बैकुंठपुर

  • Hindi News
  • Chhattisgarh News
  • Baikunthpur
  • योजना में बदलाव: सबला योजना में मिलने वाला रेडी टू ईट फूड अब 11 से 14 साल की बच्चियों को मिलेगा
--Advertisement--

योजना में बदलाव: सबला योजना में मिलने वाला रेडी टू ईट फूड अब 11 से 14 साल की बच्चियों को मिलेगा

युवतियों की सेहत को ठीक रखने सबला योजना की तहत मार्च 2018 तक 11 से 18 साल तक की शाला त्यागी और किशोरियों को रेडी टू ईट फूड...

Dainik Bhaskar

May 11, 2018, 02:05 AM IST
युवतियों की सेहत को ठीक रखने सबला योजना की तहत मार्च 2018 तक 11 से 18 साल तक की शाला त्यागी और किशोरियों को रेडी टू ईट फूड दिया जाता था, लेकिन अब शासन ने सिर्फ 11 से 14 साल तक की शाला त्यागी बालिकाओं को ही रेडी टू ईट फूड देने का नियम लागू कर दिया है।

इस मामले मंे अधिकारियों का कहना है कि राज्य शासन ने इस योजना में क्यों बदलाव किया, इस बारें में उन्हें कोई जानकारी नहीं हैं वे सरकारी आदेश का पालन कर रहे हैं। इस बार फैसला किया गया है कि 14 से 18 साल की शाला त्यागी बच्चियों को रेडी टू ईट नहीं दिया जाएगा। महिला एंव बाल विकास कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार नए नियम के तहत रेडी टू ईट फूड का वितरण किया जा रहा है। अब तक कही से कोई शिकायत मिली है। 14 से 18 साल तक की शाला त्यागी और स्कूल जाने वाले बालिकाआंे को नए नियम के जानकारी दी जा रही है।

गौरतलब है कि बीतें 8 साल से किशोरी बालिकाओं को रेडी टू ईट देने के बाद भी उनमें पौष्टिक तत्वों की कमी दूर नहीं हो सका है। जानकारी क अनुसार जिले के अंदरूनी ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में रहने वाले 30 प्रतिशत बालिग हो चुकी लड़कियों में आयरन और कैल्शियम की कमी पाई जार रही हैं। इस बात की पुष्टि अस्पताल में होने वाली डिलीवरी के भर्ती होने वाली ग्रामीण महिलाओं में अधिकांश देखा जा रहा है, जिनमें खून की कमी पाई जाती है।

586 को ही मिलेगा रेडी टू ईट फूड

शासन के नए आदेश के बाद अब जिले के पांच ब्लॉक में अब 11 से 14 साल तक की शाला त्यागी 586 बालिकाओं को ही रेडी टू ईट फूड दिया जाएगा। जबकि पहले किशोरियों के बालिग होने तक सप्ताह में 6 दिन 165 ग्राम के हिसाब से रेडी टू ईट फूड दिया जाता था। मार्च 2018 तक इस योजना का लाभ दिया गया।

X
Click to listen..