा लग गया और छात्रा को 108 की सहायता से तोकापाल हास्पिटल लाया गया। यहां से उसे बेहतर इलाज के लिए मेकॉज रेफर किया गया है जहां उसका इलाज जारी है। छात्रा के कार की चपेट में आने के बाद उसकी साथी छात्राओं ने सड़क पर चक्काजाम कर दिया। छात्राओं की मांग थी कि स्कूल के पास हमेशा हादसे का डर बना रहता है। इसके लिए प्रशासन काे यहां पुख्ता इंतजाम करना चाहिए। छात्राओं ने ब्रेकर सहित अन्य मांग की। मौके पर पहुंचे तहसीलदार और एसडीएम ने छात्राओं को समझाया और हादसे रोकने के लिए प्रयास करने का आश्वासन दिया। इसके बाद छात्राओं ने चक्काजाम खत्म किया। यहां करीब एक घंटे तक सड़क पर जाम की स्थिति रही।

दूसरी घटना सुबह 11.30 बजे

अचानक कार अनियंत्रित होकर पलट गई युवक की मौत : दूसरी घटना भी कोड़ेनार थाना क्षेत्र की ही है। यहां किरंदुल निवासी टीके मंडल अपनी नई मारूति सुजूकी कार की सर्विसिंग के लिए जगदलपुर आ रहे थे। इसी दौरान रायकोट और नैननार के बीच उनकी कार अनियंत्रित होकर सड़क से उतर गई। गाड़ी तेज रफ्तार होने के कारण पलट गई। घटना के बाद टीके मंडल को मेडिकल कॉलेज इलाज के लिए भेजा गया लेकिन उन्होंने दम तोड़ दिया। मृतक बचेली में इलेवन सी में कार्यरत थे। वे गाड़ी की सर्विसिंग के लिए अकेले ही आ रहे थे।

मृतक टीके मंडल

जगदलपुर. हादसे में छात्रा की मौत के बाद मावलीभाठा स्कूल के पास चक्काजाम करतीं छात्राएं।

दंतेवाड़ा से तोकापाल तक अक्सर होते हैं हादसे

तोकापाल से लेकर दंतेवाड़ा मार्ग के बीच अक्सर सड़क हादसे होते रहते हैं। कुछ दिनों पहले भी यहां छात्रों से भरी एक बस ट्रक से टकरा गई थी। इससे पहले एक स्कार्पियो भी इस मार्ग पर पलट गई थी। पिछले दो सालों में इस मार्ग पर पचास से ज्यादा हादसे हो चुके हैं। हर बार हादसों के बाद घायलों को अलग-अलग माध्यमों से तोकापाल सीएचसी पहुंचाया जाता है लेकिन यहां घायलों को सिर्फ प्राथमिक उपचार ही मिल पाता है। इसके बाद घायलों को मेकॉज रेफर करना पड़ता है। यहां हास्पिटल में डाॅक्टर और इक्यूपमेंट की भारी कमी बनी हुई है।