Hindi News »Chhatisgarh »Baikunthpur» 11 साल बाद भी उपभोक्ता फोरम का भवन अधूरा

11 साल बाद भी उपभोक्ता फोरम का भवन अधूरा

न्यायालय जिला उपभोक्ता विवाद प्रतितोषण फोरम भवन निर्माण लिए वर्ष 2007 में 25 लाख रुपए की प्रशासकीय स्वीकृति दो...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 06, 2018, 05:10 AM IST

11 साल बाद भी उपभोक्ता फोरम का भवन अधूरा
न्यायालय जिला उपभोक्ता विवाद प्रतितोषण फोरम भवन निर्माण लिए वर्ष 2007 में 25 लाख रुपए की प्रशासकीय स्वीकृति दो किश्तों में दी गई थी। इसके लिए भवन निर्माण की जिम्मेदारी पीडब्ल्यूडी को सौंपी गई। जिसमें पहले किश्त की राशि से भूतल का निर्माण कराया गया है, पर प्रथम तल का कार्य अधूरा ही छोड़ दिया गया है। जिस कारण से भवन खंडहर में तब्दील होने लगा है। इसके साथ ही अधिकारियों एवं कर्मचारियों को कार्यालयीन काम में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। बारिश के दिनों में प्रथम तल से पानी के निकासी की सुविधा नहीं देने से कार्यालय के दस्तावेज संभालना भी मुश्किल हो जाता है।

प्रशासकीय स्वीकृति मिलने तथा राशसि उपलब्ध होने के करीब 11 साल बाद भी न्यायालय जिला उपभोक्ता विवाद प्रतितोषण फोरम भवन का निर्माण कार्य पूरा नहीं हो सका है। भूतल का निर्माण पूरा कर प्रथम तल के निर्माण में लापरवाही बरती गई और आज तक भवन अधुरा ही है। प्रथम तल का अधुरा भवन अब अधिकारियों और कर्मचारियों के लिए परेशानी का कारण बन गया है। वही भूतल में बारिश के दिनों में पानी रिसकर नीचे तक आता है। जिससे दीवारों में काई जम जाती है। पूरा भवन बाहर से देखने में खंडहर जैसा दिखता है। इसी खंडहर भवन में कार्यालय की संचालन हो रहा है। इस संबंध में कार्यलय द्वारा कई बार पत्र के माध्यम से निर्माण कार्य पूरा करने कहा गया है। विभाग द्वारा यह बताया जाता है कि अभी बजट नहीं है।

गौरतलब है कि जिले भर के उपभोक्ता संबंधी शिकायताें का निराकरण यहां पर किया जाता है। एेसे में विभाग के पूरे कर्मचारियों के सेटअप के लिए जिन सुविधाओं की आवश्यकता होती है। उन्हीं सुविधाओं के लिहाज से न्यायालय जिला उपभोक्ता विवाद प्रतितोषण फोरम भवन बनाया जा रहा था। अच्छी सुविधा उपलब्ध कराने और कार्य के अच्छे संचालन में यह अधुरा भवन बाधा बना हुआ है।

न्यायालय जिला उपभोक्ता विवाद प्रतितोषण फोरम कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार 25 लाख रुपए की प्रषासकीय स्वीकृति दी गई थी। प्रथम चरण के अंतर्गत भूतल का कार्य पूरा किया गया है। जिसमें 15 लाख खर्च हुए।

लोक निर्माण विभाग को सौंपी थी भवन निर्माण की जिम्मेदारी, अब अफसर बता रहे बजट की कमी

उपभोक्ता फोरम का यह भवन अधूरा होने के कारण खंडहर की तरह दिखाई देता है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Baikunthpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×