--Advertisement--

महिलाओं को बताया जागरूक रहीं तो रुकेंगे बाल अपराध

बीजापुर | किशोर न्याय, बालकों की देखरेख एवं संरक्षण अधिनियम 2015 के तहत बाल संरक्षण तंत्र को मजबूत बनाने जिला पंचायत...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 02:20 AM IST
बीजापुर | किशोर न्याय, बालकों की देखरेख एवं संरक्षण अधिनियम 2015 के तहत बाल संरक्षण तंत्र को मजबूत बनाने जिला पंचायत प्रशिक्षण केंद्र में मंगलवार को ग्राम महिला संगठन को प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण के दौरान जिला बाल संरक्षण अधिकारी राहुल कौशिक ने अनाथ, बेसहारा, परित्यक्त घुमंतू, बाल भिक्षावृत्ति व गुमशुदा बालकों के लिए शिक्षा व संरक्षण के बारे में बताया। विधिक सह परिवीक्षा अधिकारी आनंदमई मल्लिक ने बताया कि ग्राम पंचायत से बाहर काम की तलाश में दूसरे राज्य जाते हुए बच्चों को रोकना है और कोई बाल विवाह, दत्तक ग्रहण, बाल श्रम, लैंगिक अपराधों को रोकने लिए ग्राम सभा स्तर पर सचिव, आंगनबाडी कार्यकर्ता व मितानिन के सहयोग से इसे रोकना चाहिए। इस दौरान आउटरीच वर्कर सत्या लाटकर सहित बडी संख्या में ग्राम संगठन की महिलाएं मौजूद थीं।