• Home
  • Chhattisgarh News
  • Baikunthpur
  • प्रतिबंध के बाद भी शादी समारोह में बजा रहे डीजे, प्रशासन नहीं कर रहा कार्रवाई
--Advertisement--

प्रतिबंध के बाद भी शादी समारोह में बजा रहे डीजे, प्रशासन नहीं कर रहा कार्रवाई

नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) ने प्रदेश में शादी समारोह में बजने वाले डीजे पर पूरी तरह प्रतिबंध लगा दिया है। यह...

Danik Bhaskar | Apr 26, 2018, 02:10 AM IST
नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) ने प्रदेश में शादी समारोह में बजने वाले डीजे पर पूरी तरह प्रतिबंध लगा दिया है। यह फैसला एनजीटी ने डीजे संचालकों की विशेष याचिका पर पहले ही सुना दिया है। ट्रिब्यूनल ने साफ कहा है कि डीजे से सार्वजनिक स्थानों पर होने वाले ध्वनि प्रदूषण को अनुमति नहीं दी जा सकती। इसके बावजूद जिले भर में आधी रात तक धड़ल्ले से शादी समारोहों में डीजे का उपयोग किया जा रहा है। इस मामले में किसी प्रकार की कार्रवाई न होना जिले की पुलिस व्यवस्था पर सवालिया निशान लगा रही है।

डीजे संचालकों को व्यवसाय बंद कर शादियों में पारंपरिक बैंड का इस्तेमाल करने के लिए छह माह का समय पहले ही दिया जा चुका है, इसलिए अब इस याचिका में ऐसा कुछ नहीं है कि इसे विशेष तौर पर सुना जाए। यह डीजे पर प्रतिबंध का अंतिम फैसला है। डीजे का शोर या शिकायत होने पर संबंधित थाना, जिला प्रशासन, नगर निगमको कार्रवाई करने के आदेश दिए थे।

डीजे पर लगा है प्रतिबंध

कलेक्टर नरेन्द्र दुग्गा ने बताया कि डीजे पर पूरी तरह प्रतिबंध है। संबंधित अधिकारियों को डीजे की अनुमति देने से मना कर दिया गया है। साथ ही शिकायत या कहीं भी डीजे बजता मिलने पर संचालक के खिलाफ कार्रवाई के आदेश दिए गए हैं।