--Advertisement--

गांव का नाम उजियारपुर बिजली नहीं, रहता है अंधेरा

बैकुंठपुर| उजियारपुर के गावं जामपरा में बिजली नहीं है। जबकि यह गांव एनएच-43 से 200 मीटर की दूरी पर बसा हुआ है।...

Danik Bhaskar | May 04, 2018, 05:10 AM IST
बैकुंठपुर| उजियारपुर के गावं जामपरा में बिजली नहीं है। जबकि यह गांव एनएच-43 से 200 मीटर की दूरी पर बसा हुआ है। उजियारपुर (जामपारा) ग्राम पंचायत जगतपुर जाने का मुख्य मार्ग भी है। गांव मंे बिजली पहुंचे इसके लिए ग्रामीणों ने कई बार आवेदन दिया है लेकिन आज तक गांव मे बिजली नहीं पहुंच सकी। इन ग्रामीणों को का दुर्भाग्य ही है कि नेशनल हाइवे के किनारे रहकर घर में बिजली नहीं पहुंची। बच्चे लालटेन की रोशनी में पढ़ाई करने को मजबूर हैं। गांव में बिजली नहीं होने की जानकारी आम आदमी पार्टी के सहा.अध्यक्ष सुरेश साहू ने दी। उन्होंने बताया पार्टी के पदाधिकारी लगातार ग्रामीण अंचल की समस्याओं को देखने दौरा कर रहे है। इससे सरकार की पोल भी खुल रही है। उन्होंने बताया कि शाम होते ही गांव में सन्नाटा पसर जाता है। गांव की महिलाओं ने बताया कि चिमनी और लालटेन के सहारे जीवन-यापन करना अब मुश्किल हो गया है। गर्मी और बारिश में बहुत दिक्कत होती है। जब भी आवेदन देते है, तो यही आश्वासन मिलता है की जल्द ही बिजली आपके गांव में लग जाएगी, लेकिन बिजली लगती नहीं है।