--Advertisement--

गरीब छात्रों को हायर एजुकेशन के लिए है स्कॉलरशिप

12वीं के बाद हायर एजुकेशन के लिए स्टूडेंटस को कई तरह की स्काॅलरशिप दी जाती है, जिससे वे आर्थिक रुकावट के बिना आगे की...

Dainik Bhaskar

May 14, 2018, 02:00 AM IST
गरीब छात्रों को हायर एजुकेशन के लिए है स्कॉलरशिप
12वीं के बाद हायर एजुकेशन के लिए स्टूडेंटस को कई तरह की स्काॅलरशिप दी जाती है, जिससे वे आर्थिक रुकावट के बिना आगे की शिक्षा हासिल कर सकंे। इंजीनियरिंग की पढ़ाई काफी महंगी है। इसके लिए अधिकांश अभिभावक मजबूरी में एजुकेशन लेते हैं। प्रतिभाशाली स्टूडंेटस के लिए स्काॅलरशिप का विकल्प भी है। स्काॅलरशिप के जरिए छात्र 10वीं के बाद की पढ़ाई जारी रख सकते हैं। स्काॅलरशिप ग्रेजुएशसन व मास्टर लेवल के लिए भी मिलती है, जिससे 12वीं के स्टूडेंटस की पढ़ाई आगे बिना रुकावट हो सके।

12वीं पास स्टूडेंटस को हायर एजुकेशन पाने के लिए राज्य व केंद्र सरकार संचालित कर रही है स्काॅलरशिप योजनाएं

हायर एजुकेशन के लिए तीन प्रकार की योजनाएं

एलआईसी गोल्डन जुबली स्काॅलरशिप

संस्था: छत्तीसगढ़ उच्च शिक्षा विभाग

इसके लिए अगस्त-सितम्बर मंे आॅनलाइन आवेदन कर सकते हंै।

पात्रता और लाभ: 12वीं पास एेसे गरीब स्टूडेंटस, जिनके परिवार की वार्षिक आय 25 हजार रुपए से अधिक नहीं है, उन्हें ग्रेजुएशन की पढ़ाई के दौरान हर महीने एक हजार रुपए की स्काॅलरशिप दी जाती है।

केंद्रीय स्काॅलरशिप योजना

संस्था: केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय माशिमं की वेबसाइट सीजीबीएसई नेट पर अगस्त-सितम्बर में अधिसूचना जारी होती है।

पात्रता और लाभ: इसका लाभ 12वीं मंे 80 प्रतिशत या उससे अधिक अंक हासिल करने वाले मेधावी स्टूडेंटस को मिलता है। परिवार की वार्षिक आय 6 लाख रुपए से अधिक नहीं होती है। इसमें हर महीने एक हजार रुपए स्काॅलरशिप देने का प्रावधान है। 60 प्रतिशत अंक से पास होने पर तीन साल तक लगातार और इसके बाद पीजी की पढ़ाई में दो हजार रुपए की स्काॅलरशिप मिलती है।

इंस्पायर योजना स्कालरशिप

संस्था: विज्ञान एवं तकनीकी मंत्रालय और एसएचई (स्काॅलरशिप फाॅर हायर एजुकेशन)

छात्र इंस्पायर योजना छात्रवृत्ति के लिए आॅनालाइन आवेदन कर सकते हैं।

पात्रता और लाभ: 12वीं के बाद बेसिक साइंस लेकर पढ़ने वाले मेधावी स्टूडेंटस को इंस्पायर योजना के तहत सालाना 80 हजार रुपए की स्काॅलरशिप मिलती है। 12वीं में टाॅप वन प्रतिशित में आने वाले स्टूडेंटस ही स्काॅलरशिप के पात्र होते हैं। एेसे स्टूडेंटस को छग माशिमं पात्रता प्रमाण-पत्र देना होता है।

X
गरीब छात्रों को हायर एजुकेशन के लिए है स्कॉलरशिप
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..