Hindi News »Chhatisgarh »Balod» मर गई घास

मर गई घास

बालोद|खनिज न्यास निधि का कैसे जिले में दुरपयोग होता है, इसका उदाहरण देखने ज्यादा दूर जाने की जरूरत नहीं है। झलमला...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 01, 2018, 02:05 AM IST

मर गई घास
बालोद|खनिज न्यास निधि का कैसे जिले में दुरपयोग होता है, इसका उदाहरण देखने ज्यादा दूर जाने की जरूरत नहीं है। झलमला में तांदुला नहर किनारे का मनरेगा व डीएमएफ से करीब 42 लाख खर्च कर पिछले साल मार्च में सौंदर्यीकरण हुआ था। अब नहर का किनारा बदहाल नजर आ रहा है। पेंटिंग उखड़ रही हैं। 40 से ज्यादा लाइट चोरी हो चुकी है।

अधिकारी कह रहे हैं हमने नहीं लगाई लाइट

देखना पड़ेगा: जल संसाधन विभाग के ईई एसके टीकम ने कहा कि घास हमने लगाया है, लाइट किसने लगाई, नहीं मालूम। खनिज अधिकारी दीपक मिश्रा ने कहा देखना पड़ेगा, झलमला में क्या-क्या हुआ है। मुझे याद नहीं है।

42 लाख खर्च कर अफसरों ने झलमला में नहर सजाई, बिना सुरक्षा के लगी लाइट हो गई चोरी, अब कोई देखने वाला नहीं

तार भी ले गए चोर: सरपंच आशा पालक ठाकुर ने कहा जल संसाधन विभाग ने पेंटिंग करवा कर लाइट लगाई थी। बिना सुरक्षा के कारण अधिकतर लाइट चोरी हो गई। चोर कई जगह से तार भी काट चुके हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Balod News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: मर गई घास
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Balod

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×