--Advertisement--

60 लाख की ठगी के 2 और आरोपी गिरफ्तार

चार दिन पहले पुलिस ने 19 लोगों से नौकरी लगाने के नाम से 60 लाख की ठगी करने वाले तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया था। इस...

Dainik Bhaskar

Apr 01, 2018, 02:00 AM IST
चार दिन पहले पुलिस ने 19 लोगों से नौकरी लगाने के नाम से 60 लाख की ठगी करने वाले तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया था। इस गिरोह में शामिल अन्य लोगों की तलाश की जा रही थी। जिसमें दो आरोपी प्रणय मेश्राम निवासी सुभाष नगर वार्ड 27 पॉवर हाउस नंदिनी नाका व नवीन नाथ आयुर्वेदिक कालोनी रायपुर को पुलिस ने रायपुर से गिरफ्तार किया।

दोनों आरोपियों के जरिए नई बात यह सामने आई कि पहले से पकड़े गए तीनों व फरार पुष्कर साहू निपानी का भी अपना अलग गिरोह है। दोनों आरोपी कभी नारद तो कभी पुष्कर व सूरज विशकर्मा के गिरोह से जुड़कर काम करते थे। नारद अमलेश्वर बटालियन से बर्खास्त होने के बाद ठगी करता था।

नौकरी लगाने ढाई लाख की ठगी

गिरफ्तार आरोपी प्रणय मेश्राम ने बालोद थाने में दर्ज ढाई लाख की एक ठगी में नया रायपुर डेवलपमेंट अथाॅरिटी विभाग में अधिकारी की भूमिका निभाई है। जिसकी शिकायत उमरपोटी नेवईभाठा के देवेन्द्र कुर्रे ने की है। पीड़ित किसान देवेन्द्र ने बताया कि अक्टूबर 2017 में दोस्त रूपेंद्र देवांगन के जरिए प्रणय मेश्राम से पहचान हुई थी। बताया कि वह नया रायपुर डेवलपमेंट अर्थारिटी (एनआरडीए) में अधिकारी है। पुरातत्व विभाग राजनांदगांव में सहायक ग्रेड 3 की भर्ती निकलने की बात कर ढाई लाख रुपए की ठगी की।

नवीन ने कंप्यूटर आॅपरेटर का रोल किया: गिरफ्तार पांचवें आरोपी नवीन नाथ ने पीपरछेड़ी के किसान जालम सिंह साहू की बेटी मेनका को एम्स रायपुर में कंप्यूटर आॅपरेटर पर पद लगाने के लिए पांच लाख की ठगी में भूमिका निभाई है। इस किसान को सूरज व पुष्कर के गिरोह ने शिकार बनाया। किसान ने जमीन बेचकर आरोपियों को पैसा दिया था।

10 लाख ठगे, अकेले नारद पर जुर्म दर्ज

अकेले आरोपी नारद के खिलाफ 10 लाख 40 हजार की ठगी की शिकायत आवेदक डाकेश्वर प्रसाद निषाद (34) निवासी खामतराई जिला रायपुर ने बालोद थाने में की है। डाकेश्वर ने बताया कि खाद्य विभाग में एक लाख 80 हजार में नौकरी लगाने की बात कहने पर फरवरी 2017 में एक किश्त 90 हजार रुपए करहीभदर बस स्टैंड में दिया। दोस्त भागवत साहू धमतरी से तीन लाख रुपए, महेश निषाद गरियाबंद से तीन लाख 50 हजार, महेन्द्र निषाद गरियाबंद से तीन लाख रुपए नारद ने लिया।

X

Recommended

Click to listen..