• Home
  • Chhattisgarh News
  • Balod News
  • ग्रामीण समाज ने लिया निर्णय, चिकनपाॅक्स के चलते जिले के 4 गांवों में नहीं मनाएंगे त्योहार
--Advertisement--

ग्रामीण समाज ने लिया निर्णय, चिकनपाॅक्स के चलते जिले के 4 गांवों में नहीं मनाएंगे त्योहार

चिकनपाॅक्स (छोटी माता) के चलते जिले के चार गांवों में इस बार होली नहीं मनेगी। ग्रामीणों की मान्यता अनुसार होली...

Danik Bhaskar | Mar 02, 2018, 02:00 AM IST
चिकनपाॅक्स (छोटी माता) के चलते जिले के चार गांवों में इस बार होली नहीं मनेगी। ग्रामीणों की मान्यता अनुसार होली नहीं मनाने का निर्णय लिया जा चुका है। इसलिए कई गांवों में होलिकादहन भी नहीं हुआ। भले ही स्वास्थ्य विभाग चिकनपॉक्स से पीड़ित लोगों के स्वास्थ्य में सुधार होने की बात कह रहे हो लेकिन अब भी गांवों में 100 से ज्यादा पीड़ित है। खासकर छेड़िया, बरपारा, कर्रेझर, रमतरा में।

रमतरा के सरपंच नारायण साहू, बरपारा के सरपंच लक्ष्मी पटेल, छेड़िया के ग्रामीण जगन कौशिक, कर्रेझर के सियाराम ने बताया की छोटी माता आने के कारण इस बार गांव में होली नहीं मनाएंगे। अभी माता शांत नहीं हुआ है इसलिए रंग गुलाल नहीं खेलेंगे। इसके अलावा पकवान भी नहीं बनाएंगे। कनेरी, बुंदेली में भी छोटी माता का प्रकोप कम है लेकिन यहां ग्रामीण अपने सुविधानुसार होली मना सकते है। कई गांवों में सोमवार व गुरुवार को पहुंचानी कार्यक्रम हुआ। इसलिए शुक्रवार को होली पर्व मनाया जाएगा।

ग्राम छेड़िया में एक सप्ताह पहले 6 से अधिक चिकनपाॅक्स के मरीज मिले थे। जो अब सामान्य है। वर्तमान में 2 ग्रामीण चिकनपाॅक्स से पीड़ित है। ग्रामीण क्षेत्र में चिकनपाॅक्स को छोटी माता के नाम से जानते हैं। छोटी माता आने से गांव की गलियाें में चहल पहल त्योहार को लेकर नहीं है। बीमारी को चिकित्सा के साथ दैवीय शक्ति मानकर बैगाओं द्वारा झाड़-फूक करने की परंपरा चली आ रही है। ब्लॉक कार्यक्रम प्रबंधक योगेश साहू ने बताया कि ग्राम छेड़िया में अब तक चिकनपाॅक्स के मरीज मिलने की जानकारी नहीं है।

पहली बार होली के पूर्व आई है छोटी माता

ग्राम विकास समिति अध्यक्ष सुकलाल ठाकुर ने बताया कि हर साल होली मनाते आ रहे हैं। लेकिन इस साल पहली बार होली के पहले छोटी माता आई है। बुधवार को रात में ग्रामीणों की बैठक बुलाई गई। जिसमें छोटी माता आने के कारण होली नहीं मनाने का निर्णय लिया गया। ग्राम में होलिका भी नहीं जलाने की मुनादी कराई गई।

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार इन गांवों में फैली है बीमारी

स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार ब्लाॅक के ग्राम अरमरीकला, सोरर, कनेरी, ठेकवाडीह, खर्रा, पुरूर, रमतरा में चिकनपाॅक्स के मरीज मिले है। जहां स्वास्थ्य विभाग चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध करा रहा है। अब स्थित सामान्य होने लगी है।