--Advertisement--

एनएमडीसी में स्थानीय को 32% आरक्षण

भास्कर न्यूज|नकुलनार/किरंदुल/बचेली चार सूत्रीय मांगों को लेकर आदिवासी महासभा, सीपीआई ने बचेली, किरंदुल...

Dainik Bhaskar

Apr 21, 2018, 02:10 AM IST
भास्कर न्यूज|नकुलनार/किरंदुल/बचेली

चार सूत्रीय मांगों को लेकर आदिवासी महासभा, सीपीआई ने बचेली, किरंदुल एनएमडीसी परियोजना के खिलाफ गुरुवार से अनिश्चितकालीन आंदोलन शुरू किया था। इसके बाद देर शाम को ही महासभा और सीपीआई के पदाधिकारियाें व एनएमडीसी के अधिकारियों के बीच बात चली।

प्रबंधन ने एनएमडीसी की भर्ती में स्थानीय लोगों को 32 फीसदी आरक्षण देने की बात कही। इसके बाद अनिश्चितकालीन आंदोलन को समाप्त कर दिया गया। एनएमडीसी की दोनों परियोजना के जीएम, एसडीएम व आदिवासी नेताओं के बीच 5 घंटे तक चली बैठक में एनएमडीसी ने महासभा के लोगों को आश्वासन दिया कि अगले कुछ महीनों में बचेली, किरंदुल में आदिवासी धर्मशाला का निर्माण कराने के साथ ही अस्पतालों में सुविधाएं बढ़ाई जाएगी।

आदिवासी महासभा के दंतेवाड़ा परिक्षेत्र के जिला अध्यक्ष कामो कुंजाम ने बताया सहमति बनने के बाद रात 9 बजे की शिफ्ट के कर्मचारियों को काम पर जाने दिया गया। उन्होंने कहा कि जिन मांगों को पूरा करने की बात कही गई है। आने वाले दिनों में अधिकारी इस आश्वासन को पूरा नहीं करते हैं तो उग्र आंदोलन किया जाएगा।

एनएमडीसी बचेली के ईडी अरुण शुक्ला ने बताया कि एनएमडीसी और महासभा के लोगों के बीच एनएमडीसी में बाहरी लोगों की भर्ती बंद हो, अस्पतालों में सुविधाएं बढ़ाने, एनएमडीसी क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों को प्रशासनिक कार्य के लिए दंतेवाड़ा, रायपुर जाने गाड़ी की व्यवस्था करने एवं किरंदुल व बचेली में आदिवासी धर्मशाला बनाने की मांग पर सहमति बन गई है। इसके अनुसार आगे का काम किया जाएगा।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..