• Hindi News
  • Chhattisgarh News
  • Bajapur News
  • अग्नि के सदस्य जगदीश के परिजनों से मिले, फंूका नक्सलवाद का पुतला
--Advertisement--

अग्नि के सदस्य जगदीश के परिजनों से मिले, फंूका नक्सलवाद का पुतला

जगदलपुर | नक्सल हिंसा के खिलाफ सैद्धांतिक जंग लड़ने का दावा कर रही नक्सल विरोधी संस्था “अग्नि” से जुड़े सदस्यों ने...

Dainik Bhaskar

Apr 02, 2018, 02:15 AM IST
अग्नि के सदस्य जगदीश के परिजनों से मिले, फंूका नक्सलवाद का पुतला
जगदलपुर | नक्सल हिंसा के खिलाफ सैद्धांतिक जंग लड़ने का दावा कर रही नक्सल विरोधी संस्था “अग्नि” से जुड़े सदस्यों ने रविवार को जिला मुख्यालय बीजापुर में नक्सलवाद का पुतला दहन किया। हाल ही में नक्सल हिंसा का शिकार हुए भोपालपटनम निवासी जगदीश कोंड्रा की हत्या के विरोध में पुतला दहन करने से पूर्व अग्नि के सदस्यों ने जगदीश के परिजनों से मुलाकात कर उन्हें सांत्वना दी। इस दौरान जगदीश कोंड्रा की प|ी भवानी और उनकी माता लक्ष्मी बाई सहित शोक संतप्त परिजनों ने घटना का वृतांत अग्नि के सदस्यों को सुनाया। अग्नि के मुताबिक घटना के बाद से ही परिवार और क्षेत्र मे व्याप्त दहशत का माहौल अब भी कायम है।

बिजली की आंख मिचौली, लोग परेशान

जगदलपुर | बिजली की आंख मिचौली ने रविवार की दोपहर लोगों को परेशान कर दिया। इसके पहले शनिवार को हुई ओलावृष्टि के बाद शहर सहित आसपास के ग्रामीण इलाकों में शाम को बिजली गुल हो गई। बारिश थमने के बाद बिजली तो आई, लेकिन रातभर कहीं लो वोल्टेज तो कहीं पूरी रात अंधेरे में कट गई। इस संबंध में विद्युत वितरण कंपनी के ईई पीएन सिंह ने बताया कि शनिवार को आई समस्या को रात 2 बजे तक सभी फीडरों की खराबी को सुधार लिया गया था। इसके बाद कहीं भी कोई समस्या नहीं आई है। कुछ इक्का-दुक्का शिकायतें व्यक्तिगत रूप से आई है, वह हमेशा ही आती रहती है।

जानलेवा हमला का मामला दर्ज

जगदलपुर | परपा थाना क्षेत्र के धनियालुर गांव के तरईगुड़ापारा में बलीराम माहरा ने गांव के ही खासपारा के महेश पर जानलेवा हमला किया। बलीराम ने युवक के सिर पर डंडे से कई वार किए। इससे महेश को गंभीर चोटें आई है।

ईस्टर पर गिरजाघरों में विशेष प्रार्थना

जगदलपुर | गुड फ्राइडे के तीसरे दिन रविवार को ईस्टर संडे मनाया गया। इस दौरान मसीही समुदाय के लोग सुबह कब्रिस्तान पहुंचे और अपने परिवार के मृत सदस्यों को श्रद्धांजलि दी। मसीही मान्यता के अनुसार यीशु मसीह की मृत्यु के बाद ईस्टर के दिन कब्र का पत्थर लुढ़का हुआ था और यीशु का शरीर वहां नहीं था। इसी मान्यता पर लोग कब्रिस्तान पहुंचे। 2 अप्रैल को लाल चर्च मैदान में ईस्टर मेला का आयोजन किया जाएगा।

X
अग्नि के सदस्य जगदीश के परिजनों से मिले, फंूका नक्सलवाद का पुतला
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..