--Advertisement--

दिव्यांगों को अस्पताल में बने कृत्रिम अंग, उपकरण दिये

जिला हास्पिटल में संचालित शारीरिक पुनर्वास केंद्र की ओर से नगर के मेंडका डोबरा मैदान में दिव्यांगजनों के लिए...

Danik Bhaskar | Feb 08, 2018, 04:15 AM IST
जिला हास्पिटल में संचालित शारीरिक पुनर्वास केंद्र की ओर से नगर के मेंडका डोबरा मैदान में दिव्यांगजनों के लिए स्वास्थ्य परीक्षण शिविर लगाया गया, जिसमें दिव्यांगजनों को कृत्रिम अंग व सहायक उपकरण दिए गए। बालपेट निवासी पुलिस राम और बचेली निवासी लेबाे हयाल को कृत्रिम पैर व समलूर निवासी गिरीश को कृत्रिम हाथ मिला, जिसे पाकर दिव्यांगजन काफी खुश हुए। खास बात यह थी कि कृत्रिम अंगों का निर्माण जिला हास्पिटल दंतेवाड़ा में बने नए केंद्र में ही किया गया है।

बांगापाल के 30 दिव्यांगजनों को पूर्व में जारी किए गए नि:निशक्तता प्रमाण पत्र का वितरण भी किया गया। शिविर में आलनार, बड़ेतुमनार, छोटे तुमनार, टेकनार, बालपेट, बचेली, गीदम, पोन्दुम, मटेनार, चितालुर, बालुद, कुपेर, तुड़पारास, पुरनतरई, भोगाम एवं फरसपाल क्षेत्र से दिव्यांगजन पहुंचे थे। दिव्यांगों को प्रमाण पत्र जारी करने जिला अस्पताल के मेडिकल बोर्ड के सदस्य डाॅ. गीता नेताम नेत्र रोग विशेषज्ञ, डाॅ. मधुसूदन नाक, कान, गला रोग विशेषज्ञ, डाॅ. आरबी शर्मा हड्डी रोग विशेषज्ञ मौजूद थे। शिविर में शारीरिक पुनर्वास केंद्र की प्रभारी व वरिष्ठ फिजियोथेरेपिस्ट डॉ. सुनीता अग्रवाल व उनकी टीम ने दिव्यांगजों का स्वास्थ्य परीक्षण किया। कार्यक्रम की मुख्यअतिथि जिला पंचायत अध्यक्ष कमला नाग थीं। शिविर में 12 नि:निशक्तता प्रमाणपत्र, 8 सहायक उपकरण दिए गए और अन्य सुविधाओं में आधार कार्ड, राशन कार्ड के लिए पंजीयन किया गया।

दंतेवाड़ा. दिव्यांगजनों के लिए आयोजित स्वास्थ्य परीक्षण शिविर में कृत्रिम अंग व सहायक उपकरण भी दिए गए।