Hindi News »Chhatisgarh »Baikunthpur» भक्तों के हाल जानने आज रथ में सवार होकर निकलेंगे जगन्नाथ

भक्तों के हाल जानने आज रथ में सवार होकर निकलेंगे जगन्नाथ

भगवान जगन्नाथ रथयात्रा प्रेमाबाग से निकाली जाएगी। इस संबंध में आयोजक देवरहा सेवा समिति के अध्यक्ष शैलेष शिवहरे...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 14, 2018, 02:00 AM IST

भक्तों के हाल जानने आज रथ में सवार होकर निकलेंगे जगन्नाथ
भगवान जगन्नाथ रथयात्रा प्रेमाबाग से निकाली जाएगी। इस संबंध में आयोजक देवरहा सेवा समिति के अध्यक्ष शैलेष शिवहरे ने बताया कि पिछले कई वर्षों से शहर में जगन्नाथ जी रथयात्रा आयोजन किया जा रहा है। प्रेमाबाग परिसर में भगवान जगन्नाथ मंदिर निर्माण के बाद से ही यह आयोजन प्रतिवर्ष किया जा रहा है। इस वर्ष यह रथयात्रा पूरे भक्तिभाव से 14 जुलाई को दोपहर 3 बजे निकाली जाएगी, जो प्रेमाबाग मंदिर से प्रारंभ होकर शहर के विभिन्न मुख्य चौक चौराहों से गुजरते हुए, राम मंदिर प्रेमाबाग में समाप्त होगी। रथयात्रा के सफल आयोजन को लेकर देवरहा सेवा समिति एवं गौ रक्षा वाहिनी समिति संयुक्त बैठक भी रखी थी।

बैकुंठपुर और चिरमिरी में तैयारियों पूरी, मनाया भगवान का नेत्रोत्सव और लगाया भोग, दोपहर 3 बजे से निकालेंगे यात्रा

रथयात्रा को लेकर जोरशोर से तैयारी की जा रही है

सुभद्रा और बलराम के साथ निकलेंगे भगवान जगन्नाथ

चिरमिरी| रथयात्रा को लेकर क्षेत्र में उत्साह का माहौल है। रथ निर्माण का कार्य जोर शोर से किया जा रहा है। वेस्ट चिरमिरी भगवान जगन्नाथ मंदिर में तैयारियां अंतिम चरण में हैं। शुक्रवार को भगवान का नेत्रोत्सव मनाया गया, इसमें विधि-विधान के साथ जगन्नाथ, सुभद्रा और बलराम की पूजा की गई तथा उन्हें विभिन्न तरह के भोग अर्पित किए गए। शनिवार को आषाढ़ शुक्ल पक्ष द्वितीय पर विधिवत पूजा-अर्चना के बाद भगवान जगन्नाथ की रथ यात्रा निकाली जाएगी। जगन्नाथ सेवा संघ के अध्यक्ष बाबूराम ने बताया कि रथ यात्रा का शुभ मुहूर्त 12.45 बजे है। शनिवार की सुबह 6.09 बजे के बाद आषाढ़ शुक्ल पक्ष की द्वितीया तिथि शुरू हो रही है, जो दिनभर रहेगी। भगवान अपनी बहन सुभद्रा और भाई बलराम के साथ रथ पर सवार होकर लोगों को दर्शन देंगे तथा नगर भ्रमण करते हुए मौसी बाड़ी जाएंगे। इस दौरान भगवान जगन्नाथ, सुभद्रा और बलराम की रथ को अपने हाथों से खिंचना बेहतर शुभ माना जाता है। बारिश के बावजूद रथ खींचने के लिए यहां काफी संख्या में श्रद्धालु जुटते हैं। समिति पदाधिकारियों ने बताया कि भगवान जगन्नाथ मंदिर में 14 जुलाई को मंगल आरती के बाद दोपहर 1 बजे रथयात्रा निकाली जाएगी। रथयात्रा को लेकर भगवान के आसन और रथ का रंगरोगन किया जा रहा है। मंदिर में चिरमिरी सहित आसपास के जिलो से भी लोग यहां पहुंचते हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Baikunthpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×