• Home
  • Chhattisgarh News
  • Balod News
  • डिजिटल एक्स-रे मशीन में फॉल्ट दो सप्ताह से बंद, मरीज परेशान
--Advertisement--

डिजिटल एक्स-रे मशीन में फॉल्ट दो सप्ताह से बंद, मरीज परेशान

जिला अस्पताल में पहुंचने वाले लोगों को डिजिटल एक्स-रे मशीन में जांच की सुविधा नहीं मिल पा रही है। इसका कारण यह है कि...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 02:05 AM IST
जिला अस्पताल में पहुंचने वाले लोगों को डिजिटल एक्स-रे मशीन में जांच की सुविधा नहीं मिल पा रही है। इसका कारण यह है कि अब तक एएमसी एनुवल मेंटेनेंस कांटेक्ट (वार्षिक मरम्मत संपर्क) नहीं हो पाना है। जिम्मेदार प्रबंधन सिर्फ आश्वासन दे रहे है कि जल्द इंजीनियर पहुंचकर फाल्ट सुधारंगे फिर मशीन में जांच की सुविधा मिलेगी।

एएमसी होने पर ही रायपुर, दुर्ग ब्रांच से इंजीनियर फाल्ट सुधारने आते हैं। एक साल के लिए मेंटेनेंस के लिए प्रबंधन को निर्धारित राशि जमा करना पड़ता है। मशीन फाल्ट होने की जानकारी है, लेकिन जिम्मेदार अफसर कुछ नहीं कर पा रहे हैं। जिसका खामियाजा लोग भुगत रहे हैं। सरकारी अस्पताल में जांच के लिए 50-100 तक ही चार्ज लिए जाते हैं। लेकिन सुविधा नहीं मिलने से लोगों को प्राइवेट अस्पताल में जाकर 250-300 खर्च करना पड़ रहा है। सीएमएचओ डाॅ. ज्ञानेश चौबे का कहना है कि डिजिटल एक्स-रे क्यों बंद है और क्या स्थिति है, कब तक बनेग, सिविल सर्जन ही बता पाएंगे।

नहीं किया जा रहा मेंटेनेंस

अगले सप्ताह तक बनेगा

जिला अस्पताल सिविल सर्जन डाॅ. एसपी केशरवानी ने बताया कि डिजिटल एक्स-रे मशीन को बनवाने के लिए अगले सप्ताह इंजीनियर को बुलवाएं है। जब इंजीनियर आएंगे तब बन जाएगा।